Home » दबाव के उत्तर-उत्तर-पश्चिम दिशा में बढ़ने और 24 मई की सुबह तक चक्रवाती तूफान में बदलने और बाद के 24 घंटों के दौरान अति गंभीर चक्रवाती तूफान में बदलने की संभावना है
MINISTRY OF EARTH & SCIENCE Weather Forecast

दबाव के उत्तर-उत्तर-पश्चिम दिशा में बढ़ने और 24 मई की सुबह तक चक्रवाती तूफान में बदलने और बाद के 24 घंटों के दौरान अति गंभीर चक्रवाती तूफान में बदलने की संभावना है

पूर्वमध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर दबाव – (ओडिशा-पश्चिम बंगाल तटों के लिए चक्रवात पूर्व संभावना)

ताजा सेटेलाइट छवि और समुद्र के उछाल के अवलोकन से संकेत मिलता है कि कल का उच्च दबाव क्षेत्र, जो कल शाम को ही पूर्वमध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर स्पष्ट दिखा था, आज भारतीय समय के अनुसार 1130 बजे अक्षांश 16.1°उत्तर तथा 90.2°पूर्व के निकट पोर्ट ब्लेयर से लगभग 560 किलो मीटर उत्तर-उत्तरपश्चिम (अंडमान द्वीपसमूह) ,पारादीप(ओडिशा) के 590 किलो मीटर पूर्व-दक्षिणपूर्व , बालासोर(ओडिशा) के 690 किलो मीटर दक्षिण-दक्षिणपूर्व तथा दीघा(पश्चिम बंगाल) के 670 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिणपूर्व में बंगाल की खाड़ी के ऊपर दबाव में केंद्रित हो गया।

इसके उत्तर-उत्तरपश्चिम दिशा में बढ़ने और तीव्र होकर 24 मई की सुबह तक चक्रवाती तूफान में बदलने और अगले 24 घंटों के दौरान अति गंभीर चक्रवाती तूफान का रूप लेने की संभावना है। यह उत्तर-उत्तरपश्चिम दिशा में बढ़ता रहेगा तथा तेज होगा और इसके 26 मई की सुबह तक पश्चिम बंगाल के निकट उत्तरपश्चिम बंगाल की खाड़ी तथा उत्तर ओडिशा के तटों पर पहंचने की संभावना है। 26 मई की शाम तक इसके अत्यंत गंभीर चक्रवाती तूफान के रूप में पारादीप और सागर द्वीपसमूह के बीच उत्तरओडिशा-पश्चिम बंगाल को पार करने की संभावना है।

Topics

Translate »
error: Content is protected !!