Home » नहीं हो ऑक्सीजन का अपव्यय, प्रत्येक बैड पर नजर रखें वरिष्ठ चिकित्सक
Covid-19

नहीं हो ऑक्सीजन का अपव्यय, प्रत्येक बैड पर नजर रखें वरिष्ठ चिकित्सक


देर रात एमसीएच विंग के विजिट के बाद जिला कलक्टर ने शुक्रवार सुबह प्रशासनिक अधिकारियों और चिकित्सकों की ली बैठक
बीकानेर, 30 अप्रैल। जिला कलक्टर नमित मेहता ने शुक्रवार सुबह वरिष्ठ चिकित्सकों और प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक लेकर उपलब्ध आॅक्सीजन के समुचित और न्यायसंगत उपयोग के निर्देश दिए। इससे पहले गुरुवार देर रात उन्होंने एमसीएच विंग में ऑक्सीजन सप्लाई व्यवस्था का अवलोकन किया था। बैठक के दौरान उन्होंने कहा कि आॅक्सीजन का अपव्यय किसी भी कीमत पर नहीं हो, इसके लिए प्रत्येक बैड की माॅनिटरिंग की जाए। पीबीएम प्रशासन द्वारा आॅक्सीजन खपत वाले प्रत्येक वार्ड में इसके प्रभावी पर्यवेक्षक के लिए दो-दो वरिष्ठ चिकित्सकों तथा प्रत्येक दस बैड पर एक-एक नर्सिंग कर्मी की राउंड द क्लाॅक ड्यूटी लगाई जाए। मेडिकल काॅलेज प्राचार्य और पीबीएम अधीक्षक खुद विंग का विजिट करते हुए, इसकी नियमित माॅनिटरिंग करें तथा यह सुनिश्चित करें कि आॅक्सीजन का अपव्यय तथा लीकेज नहीं हो। सप्लाई के प्रेशर पर विशेष ध्यान दिया जाए तथा मरीज द्वारा उपयोग नहीं लिए जाने की स्थिति में आॅक्सीजन वाल्व बंद रहे, इस पर विशेष ध्यान दिया जाए। आॅक्सीजन प्लांट पर तैनात पुलिस कर्मियों को प्रत्येक आवक-जावक पर नजर रखने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी भी अगले कुछ दिनों तक पीबीएम में रहकर पूरी व्यवस्था की नियमित माॅनिटरिंग करेंगे। वहीं एमसीएच की आॅक्सीजन सप्लाई इकाई में आॅक्सीजन सिलेण्डर गणना की मॉनिटरिंग के लिए लेखा सेवा के कार्मिकों की ड्यूटी लगाई जाएगी। बैठक में अतिरिक्त कलक्टर (प्रशासन) बलदेव राम धोजक, एडीएम सिटी अरुण प्रकाश शर्मा, नगर निगम आयुक्त एएच गौरी, प्रशिक्षु आइएएस सिद्धार्थ पलानिचामी, मेडिकल काॅलेज प्राचार्य डाॅ. मुकेश आर्य, पीबीएम अधीक्षक डाॅ. गुंजन सोनी, डाॅ. सुरेन्द्र वर्मा आदि मौजूद रहे।

Topics

Translate »
error: Content is protected !!