Home » बज्जू क्षेत्र के सघन दौरे पर रहे उच्च शिक्षा मंत्री, उपखण्ड अधिकारियों की बैठक ली, स्वास्थ्य केन्द्रों का किया निरीक्षण
Covid-19 Rajasthan Gov news

बज्जू क्षेत्र के सघन दौरे पर रहे उच्च शिक्षा मंत्री, उपखण्ड अधिकारियों की बैठक ली, स्वास्थ्य केन्द्रों का किया निरीक्षण


बीकानेर, 15 मई। उच्च शिक्षा मंत्री श्री भंवर सिंह भाटी ने शनिवार लगातार दूसरे दिन कोलायत विधानसभा क्षेत्र के सघन दौरे पर रहे। उन्होंने बज्जू में कोविड प्रबंधन की समीक्षा बैठक ली। बज्जू, गोड़ू और गड़ियाला में स्वास्थ्य केन्द्रों तथा कोविड केयर सेंटर का अवलोकन किया। पुलिस थानों में व्यवस्थाएं देखी।
बैठक के दौरान श्री भाटी ने कहा कि सभी अधिकारी, ग्राम स्तरीय कोर कमेटियों तथा जनप्रतिनिधियों के साथ सतत संवाद रखें तथा जन-जन को जागरुक करें। वर्तमान परिस्थितियों में अधिक सतर्क रहने की जरूरत है। इसमें किसी भी स्तर पर कोताही नहीं बरती जाए। उन्होंने दूसरी लहर के दौरान बज्जू में रिपोर्ट हुए पाॅजिटिव तथा वर्तमान में एक्टिव मरीजों की स्थिति तथा इनके इलाज के लिए की जा रही व्यवस्थाओं की समीक्षा की। साथ ही कहा कि ब्लाॅक स्तर पर मरीजों के लिए संसाधनों की उपलब्धता में किसी प्रकार की कमी नहीं आने दी जाएगी। आवश्यकता के अनुसार इसकी सूची बनाई जाए तथा जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ उन्हें भी इससे अवगत करवाया जाए।
उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि डोर-टू-डोर सर्वे को अधिक प्रभावी ढंग से किया जाए। इस दौरान प्रत्येक घर तक पहुंचा जाए और सदी-खांसी और जुकाम के मरीजों को नियमानुसार सभी दवाइयां हाथोहाथ उपलब्ध करवाई जाए। उन्होंने कहा कि महामारी रेड अलर्ट जन अनुशासन लाॅकडाउन की गाइडलाइन की शत-प्रतिशत अनुपालना करवाई जाए। अगले दस-बारह दिनों तक पूर्ण सतर्कता रखते हुए संक्रमण की चेन को तोड़ा जा सकता है। घरों से बेवजह बाहर निकलने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही हो। दूरस्थ क्षेत्रों में जागरुकता की सतत गतिविधियां संचालित की जाएं।
इस दौरान श्री भाटी ने मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के पंजीकरण की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री निःशुल्क दवा और निःशुल्क जांच योजना के बाद मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में प्रारम्भ यह योजना ऐतिहासिक है। पहली बार प्रदेश के सभी परिवारों को पांच लाख रुपये तक के कैशलेश स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ मिल रहा है। सरकार द्वारा 31 मई तक पंजीकरण की अवधि बढ़ाई गई है। यह सुनिश्चित करें कि इस अवधि तक कोई भी परिवार पंजीकरण से वंचित नहीं रहे। उन्होंने नहरबंदी के दौरान अंतिम छोर तक पेयजल उपलब्धता की समीक्षा की तथा भाटियों की ढाणी में टैंकर के माध्यम से पानी पहुंचाने के निर्देश दिए।
उच्च शिक्षा मंत्री ने जलदाय विभाग के अधिशाषी अभियंता को बीकमपुर में खराब फिल्टर को बदलवाने के निर्देश दिए। नहर के नजदीक वाले क्षेत्रों में ट्यूबवेल बनाने तथा रिपेयरेबल हैण्डपम्प तुरंत दुरूस्त करवाने के लिए निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि विद्युत और जलदाय विभाग के अधिकारी आपसी समन्वय रखें तथा ग्रामीणों की समस्याएं प्राथमिकता से निस्तारित करने के प्रयास किए जाएं। विद्युत अभियंता को बज्जू, मिठड़िया विद्युत लाइन अलग से डालने के प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने जल जीवन मिशन की प्रगति की समीक्षा की।
सीएचसी का किया अवलोकन
उच्च शिक्षा मंत्री ने बज्जू के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का अवलोकन किया। यहां स्थानीय नागरिकों द्वारा कोरोना जांच प्रारम्भ करने की मांग की गई। इस पर श्री भाटी की प्रेरणा से पूर्व प्रधान गणपत लाल खींचड़ ने लगभग सवा लाख रुपये की जांच मशीन उपलब्ध करवाने की घोषणा की। उन्होंने कोविड केयर सेंटर का अवलोकन किया। वर्तमान में यहां सात मरीज भर्ती हैं। आवश्यकता के अनुरूप आॅक्सीजन उपलब्ध है। आवश्यकता पड़ने पर दस बैड के इस सेंटर को 25 बैड तक बढ़ाया जा सकता है। इस दौरान बज्जू प्रधान पप्पू देवी, माणकासर सरपंच गणपत सिंह, मोहन लाल गोदारा, भागीरथ तेतरवाल आदि मौजूद रहे।
पल्स आॅक्सीमीटर सहित विभिन्न सामग्री वितरित
इस दौरान उच्च शिक्षा मंत्री ने गोडू और गड़ियाला के स्वास्थ्य केन्द्रों का अवलोकन किया। पुलिस थानों में भी व्यवस्थाएं देखी तथा सभी स्थानों पर प्रभारियों को मास्क, सेनिटाइजर, सोडियम हाइपोक्लोराइड प्रदान किए। बज्जू के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में 4 ऑक्सीजन कन्संट्रेटर व पल्स आॅक्सीमीटर दिए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा सभी आवश्यक संसाधन उपलब्ध करवाए जा रहे हैं, वहीं इसके लिए भामाशाहों और स्वयंसेवी संस्थाओं से भी सतत समन्वय रखा जा रहा है। उन्होंने कहा कि कोविड एप्रोप्रिएट बिहेवियर की पालना करवाना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है।
वैक्सीनेशन के लिए एक साल का मानदेय देगी प्रधान
प्रभारी मंत्री ने बज्जू में वैक्सीनेशन की स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के युवाओं को मुख्यमंत्री श्री गहलोत की पहल पर निःशुल्क वैक्सीनेशन करवाया जा रहा है। कोई भी इससे वंचित नहीं रहे, इस दिशा में कार्य हो। इस दौरान बज्जू प्रधान पप्पू देवी ने एक साल का मानदेय राज्य सरकार द्वारा खुलवाए गए कोविड डेडिकेटेड खाते में जमा करवाने की घोषणा की। इस दौरान उपखण्ड अधिकारी जयपाल सिंह, सीओ पुलिस महावीर प्रसाद शर्मा, तहसीलदार बाबूलाल, अतिरिकत विकास अधिकारी अमर सिंह बीका , ब्लाॅक मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ. अनिल वर्मा, थानाधिकारी नरेश निर्वाण, बज्जू व्यापार मंडल अध्यक्ष राजेन्द्र शर्मा,कच्ची मंडी अध्यक्ष भागीरथ ज्याणी आदि मौजूद रहे।
उच्च शिक्षा मंत्री श्री भंवर सिंह भाटी ने शनिवार को जनसंपर्क विभाग द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में चलाए जाने वाले जागरुकता रथ को बज्जू से रवाना किया। विभाग द्वारा अगले पंद्रह दिनों तक जिले के दस बड़े गांवों में जागरुकता अभियान चलाया जाएगा।
इस दौरान भाटी ने कहा कि आमजन को कोविड एप्रोप्रिएट बिहेवियर के लिए जागरुक किया जाए। लाॅकडाउन गाइडलाइन के अनुसार अनुमत श्रेणी का कोई भी व्यक्ति बिना मास्क बाहर नहीं निकले तथा आवश्यक दूरी रखे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा प्रदेश भर में जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। जनसंपर्क विभाग द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में इसकी शुरूआत की गई है। इसके अच्छे परिणाम आएंगे।

उन्होंने बताया कि जनसंपर्क कार्यालय द्वारा बज्जू के अलावा गजनेर, छत्तरगढ़, नापासर, पूगल, खाजूवाला, लूणकरणसर, कोलायत, पांचू और सैरूणा में अगले पंद्रह दिनों तक रथों के माध्यम से प्रचार-प्रसार किया जाए। इस दौरान उपखण्ड अधिकारी जयपाल सिंह, जनसंपर्क कार्यालय के राजेन्द्र भार्गव मौजूद रहे। विभाग द्वारा इससे पूर्व बीकानेर नगर निगम तथा जिले के सभी नगरीय निकाय क्षेत्रों में भी जागरुकता रथ संचालित किए जा रहे हैं।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate »
error: Content is protected !!