Home » कौशल विकास और आजीविका कोर्सेज को किया लांच:’उच्च शिक्षा विभाग राजस्थान और ट्रिपल आईटी कोटा के संयुक्त तत्वावधान में आज मैसिव ओपन ऑनलाइन कोर्सेज लांच
Rajasthan Gov news

कौशल विकास और आजीविका कोर्सेज को किया लांच:’उच्च शिक्षा विभाग राजस्थान और ट्रिपल आईटी कोटा के संयुक्त तत्वावधान में आज मैसिव ओपन ऑनलाइन कोर्सेज लांच

बीकानेर/जयपुर,22 अप्रैल । उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने गुरूवार को  राजस्थान सरकार के उच्च शिक्षा विभाग तथा ट्रिपल आईटी कोटा के संयुक्त तत्वावधान में राज्य के सभी सरकारी व निजी महाविद्यालयों, इंजीनियरिंग तथा पॉलिटेक्निक महाविद्यालयों के विद्यार्थियों और शिक्षकों के लिए कौशल व दक्षता विकास तथा आजीविका संबंधी विभिन्न कोर्सेज को ऑनलाइन लॉन्च किया।
इस अवसर पर उच्च शिक्षा मंत्री भाटी ने  बताया कि विद्यार्थी अपने नियमित अध्ययन के साथ-साथ इनमें से किसी एक या अधिक कोर्स को एक-साथ कर सकते हैं। ये मैसिव ओपन ऑनलाइन कोर्सेज विद्यार्थियों के समय का सही उपयोग, क्षमता विकास और योग्यता अर्जित करने के श्रेष्ठ विकल्प हैं। इन कोर्सेज में इंग्लिश फॉर पर्सनल एंड प्रोफेशनल डेवलपमेंट, इंट्रोडक्शन टू फोटोग्राफी, वाइल्ड लाइफ नेचुरलिस्ट, बेसिक्स एंटरप्रेन्योरशिप, मशीन लर्निंग और क्राफ्ट आदि प्रमुख हैं।
उच्च शिक्षा मंत्री ने राज्य के दूरदर्शी एवं लोकप्रिय मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत का आभार व्यक्त किया कि उन्होंने बजट घोषणा 2020-21 में स्किल एनहैंसमेंट एंड एंप्लोईबल ट्रेनिंग के कार्यक्रम की घोषणा कर राज्य के विद्यार्थियों को कौशल विकास प्रशिक्षण को शामिल किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री का मानना है कि देश की तरक्की के लिए युवाओं को प्रोत्साहित करने के साथ ही उन्हें भविष्य के लिए योग्य भी बनाना होगा। इसी क्रम में उच्च शिक्षा विभाग राज्य की युवा शक्ति के ज्ञान संवर्धन और क्षमता विकास के लिए सतत प्रयासरत है।
उच्च शिक्षा मंत्री भाटी ने बताया कि हमारी युवा पीढ़ी कुछ नया सीखने के लिए उत्साहित रहती है, परंतु आर्थिक संसाधनों के अभाव में कुछ विद्यार्थी इन अवसरों व कोर्सेज से वंचित रह जाते हैं। ऐसे में ट्रिपल आईटी कोटा जैसे संस्थान से इस प्रकार के कोर्सेज जैसी निःशुल्क योजनाएं विद्यार्थियों के करियर व स्किल डेवलपमेंट में सार्थक साबित होंगी। संस्थान द्वारा आरंभ किया जाने वाला यह इनीशिएटिव एक उदाहरणीय कदम है।
उच्च शिक्षा मंत्री भाटी ने कहा कि राजस्थान का उच्च शिक्षा विभाग देश के अन्य राज्यों से बेहतर काम कर रहा है। हमारे शिक्षकों ने सवा दो लाख से अधिक ई-कन्टेन्ट तैयार कर विद्यार्थियों को ऑनलाइन उपलब्ध करवाने का जो कीर्तिमान स्थापित किया है, वह सराहनीय है। उन्होंने सभी शिक्षकों का आह्वान किया कि राज्य सरकार द्वारा जारी कोरोना एप्रोप्रियेट बिहेवियर करते हुए विद्यार्थी हित में अपना अधिकतम योगदान बनाए रखें। ई- कन्टेन्ट, वीडियोस, नोट्स अथवा ऑनलाइन क्लास आदि अवश्य करें। कोरोना महामारी से जल्द ही हमें छुटकारा मिलेगा और पूर्व की भांति स्थितियां सामान्य होंगी तथा कॉलेजे में नियमित कक्षाएं होंगी। परंतु इस विकट समय में आप द्वारा किया गया कार्य और योगदान सदैव मिसाल बनकर रहेगा।

उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि पिछले दो वर्षों में शिक्षकों को प्रशासनिक, सूचना प्रौद्योगिकी आधारित एवं विषय ज्ञान संवर्धन हेतु अनेक कार्यक्रम उच्च शिक्षा विभाग द्वारा आरंभ किए गए हैं, जिनसे राज्य में उच्च शिक्षा में गुणात्मक विकास को संबल मिलेगा। इस कार्यक्रम में एमएनआईटी जयपुर और ट्रिपल आईटी कोटा के निदेशक डॉ उदय कुमार, कोऑर्डिनेटर डॉ अशोक कुमार व्यास, कॉलेज शिक्षा आयुक्त संदेश नायक, एचडी फाउंडेशन के निदेशक दिनेश कुमार गोयल, कार्यक्रम की समन्वयक डॉ प्रियंका, महाविद्यालयों के प्राचार्यों, शिक्षकों व विद्यार्थियों की भागीदारी रही।

उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि पिछले दो वर्षों में शिक्षकों को प्रशासनिक, सूचना प्रौद्योगिकी आधारित एवं विषय ज्ञान संवर्धन हेतु अनेक कार्यक्रम उच्च शिक्षा विभाग द्वारा आरंभ किए गए हैं, जिनसे राज्य में उच्च शिक्षा में गुणात्मक विकास को संबल मिलेगा। इस कार्यक्रम में एमएनआईटी जयपुर और ट्रिपल आईटी कोटा के निदेशक डॉ उदय कुमार, कोऑर्डिनेटर डॉ अशोक कुमार व्यास, कॉलेज शिक्षा आयुक्त संदेश नायक, एचडी फाउंडेशन के निदेशक दिनेश कुमार गोयल, कार्यक्रम की समन्वयक डॉ प्रियंका, महाविद्यालयों के प्राचार्यों, शिक्षकों व विद्यार्थियों की भागीदारी रही।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate »
error: Content is protected !!