Home » वाइस एडमिरल संदीप नैथानी, एवीएसएम, वीएसएम ने चीफ ऑफ मैटेरियल का कार्यभार संभाला
MINISTRY OF DEFENCE

वाइस एडमिरल संदीप नैथानी, एवीएसएम, वीएसएम ने चीफ ऑफ मैटेरियल का कार्यभार संभाला

वाइस एडमिरल संदीप नैथानी, एवीएसएम, वीएसएम ने1 जून, 2021 को चीफ ऑफ मैटेरियल का कार्यभार संभाल लिया।

वाइस एडमिरल संदीप नैथानी राष्ट्रीय रक्षा अकादमी, खड़कवसला, पुणे के स्नातक हैं। उन्हें 1 जनवरी, 1985 को भारतीय नौसेना के इलेक्ट्रिकल शाखा में कमीशन प्राप्त हुआ था। उन्होंने आईआईटी, दिल्ली से रडार और संचार इंजीनियरिंग में स्नातकोत्तर किया है। वे डिफेंस सर्विसेस स्टाफ कॉलेज (डीएसएससी) और नेशनल डिफेंस कॉलेज के विशिष्ट पुराछात्र हैं।

वाइस एडमिरल ने नौसेना के अपने शानदार करिअर के दौरान विभिन्न चुनौतीपूर्ण पदों पर काम किया। उनका कार्यकाल साढ़े तीन दशक का रहा है। उन्होंने विमान वाहक पोत विराट पर कई तरह की जिम्मेदारियां निभाईं। उन्होंने मुम्बई और विशाखापत्तनम के नौसेना गोदी में तथा नौसेना मुख्यालय में स्टाफ, कार्मिक और साजो-सामान शाखा में महत्त्वपूर्ण पदों पर काम किया है। वाइस एडमिरल ने आईएनएस वालसुरा के प्रतिशिष्ठ इलेक्ट्रिकल प्रशिक्षण स्थापना की भी कमान संभाली है।

फ्लैग ऑफिसर के तौर पर वाइस एडमिरल ने नौसेना मुख्यालय में असिस्टेंट चीफ ऑफ मैटेरियल (आधुनिकीकरण), चीफ स्टाफ ऑफिसर (तकनीकी), एचक्यू डब्लूएनसी, मुम्बई व विशाखापत्तनम की नौसेना गोदी के वाइस एडमिरल सुपरिंटेंडेंट, मुम्बई में महानिदेशक नौसेना परियोजना, कार्यक्रम निदेशक, एचक्यू एटीवीपी तथा नौसेना मुख्यालय में युद्धपोत उत्पादन व अर्जन नियंत्रक के पदों पर काम किया है।

उनकी शानदार सेवाओं को मद्देनजर रखते हुये वाइस एडमिरल को अति विशिष्ट सेवा पदक और विशिष्ट सेवा पदक से सम्मानित किया गया।

भारतीय नौसेना में प्रमुख स्टाफ अधिकारी और वरिष्ठतम तकनीकी अधिकारी होने के नाते, वाइस एडमिरल को भारतीय नौसेना के हवाले से सभी इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिक, इलेक्ट्रॉनिक, हथियार, सेंसर और सूचना प्रौद्योगिकी सम्बंधी उपकरण और प्रणालियों के रखरखाव, प्रबंधन और उपकरणों के काम करने की क्षमता व सीमा के बारे में जिम्मेदारी सौंपी गई है। उनके पास जहाजों और पनडुब्बियों से सम्बंधित सभी तकनीकी पक्षों और उपकरणों के स्वदेशीकरण की भी जिम्मेदारी है, ताकि प्रमुख नौसैनिक व तकनीकी बुनियादी ढांचा तैयार हो सके।

वाइस एडमिरल संदीप नैथानी की नियुक्ति वाइस एडमिरल एसआर सरमा, पीवीएसएम, एवीएसएम, वीएसएम के स्थान पर हुई है, जो 31 मई, 2021 को सेवानिवृत्त हो गये।

  उनकी शानदार सेवाओं को मद्देनजर रखते हुये वाइस एडमिरल को अति विशिष्ट सेवा पदक और विशिष्ट सेवा पदक से सम्मानित किया गया।

  भारतीय नौसेना में प्रमुख स्टाफ अधिकारी और वरिष्ठतम तकनीकी अधिकारी होने के नाते, वाइस एडमिरल को भारतीय नौसेना के हवाले से सभी इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिक, इलेक्ट्रॉनिक, हथियार, सेंसर और सूचना प्रौद्योगिकी सम्बंधी उपकरण और प्रणालियों के रखरखाव, प्रबंधन और उपकरणों के काम करने की क्षमता व सीमा के बारे में जिम्मेदारी सौंपी गई है। उनके पास जहाजों और पनडुब्बियों से सम्बंधित सभी तकनीकी पक्षों और उपकरणों के स्वदेशीकरण की भी जिम्मेदारी है, ताकि प्रमुख नौसैनिक व तकनीकी बुनियादी ढांचा तैयार हो सके।

  वाइस एडमिरल संदीप नैथानी की नियुक्ति वाइस एडमिरल एसआर सरमा, पीवीएसएम, एवीएसएम, वीएसएम के स्थान पर हुई है, जो 31 मई, 2021 को सेवानिवृत्त हो गये।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate »
error: Content is protected !!