Home » काबुल स्कूल के बाहर बम विस्फोट के बाद तालिबान ने ईद के कारण किया तीन दिवसीय युद्ध विराम का एलान
Terrorist attack

काबुल स्कूल के बाहर बम विस्फोट के बाद तालिबान ने ईद के कारण किया तीन दिवसीय युद्ध विराम का एलान

काबुल में स्कूल के बाहर जानलेवा बम विस्फोट के 2 दिन बाद तालिबान ने सोमवार को ईद के त्यौहार के लिए तीन दिवसीय युद्ध विराम की घोषणा की है।
तालिबान के प्रवक्ता मोहम्मद नईम ने अपने ट्वीट में सभी मुजाहिदिनों को निर्देश दिया है कि ईद के कारण दुश्मन देश के खिलाफ सभी अभियानों को तुरंत रोक दिया जाए । उन्होंने मुजाहीदीनो से कहा कि ईद उल फितर के दौरान लोगों को शांतिपूर्ण और सुरक्षित माहौल प्रदान किया जाए ताकि वह इस खुशी के मौके को मना सकें ।उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है कि इस्लामी अमीरात के सभी मुजाहीदीनो को निर्देश दिया जाता है कि वह ईद के तीसरे दिन से पहले तक देशभर में दुश्मन के खिलाफ सभी आक्रमक अभियानों को रोक दें। हालांकि उन्होंने मुजाहीदीनो को हिदायत दी कि अगर दुश्मन किसी भी हमले को अंजाम देता है तो अपने और अपने इलाके की सुरक्षा और बचाव के लिए तैयार रहें ।इस दौरान दुश्मनों को मुजाहिदीन नियंत्रित क्षेत्रों में प्रवेश की अनुमति नहीं होनी चाहिए।
उल्लेखनीय है कि उनका यह बयान सैयद उल शहादा हाई स्कूल के पास तीन बम विस्फोटों के बाद आया है ।टोबो न्यूज़ के अनुसार काबुल स्कूल में बम विस्फोट के दौरान इन हमलों में 63 लोग मारे गए थे और 150 से अधिक लोग घायल हुए थे।
उधर अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने रविवार को काबुल के स्कूल पर हुए आतंकवादी हमले की घोर निंदा की है तथा घटना के मद्देनजर राष्ट्रीय शोक दिवस मनाने का आह्वान किया है ।ट्विटर पर अफगानिस्तान के मंत्री सादिक सिद्दीकी ने कहा है कि राष्ट्रपति गनी काबुल आतंकवादी हमले की कड़े शब्दों में निंदा करते हैं तथा यह मानवता के खिलाफ घृणित अपराध है उन्होंने तालिबान से निर्दोष अफगानों की हत्याओं को छोड़ने के लिए आह्वान किया है जबकि अब तक किसी भी समूह ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। तालिबान ने इस घटना में किसी भी तरह की संलिप्तता से भी इनकार किया है ।तालिबान के प्रवक्ता सोहेल शाहीन ने अपने ट्वीट में कहा कि हम इस प्रकार नागरिकों की हत्या की कड़ी निंदा करते हैं । अफगानिस्तान के सेनाध्यक्ष जनरल यासीन जिया ने कहा है कि 1,000 से अधिक तालिबानी आतंकवादी अफगान सुरक्षा बलों के साथ कंधार हेलमंद, फराह, हेरात और अलग प्रांतों में हुए मुठभेड़ों में मारे गए हैं एवं घायल हुए हैं।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate »
error: Content is protected !!