Home » विधानसभा उपचुनाव-2021:मतगणना कल, निर्वाचन विभाग और स्थानीय प्रशासन ने की ‘सुरक्षित मतगणना‘ की सभी तैयारियां
ELECTION COMMISSION OF INDIA

विधानसभा उपचुनाव-2021:मतगणना कल, निर्वाचन विभाग और स्थानीय प्रशासन ने की ‘सुरक्षित मतगणना‘ की सभी तैयारियां

मतगणना स्थल पर डबल वैक्सीन प्रमाण पत्र या आरटीपीसीआर टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट लाने के बाद दिया जाएगा प्रवेश
जीत के बाद उम्मीदवार नहीं निकाल सकेगा विजयी जुलूस
कोविड संबंधी सावधानी के चलते देर शाम तक मिल सकेंगे परिणाम

जयपुर, 1 मई। प्रदेश में हुए तीन विधानसभाओं के उपचुनाव के लिए रविवार को जिला मुख्यालयों पर कोविड संबंधी सभी दिशा-निर्देशों की पालना के साथ मतगणना करवाई जाएगी। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा नियोजित सभी सामान्य पर्यवेक्षक विधानसभा क्षेत्रों द्वारा मतणगणना स्थल का भी दौरा किया जा चुका है। सामान्य पर्यवेक्षकों के साथ आयोग ने रिजर्व पर्यवेक्षक भी भेजे हैं, वे भी क्षेत्रों में पहुंच चुके हैं।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्री प्रवीण गुप्ता ने बताया कि सभी जिलों में स्थानीय प्रशासन निर्वाचन विभाग व भारत निर्वाचन आयोग से प्राप्त दिशा-निर्देशों के अनुसार सभी तैयारियां कर ली हैं। उन्होंने कहा कि मतगणना स्थल पर उन्हीं लोगों को अनुमति मिल सकेगी, जिनके पास डबल वैक्सीन प्रमाण पत्र होगा या उनके पास आरटीपीसीआर टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट होगी। उन्होंने कहा कि मतगणना के दौरान भी दो मतगणना एजेन्टों के मध्य 1 मतगणना एजेन्ट पीपीई किट में बिठाने की व्यवस्था की है, ताकि किसी भी हाल में संक्रमण का प्रसार ना हो सके।

श्री गुप्ता ने बताया कि मतगणना हॉल में नियुक्त किए कर्मचारी या अधिकारी जैसे मतगणना पर्यवेक्षक, मतगणना सहायक, माईको पर्यवेक्षक तथा उम्मीदवार चुनाव एजेन्ट, मतगणना एजेन्ट एवं इनके साथ-साथ रिटर्निंग अधिकारी, सहायक रिटर्निंग अधिकारी एवं उनकी सहायता के लिए नियुक्त सभी कर्मचारी मास्क, फेस शील्ड एवं ग्लवज पहन कर रहेंगे। उन्होंने बताया कि प्रत्येक 5 राउन्ड के बाद कार्मिक हाथों को सैनिटाइजर से सैनिटाइज करेंगे। उन्होंने बताया कि जो दल ईवीएम को स्ट्रांग रूम से मतगणना हॉल में लाने ले जाने वाले सभी कार्मिकों को मास्क लगाना अनिवार्य होगा।

नतीजे आने में लग सकता है अतिरिक्त समय
श्री गुप्ता ने कहा कि कोविड के चलते करीब 40 प्रतिशत मतदान केंद्रों की संख्या बढ़ाने, सभी ईवीएम मशीनों के मतदान केंद्रों पर लाने से पहले उन्हें सेनेटाइज करने, मतगणना के बाद 5-5 वीवीपैट मशीनों से प्राप्त पर्चियों की रैंडमली गणना करने की वजह से मतगणना में अतिरिक्त समय लग सकता है। उन्होंने कहा कि सुजानगढ़ में 30, सुहाड़ा में 28 और राजसमंद में 25 राउंड में मतगणना करवाई जाएगी। उन्होंने कहा कि पूर्व में दोपहर तक मतगणना के नतीजे आ जाते थे लेकिन इन सब कारणों के साथ कोविड के दिशा-निर्देशों के चलते अब देर शाम तक नतीजे आने की संभावना रहेगी।

प्रवेश द्वार पर थर्मल स्कैनर, सेनेटाइजर, वेंटीलेटर,ऑक्सीजन बैड की भी रहेगी व्यवस्था
मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि मतगणना स्थल के मुख्य प्रवेश द्वार पर अधिक संख्या में व्यक्ति एकत्रित नहीं हों इसलिये मुख्य द्वार पर 2-3 जगह डोर फ्रेम मेटल डिटेक्टर लगाये जाएंगे। मतगणना स्थल के प्रत्येक प्रवेश द्वार पर थर्मल स्केनिंग और सेनेटाइजर उपलब्ध रहेगा। मतगणना स्थल में प्रवेश करने वाले सभी वाहनों का भी सैनिटाइजेशन करवाया जाएगा। उन्होंने बताया कि मतगणना स्थल पर 2 वेंटीलेटर, ऑक्सीजन बैड तथा एम्बुलेंस की भी व्यवस्था की जाएगी ताकि आवश्यकता होने पर उनका तत्काल प्रयोग किया जा सके।

संक्रमण की रोकथाम के लिए काउन्टिंग एजेन्ट्स के बीच पोलिथीन शीट
श्री गुप्ता ने बताया कि मतगणना स्थल पर मुख्य भवन एवं मुख्य भवन के बाहर क्वारंटीन सेन्टर स्थापित किया जायेगा और इन केन्द्रों पर चिकित्सा विभाग के कार्मिकों की नियुक्ति की जायेगी। उन्होंने बताया कि मतगणना कक्ष में मतगणना दल एवं काउन्टिंग एजेन्ट्स को विभाजित करने वाली जाली पर पारदर्शी पोलिथीन शीट लगाई जाएगी ताकि किसी भी प्रकार के संक्रमण की आशंका से बचा जा सके। उन्होंने बताया कि मतगणना स्थल पर दक्ष चिकित्सकों एवं चिकित्सा कर्मियों को आवश्यक दवाओं के साथ नियोजित किया जाएगा। साथ ही मतगणना स्थल पर 2 वेंटीलेटर, ऑक्सीजन बैड तथा एम्बुलेंस की भी व्यवस्था की जाएगी ताकि आवश्यकता होने पर उनका तत्काल प्रयोग किया जा सके।

दो डोज लगवाने वाले या नेगेटिव रिपोर्ट वाले कार्मिकों का ही नियोजन
मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने संबंधित जिला निर्वाचन अधिकारियों ने मतगणना के लिए उन्हीं कार्मिकों, अधिकारियों को नियोजित किया है, जिनको टीके की दोनों डोज लगाई जा चुकी हैं। ऐसे कार्मिकों या अधिकारियों को आरटीपीसीआर टेस्ट से मुक्त रखे जाने किन्तु इस संबंध में अधिकृत अधिकारियों द्वारा जारी दस्तावेजों को देख कर मतगणना स्थल में प्रवेश की अनुमति रहेगी।

गौरतलब है प्रदेश की राजसमंद, सुजानगढ़ और सहाड़ा में हुए विधानसभा उपचुनाव की 2 मई को मतगणना करवाई जाएगी। तीनों विधानसभाओं में 17 अप्रैल को हुए चुनाव में 60.37 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया था।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate »
error: Content is protected !!