Home » सर्वे के दौरान चिन्हित आइएलआइ मरीजों को तत्काल मिले दवाइयां जिला कलक्टर ने वीडियो कांफ्रेंसिंग से की कोविड प्रबंधन की समीक्षा
Uncategorized

सर्वे के दौरान चिन्हित आइएलआइ मरीजों को तत्काल मिले दवाइयां जिला कलक्टर ने वीडियो कांफ्रेंसिंग से की कोविड प्रबंधन की समीक्षा


बीकानेर, 3 मई। जिला कलक्टर नमित मेहता ने सोमवार को वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिले के प्रत्येक उपखण्ड क्षेत्र में कोविड मैनेजमेंट तथा मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना की समीक्षा की।
उन्होंने कहा कि डोर-टू-डोर सर्वे के दौरान चिन्ह्ति इन्फ्लुएंजा लाइक इलनेस (आइएलआइ) के मरीजों को तत्काल दवाईयां मिलें, यह सुनिश्चित किया जाए। जिला और ब्लाॅक स्तर के अधिकारियों के समन्वय के अभाव में दवाइयों की उपलब्धता को लेकर कोई दिक्कत नहीं हो, यह सुनिश्चित किया जाए। प्रत्येक उपखण्ड क्षेत्र में गाइडलाइन के अनुरूप सैम्पल लिए जाएं तथा सैम्पल देने वाला रिपोर्ट आने तक व्यक्ति होम क्वारेंटाइन रहे, इस पर नजर रखी जाए। पाॅजिटिव रिपोर्ट होने की स्थिति में उस घर के सभी सदस्यों को क्वारेंटाइन करने और माइक्रो कंटेंटमेंट क्षेत्रों में पूरी मुस्तैदी रखने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि सीएचसी स्तर पर उपलब्ध आॅक्सीजन के सभी सिलेंडर वर्तमान में भरवा दिए गए हैं। किसी भी कीमत पर इसका अपव्यय नहीं हो तथा जरूरतमंद को समय पर आॅक्सीजन उपलब्ध हो।
जिला कलक्टर ने कहा कि अत्यावश्यक कार्यों के अलावा कोई भी व्यक्ति जिले की सीमाओं में प्रवेश नहीं करे, इसके मद्देनजर सभी चैक पोस्टों को अलर्ट मोड पर रखा जाए। वहीं इन चेक पोस्टों द्वारा जिले में प्रवेश करने वाले प्रत्येक व्यक्ति का रिकाॅर्ड संधारित किया जाए। जिले में प्रवेश करने वाले कोई व्यक्ति यदि नेगेटिव आरटीपीसीआर रिपोर्ट नहीं देता है, तो उसे नियमानुसार होम क्वारेंटाइन किया जाना सुनिश्चित करें। इसमें किसी स्तर पर लापरवाही नहीं हो। उन्होंने ग्राम स्तरीय कमेटियों को मुस्तैद रखने के लिए निर्देशित किया।
रेड अलर्ट पखवाड़े के निर्देशों की हो अक्षरशः पालना
जिला कलक्टर ने कहा कि सोमवार से शुरू हुए रेड अलर्ट जन अनुशासन पखवाड़े की जिलेभर में कड़ाई से पालना करवाई जाए। इसका किसी भी प्रकार से उल्लंघन न हो, इस बात का ध्यान रखा जाए। बेवजह बाहर घूमने तथा मास्क का उपयोग नहीं करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाए। अनुमत श्रेणी के अलावा कोई भी दुकान नहीं खुले। ऐसा होने पर इन्हें सीज किया जाए। उन्होंने कहा कि इसमें किसी प्रकार शिथिलता नहीं बरती जाए।
कम प्रगति पर मिलेंगे नोटिस
जिला कलक्टर ने मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत कम प्रगति वाले ब्लाॅक के विरूद्ध नोटिस जारी करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि इसके बावजूद पंजीकरण गति नहीं बढ़ने की स्थिति में सख्त कार्यवाही की जाए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा योजना के तहत पंजीकरण की तारीख 31 मई तक बढ़ा दी गई है। ऐसे में कोई भी परिवारों का पंजीकरण हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। विभाग द्वारा इसके अनुरूप कार्य किया जाए। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही सहन नहीं की जाएगी।

इस दौरान अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) बलदेव राम धोजक, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ओम प्रकाश, नगर निगम आयुक्त ए.एच. गौरी तथा ब्लाॅक स्तर पर सभी उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार तथा ब्लाॅक मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी सहित सम्बन्धित अधिकारीगण मौजूद थे।

Topics

Translate »
error: Content is protected !!