Home » हाइड्रोजन अर्थव्यवस्था-नई दिल्ली संवाद 2021′ का उद्घाटन संस्करण
Ministry of Petroleum and Natural Gas

हाइड्रोजन अर्थव्यवस्था-नई दिल्ली संवाद 2021′ का उद्घाटन संस्करण

हाइड्रोजन पर गोलमेज सम्मेलन का आयोजन पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय के अंतर्गत एनर्जी फोरम और एफआईपीआई द्वारा 15 अप्रैल, 2021 को किया जा रहा है
पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय के अंतर्गत द एनर्जी फोरम (टीईएफ) और फेडरेशन ऑफ इंडियन पेट्रोलियम इंडस्ट्री (एफ़आईपीआई) 15 अप्रैल, 2021 को वर्चुअल माध्यम से हाइड्रोजन गोलमेज सम्मेलन का आयोजन कर रहा है जिसका विषय है ‘हाइड्रोजन अर्थव्यवस्था भारतीय संवाद-2021’। इसका उद्देश्य उभरते हाइड्रोजन इकोसिस्टम और साझेदारी, सहयोग तथा संगठन की संभावनाओं से जुड़े अवसरों का पता लगाना है।

दुनिया अंतरराष्ट्रीय जलवायु प्रतिबद्धताओं को हासिल करने की दिशा में अग्रसर है और जलवायु परिवर्तन से जुड़ी चुनौतियों का मुकाबला करने के लिए कदम आगे बढ़ा रही है, ऐसे में हाइड्रोजन की महत्ता दिन-प्रतिदिन बढ़ रही है, क्योंकि यह एक मात्र ऐसा पारंपरिक ईंधन का स्रोत है जो ऊर्जा आवश्यकता की खाई को पाट सकता है।

हाइड्रोजन राउंडटेबल अपनी तरह का पहला आयोजन है जिसमें मंत्रिस्तरीय सत्रों का आयोजन होगा। उसके बाद पांच संगोष्ठी सत्र आयोजित किए जाएंगे जिसमें जाने-माने नीति निर्माता, विशेषज्ञ, और उद्योग जगत के प्रमुख दुनिया के अलग-अलग क्षेत्रों से भाग लेंगे। इन गोष्ठियों में नीतिगत रोडमैप तैयार करने से लेकर हाइड्रोजन की मांग और आपूर्ति की मैपिंग की जाएगी।

इस उच्चस्तरीय गोलमेज सम्मेलन का नेतृत्व पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस तथा इस्पात मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान करेंगे और आयोजन में उद्घाटन भाषण देंगे। उनके संबोधन के बाद यूएई के उद्योग और उन्नत प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ. सुल्तान बिन अहमद सुल्तान अल जबेर, ऑस्ट्रेलिया के ऊर्जा तथा उत्सर्जन न्यूनीकरण मंत्री श्री अंगस टेलर, डेनमार्क के जलवायु, ऊर्जा और यूटिलिटीज मंत्री श्री डैन जुर्गेनसेन, अमेरिका के सहायक ऊर्जा मंत्री श्री डेविड एम टर्क भी आयोजन को संबोधित करेंगे। सभी वक्ता नीतिगत खाका तैयार करने पर अपने अनुभव और जानकारी साझा करेंगे और मांग तथा आपूर्ति विषय पर चर्चा करेंगे।

आयोजन में अलग से एक सत्र भारत के हाइड्रोजन मिशन को समर्पित होगा, जिसमें नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा सचिव डॉ. इंदु शेखर चतुर्वेदी मुख्य भाषण देंगे। आयोजन के समापन सत्र की अध्यक्षता पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस सचिव श्री तरुण कपूर करेंगे।

हाइड्रोजन गोलमेज सम्मेलन में 15 अलग-अलग देशों से कुल 25 वक्ता हिस्सा लेंगे जो विभिन्न स्रोतों से हाइड्रोजन की क्षमता और राष्ट्रीय ऊर्जा परिवर्तन के लिए इसके महत्व पर चर्चा करेंगे। गोलमेज सम्मेलन के इस वर्चुअल आयोजन में दुनिया भर से लगभग 3000 प्रतिभागियों के जुड़ने की संभावना है। नीचे दिए गए लिंक द्वारा इस आयोजन से आप भी 15 अप्रैल, 2021 को भारतीय समयानुसार दोपहर 2 बजे जुड़ सकते हैं। www.futureenergyasia.com/hydrogen-economy

इस गोलमेज सम्मेलन का उद्देश्य विश्व के महाद्वीपों पर मौजूद हाइड्रोजन की वर्तमान पारिस्थितिकी की प्रगति को समझना और थिंक टैंक, सरकारों तथा उद्योग जगत के लिए एक ऐसा मंच उपलब्ध कराना है जहां सभी पक्ष एक साथ आ सकें और सस्ती तथा टिकाऊ प्रौद्योगिकी विकसित करने के अभियान से जुड़ सकें।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate »
error: Content is protected !!