Home » बीकानेर जिला कलेक्टर की ऑक्सीजन प्रबंधन के क्षेत्र में एक और उपलब्धि:आक्सीजन भंडारण के लिए 20 केएल क्षमता के ऑक्सीजन टैंकर की हुई सफल टेस्टिंग एमसीएच विंग में डायरेक्ट होगी सप्लाई, छीजत पर लगेगा अंकुश
Uncategorized

बीकानेर जिला कलेक्टर की ऑक्सीजन प्रबंधन के क्षेत्र में एक और उपलब्धि:आक्सीजन भंडारण के लिए 20 केएल क्षमता के ऑक्सीजन टैंकर की हुई सफल टेस्टिंग एमसीएच विंग में डायरेक्ट होगी सप्लाई, छीजत पर लगेगा अंकुश


बीकानेर, 25 अप्रैल। कोरोना मरीजों की आक्सीजन आवश्यकताएं पूरी करने के लिए एमसीएच विंग के पास 20 केएल क्षमता का लिक्विड ऑक्सीजन टैैंकर चार्जिंग कर तैयार कर लिया गया है। इस लिक्विड ऑक्सीजन टैंकर की सफल टेस्टिंग रविवार को की गई। जिला कलक्टर की पहल पर जिले ने ऑक्सीजन प्रबंधन के क्षेत्र में एक और उपलब्धि हासिल की है। अब जिले को प्राप्त ऑक्सीजन को इस टैंकर में रखते हुए एमसीएच विंग में सीधे ही सप्लाई की जा सकेगी, जिससे सिलेंडर रिफिलिंग के दौरान होने वाली छीजत और लीकेज की समस्या दूर होगी और ऑक्सीजन की बचत हो सकेगी। साथ ही भंडारण के लिए किसी और फर्म पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा। बाहर से मंगवाई जाने वाली आक्सीजन का अब यहां सीधे ही भंडारण किया जा सकेगा। यह टैंकर अब रेडी टू यूज है। इसे एनएचएम के जरिए प्लांट किया गया था।
पीबीएम अधीक्षक डॉ परमिंदर सिरोही ने कहा कि कोविड मरीजों की जीवन रक्षा सुनिश्चित करने के लिए अस्पताल प्रबंधन द्वार जिला प्रशासन के नेतृत्व में हर संभव प्रयास कर आवश्यक मात्रा में आक्सीजन उपलब्धता व भंडारण सुनिश्चित करने की व्यवस्था की जा रही है।
19.5 केएल आक्सीजन लेकर रविवार को एक और टैंकर पहुंचा बीकानेर
जिले की आवश्यकता और मांग पर रविवार को 19.5 केएल क्षमता का एक और ऑक्सीजन टैंकर बीकानेर पहुंचा। इनमें से 8 केएल आक्सीजन अन्य जिलों के लिए हैं। जबकि शेष द्वारा बीकानेर की आवश्यकता पूरी की जाएगी। गौरतलब है कि शनिवार को 10 केएल क्षमता का एक और ऑक्सीजन टैंकर प्राप्त हुआ था। राज्य सरकार द्वारा इससे पहले भी 12.5-12.5 केएल के दो टैंकर इससे पहले भेजे जा चुके हैं। रविवार को पीबीएम और जिले के अन्य अस्पतालों में शत प्रतिशत मांग के विरुद्ध 1 हजार 419 सिलेंडर दिए गए।

Topics

Translate »
error: Content is protected !!