Home » ध्वनि राजस्थान एवं कॉन्क्लेव ऑफ मीडिया कम्युनिकेशन फोर्थ एस्टेट केरल द्वारा ऑनलाइन वेबिनार: विमेन एंड सिक्योरिटी :सम इंपॉर्टेंट कंसर्न्स
Uncategorized

ध्वनि राजस्थान एवं कॉन्क्लेव ऑफ मीडिया कम्युनिकेशन फोर्थ एस्टेट केरल द्वारा ऑनलाइन वेबिनार: विमेन एंड सिक्योरिटी :सम इंपॉर्टेंट कंसर्न्स

सप्तक की इकाई ध्वनि राजस्थान एवं कॉन्क्लेव ऑफ मीडिया कम्युनिकेशन फोर्थ एस्टेट केरल के संयुक्त तत्वावधान में ध्वनि संवाद आयोजित किया गया। ध्वनि संवाद के अंतर्गत आयोजित ऑनलाइन वेबीनार की सीरीज में विमेन एंड सिक्योरिटी :सम इंपॉर्टेंट कंसर्न्स विषय पर चर्चा की गई। इस अवसर पर एडिशनल डीएसपी सुनीता मीणा ने कहा कि महिलाओं और बच्चों को किसी भी परिस्थिति में डरने की आवश्यकता नहीं है ।पुलिस विभाग इस दिशा में जिम्मेवारी से कार्य कर रहा है। कोई भी स्थिति आने पर वे डरे नहीं तुरंत कॉल करें या मैसेज करें निर्भया के माध्यम से उनकी पूरी मदद की जाएगी। उल्लेखनीय है कि निर्भया स्क्वाड महिला पुलिस गश्ती दल एडिशनल एसपी सुनीता मीणा द्वारा चलाए जा रहे अभियान का एक हिस्सा है जिसमें जयपुर की बच्चियों कॉलेज एवं स्कूल की छात्राओं तथा बुजुर्गों की मदद की जाती है ।उन्होंने वेबीनार में पुलिस विभाग की ओर से दिए गए हेल्पलाइन नंबर भी साझा किए।
इस अवसर पर वेबीनार में बोलते हुए वक्ता एडवोकेट आरजू खान ने कहा कि महिलाओं एवं बच्चों की सुरक्षा सरकार की प्रमुख जिम्मेदारी होनी चाहिए। यह दुख का विषय है कि आज भी महिलाओं को अपनी सुरक्षा से संबंधित कानूनों के बारे में पूर्ण जानकारी नहीं है ।जिसके चलते ऐसी चर्चाएं व परिचर्चाये आयोजित करनी पड़ती है ।उन्होंने वेबीनार में शामिल सभी प्रतिभागियों को विश्वास दिलाया कि न्यायालय महिला संबंधी मुद्दे पर सर्वाधिक संवेदनशील है परंतु यह भी आवश्यक है कि आम नागरिक न्यायालयों के प्रति सम्मान की भावना रखें।उन्होंने कहा कि न्याय प्रणाली में कुछ कमियां अवश्य है परंतु कुछ नए नियम व कायदे के साथ मिलकर हम स्वस्थ एवं सुरक्षित समाज की परिकल्पना कर सकते हैं।
इस अवसर पर शालिनी माथुर, चंदा साहनी, कृष्णा गोस्वामी, अपर्णा वाजपेई ने भी अपने विचार रखे। वेबीनार में राजस्थान, केरल ,उड़ीसा, महाराष्ट्र सहित विभिन्न राज्यों के स्कूल एवं कॉलेज छात्र छात्राओं के साथ महिला समूहों ने भी भाग लिया ।
वेबीनार में ध्वनि संस्था की संस्थापक डॉ रुचि गोस्वामी ने संस्था के उद्देश्यों की जानकारी दी तथा बताया कि इन डायलॉग सीरीज के माध्यम से संस्था आगे भी महिलाओं संबंधित मुद्दों पर विशेषज्ञों के साथ चर्चा परिचर्चा करती रहेगी। ध्वनि की एडवाइजर चंदा आसानी एवं कृष्ण गोस्वामी ने आगामी कार्यक्रमों की जानकारी दी। वेबीनार का संचालन रितु चौधरी ने किया

Topics

Translate »
error: Content is protected !!