Home » गाइडलाइन अनुपालना में किसी स्तर पर नहीं बरतें ढिलाई जिला कलक्टर ने बैठक और वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से की समीक्षा
Covid-19 Rajasthan Gov news

गाइडलाइन अनुपालना में किसी स्तर पर नहीं बरतें ढिलाई जिला कलक्टर ने बैठक और वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से की समीक्षा


बीकानेर, 15 अप्रैल। राज्य सरकार द्वारा 14 अप्रैल को जारी कोविड गाइडलाइन की सख्ती से पालना सुनिश्चित करने के लिए जिला कलक्टर नमित मेहता ने गुरुवार को पुलिस अधीक्षक प्रीति चंद्रा के साथ कलक्ट्रेट सभागार में जॉइंट एन्फोर्समेंट टीमों की बैठक ली। फिर वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि किसी स्तर पर ढिलाई नहीं हो।
मेहता ने कहा कि अगले कुछ दिन कोविड प्रबंधन को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाए तथा एडवाइजरी की सख्ती से पालना की जाए। राज्य सरकार इसे लेकर बेहद गंभीर है, गाइडलाइन पालना में किसी भी स्तर पर लापरवाही सहन नहीं की जाएगी।
मेहता ने कहा कि सभी अधिकारी शुक्रवार से शाम 4 बजे के बाद फील्ड में रहेंगे और कर्फ्यू की सख्ती से पालना करवाना सुनिश्चित करेंगे। धार्मिक स्थलों पर सिर्फ प्रबंधन केे लोग ही मौजूद रहेंगे। दर्शनार्थी पाए जाने पर प्रबंधंन और सम्बंधित व्यक्ति के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। सार्वजनिक पार्कों और भ्रमण पथों पर आवाजाही बंद रहेगी।
मेहता नेे कहा कि किसी भी विवाह समारोह एवं ऐसे आयोजनों का शत प्रतिशत निरीक्षण किया जाए। ऐसे कार्यकमों में 50 से अधिक व्यक्ति पाए जाने पर प्रबंधन के विरुद्ध चालान किया जाए तथा विवाह स्थल को सीज किया जाए।
पुलिस अधीक्षक प्रीति चंद्रा ने कहा कि कोविड गाइडलाइन की सख्ती से पालना हो तथा बाधा पहुंचाने वालों के विरुद्ध महामारी अधिनियम के कार्रवाई की जाए। पुलिस के अधिकारी स्वयं भी कोरोना गाइडलाइन की पालना करें एवं फील्ड में फेस शिल्ड और मास्क का उपयोग करें। उन्होंने अब तक की कार्यवाही को नाकाफी बताया तथा इसमें और अधिक गति लाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिला कलक्टर, पुलिस अधीक्षक सहित वरिष्ठ पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी नियमित सँयुक्त दौरा करेंगे। इसके लिए रुट मार्च तैयार करने के निर्देश दिए। भवन प्रबंधकों के साथ थानावार एडवांस बैठकें करने के निर्देश दिए।
वीडियो कांफ्रेंसिंग से जानी जिले भर की स्थिति
शुक्रवार से जिले भर में लागू होने वाले रात्रिकालीन कर्फ्यू के पहले दिन से ही नियमों की शत-प्रतिशत अनुपालना हो। इसके मद्देनजर जिला कलक्टर ने सभी उपखंड अधिकारियों, पुलिस और ब्लॉक सीएमओ सहित संबंधित अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से स्थिति की समीक्षा की।
मेहता ने कहा कि शराब की दुकानों सहित सभी बाजार, प्रतिष्ठान सायं 5 बजे तक हर स्थिति में बंद हो जाए । किसी भी स्तर पर कोई शिथिलता बर्दाश्त नहीं होगी। नोखा, श्रीडूंगरगढ़ और देशनोक के शहरी क्षेत्र सहित समस्त बड़े कस्बों में कोविड-19 नियमों की पालना करवाने के लिए अतिरिक्त समन्वय रखें। जिले की प्रवेश सीमा पर बनाए गए चेक पोस्ट मुस्तैदी से काम करें। रेलवे स्टेशन पर थर्मल स्क्रीनिंग सतत रूप से की जाए। उन्होंने ब्लॉक स्तर पर ऑक्सीजन मय बेड की उपलब्धता की समीक्षा की।
मेहता ने कहा कि उपखंड अधिकारी ब्लाक सीएमओ के साथ समन्वय करते हुए क्वारेन्टाइन सेंटर चिन्हीकरण करें और इन केन्द्रों में आवश्यकतानुसार कार्मिकों की ड्यूटी लगाई जाए। छोटे क्षेत्रो में पॉजिटिव रोगियों की प्रॉपर कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग हो तथा किसी कीमत पर होम क्वारेन्टाइन की अवहेलना ना हो। आवश्यक दवाइयां और वेक्सीनेशन की उपलब्धता पर नजर रखें।
पुलिस अधीक्षक प्रीति चंद्रा ने कहा पुलिस द्वारा एनफोर्समेंट की कार्यवाही और बढ़ाई जाए। किसी भी स्थान पर माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित करना हो तो, पुलिस अधिकारी मौके का निरीक्षण करते हुए तुरंत प्रभाव से कार्यवाही करें ।
इस दौरान अतिरिक्त कलक्टर (नगर) अरुण प्रकाश शर्मा, अतिरिक्त जिला कलेक्टर (प्रशासन) बलदेव राम धोजक, प्रशिक्षु आईएएस कनिष्क कटारिया, सीईओ जिला परिषद ओमप्रकाश, सीएमएचओ डॉ सुकुमार कश्यप उपस्थित रहे।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate »
error: Content is protected !!