Home » गंभीर दबाव (‘यास’ का शेष) कमजोर होकर झारखंड के मध्य भागों में दबाव में बदला भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के चक्रवात चेतावनी केंद्र के अनुसारः (आईएमडी):
MINISTRY OF EARTH & SCIENCE

गंभीर दबाव (‘यास’ का शेष) कमजोर होकर झारखंड के मध्य भागों में दबाव में बदला भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के चक्रवात चेतावनी केंद्र के अनुसारः (आईएमडी):

दक्षिण झारखंड के ऊपर बना गंभीर दबाव (अति गंभीर चक्रवाती तूफान ’यास‘ का अवशेष पिछले 6 घंटों में 90 किलो मीटर प्रति घंटे की रफ्तार से लगभग उत्तर की ओर बढ़ा, कमजोर होकर दबाव में बदल गया और आज 27 मई 2021 को अक्षांश 23.2°उत्तर और देशांतर 85.5°पूर्व के निकट और रांची के 20 किलो मीटर पूर्व और जमशेदपुर के 95 किलो मीटर दक्षिणपश्चिम में भारतीय समयानुसार 1130 बजे झारखंड के मध्य भागों में केंद्रित हो गया।

अगले 12 घंटों के दौरान इसके लगभग उत्तर दिशा में बढ़ने और बेहतर चिन्हित कम दबाव वाले क्षेत्र में कमजोर पड़ने की संभावना है।

चेतावनी: (i) वर्षाः झारखंड : 27 मई को अधिकतर स्थानों पर हल्की से सामान्य वर्षा और कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा। .

ओडिशा : 27 मई को अधिकतर स्थानों पर हल्की से सामान्य वर्षा और उत्तर ओडिशा के भीतरी भागों में कुछ स्थानों पर भारी वर्षा।

उत्तर छत्तीसगढ़ : 27 मई को अधिकतर स्थानों पर हल्की से सामान्य वर्षा और कुछ स्थानों पर भारी वर्षा।

पश्चिम बंगाल और सिक्किम : 27 मई को अधिकतर स्थानों पर हल्की से सामान्य वर्षा तथा भारी से बहुत भारी वर्षा।

असम : 27 मई को अधिकतर स्थानों पर हल्की से सामान्य वर्षा तथा कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा।

बिहार : 27 मई को अधिकतर स्थानों पर हल्की से सामान्य वर्षा, कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी तथा अत्यंत भारी वर्षा, 28 मई को कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा।

पूर्व उत्तर प्रदेश : 27 मई को अनेक स्थानों पर सामान्य वर्षा, कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी और अत्यंत भारी वर्षा, 28 मई को कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा।

(ii) हवा की चेतावनी :

12 घंटों के दौरान झारखंड तथा निकटवर्ती ओडिशा, पश्चिम बंगाल, बिहार में 45-55 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलेगी और इसकी गति बढ़ कर 65 किलो मीटर प्रति घंटे की हो जाएगी। इसके बाद धीरे-धीरे कम हो जाएगी।
(iii) अगले 12 घंटों के दौरान झारखंड तथा निकटवर्ती क्षेत्रों के लिए नुकसान की आशंका और कार्रवाई का सुझाव:

फूस के घरों/झोपड़ियों को मामूली क्षति।
बिजली और संचार लाइनों को मामूली नुकसान।
कच्ची सड़कों को मामूली क्षति और पक्की सड़कों को थोड़ा नुकसान।
पेड़ की शाखाएं टूट सकती हैं। केले और पपीते के पेड़ों को नुकसान।
रेल तथा सड़क यातायात का उचित विनियमन।

26 मई, 2021 के 1800 यूटीसी के आधार पर दक्षिण झारखंड और निकटवर्ती उत्तरी ओडिशा के भीतरी भागों पर गहरे दबाव (बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान “यास” के अवशेष) की अनिश्चितता के चलते अवलोकन और पूर्वानुमान ट्रैक।

27 मई, 2021 के 0600 यूटीसी पर आधारित झारखंड के मध्य भागों में दबाव का अवलोकन और पूर्वानुमान ट्रैक (बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान “यास” के अवशेष)

Topics

Translate »
error: Content is protected !!