Home » रविवार तक पूर्ण करें डोर-टू-डोर सर्वे, मंगलवार से शुरू होगा नया चरण जिला कलक्टर ने ली बैठक, दिए आवश्यक दिशा निर्देश
Rajasthan Govt. News

रविवार तक पूर्ण करें डोर-टू-डोर सर्वे, मंगलवार से शुरू होगा नया चरण जिला कलक्टर ने ली बैठक, दिए आवश्यक दिशा निर्देश


बीकानेर, 27 मई। जिला कलक्टर नमित मेहता ने कहा कि डोर टू डोर सर्वे का वर्तमान चरण रविवार तक पूर्ण कर लिया जाए। सर्वे के दौरान बीएलओ के साथ आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहयोगिन भी रहें। मंगलवार से अगले चरण का सर्वे प्रारम्भ किया जाएगा।
जिला कलक्टर ने गुरुवार को कलक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक के दौरान यह निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि शहरी क्षेत्र की जिन शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (यूपीएचसी) क्षेत्रों में सर्वे की गति धीमी है, वहां इस पर विशेष ध्यान दिया जाए। कम्यूनिटी हैल्थ आॅफिसर्स (सीएचओ) को भी सर्वे से जोड़ा जाए। उन्होंने कहा कि कोविड संक्रमण के दौरान सर्वे सतत रूप से किया जाएगा। इस दौरान प्रत्येक घर तक पहुंच सुनिश्चित की जाए। वर्तमान सर्वे को रविवार तक पूर्ण करने के निर्देश दिए। इसके बाद मंगलवार को अगले चरण का सर्वे शुरू कर दिया जाए। उन्होंने कहा कि जिले में पर्याप्त दवाइयां रहें। सर्वे के दौरान आवश्यकता के अनुसार इनका तत्काल वितरण सुनिश्चित किया जाए। सर्वे के दौरान आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहयोगिन भी रहे। संबंधित यूपीएचसी प्रभारी द्वारा इसकी माॅनिटरिंग की जाएगी।
जिला कलक्टर ने वेक्सीनेशन की प्रगति जानी तथा कहा कि किसी भी स्थिति में इसका वेस्टेज नहीं हो, इस पर विशेष ध्यान दिया जाए। उन्होंने कहा कि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग से संबंधित सभी प्रकार की रिर्पोटिंग के लिए एक नोडल अधिकारी नियुक्त करते हुए इसकी सूचना दी जाए। निचले स्तर तक के चिकित्सा संस्थानों के सुदृढ़ीकरण की योजना बनाई जाए, जिससे कोरोना की संभावित तीसरी लहर के विरूद्ध पुख्ता तैयारी हो। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को इसका नियमित रिव्यू करने के निर्देश दिए।
मेहता ने कहा कि ‘मेरा गांव-मेरी जिम्मेदारी’ अभियान के प्रभावी क्रियान्वयन में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की भूमिका सबसे महत्वपूर्ण है। विभाग द्वारा इसके मद्देनजर कार्य किया जाए। मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के पंजीकरण की स्थिति के बारे में जाना। उन्होंने कहा कि जिले में बनने वाले सभी आॅक्सीजन जनरेशन प्लांट एक महीने में तैयार हो जाएं, इसके लिए चिकित्सा विभाग के अधिकारी संबंधित एजेंसी से समन्वय रखें। साथ ही विधायक कोष एवं अन्य मदों से चिकित्सकीय व्यवस्था सुदृढ़ीकरण से संबंधित सभी कार्यों को पूर्ण प्राथमिकता से करवाने के निर्देश दिए।

बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) बलदेव राम धोजक, अतिरिक्त कलक्टर (नगर) अरुण प्रकाश शर्मा, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ओमप्रकाश, नगर निगम आयुक्त एएच गौरी, प्रशिक्षु आईएएस सिद्धार्थ पलनिचामी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. ओ. पी. चाहर, सूचना एवं प्रौद्योगिकी वभ्ज्ञिाग के संयुक्त निदेशक सत्येन्द्र सिंह, वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी डाॅ. बीएल मीणा सहित अन्य अधिकारी मौजूद

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate »
error: Content is protected !!