Home » अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने जैसलमेर में कोविड नियंत्रण एवं फ्लैगशिप योजनाओं की समीक्षा कर दिए आवश्यक दिशा-निर्देश
Rajasthan Gov news

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने जैसलमेर में कोविड नियंत्रण एवं फ्लैगशिप योजनाओं की समीक्षा कर दिए आवश्यक दिशा-निर्देश

जयपुर, 2 जून। अल्पसंख्यक मंत्री श्री शाले मोहम्मद ने कोविड नियंत्रण गतिविधियों को प्रभावी बनाए रखने के साथ ही आधारभूत लोक सेवाओं और सामुदायिक जन सुविधाओं की आपूर्ति की निरन्तरता के प्रति भी गंभीर रहने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं और कहा है कि शहर-गांवों में आम जन को किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं होनी चाहिए, इस बात का पूरा-पूरा ध्यान रखा जाए।

श्री शाले मोहम्मद बुधवार को जैसलमेर जिले की भणियाणा पंचायत समिति के सभागार में विभिन्न विभागों के अधिकारियों की बैठक में यह निर्देश दिए। उन्होंने क्षेत्र में कोविड-19 पर नियंत्रण, संक्रमितों के ईलाज एवं इनसे संबंधित तमाम प्रबन्धों के साथ ही फ्लैगशिप योजनाओं की प्रगति तथा ग्रामीण अंचलों में पानी-बिजली सहित विभिन्न जन सुविधाओं की समीक्षा की और सम सामयिक हालातों की जानकारी ली।

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने ग्रीष्मकाल के मद्देनज़र क्षेत्र भर में पेयजल प्रबन्धन को सुदृढ़ बनाए रखने और पेयजल से संबंधित हर प्रकार की समस्या और शिकायत का तत्काल समाधान करने के निर्देश देते हुए कहा कि वर्तमान में भीषण गर्मी को देखते हुए समय पर पेयजल आपूर्ति का दौर नियमित एवं निर्बाध रूप से जारी रहना चाहिए ताकि ग्रामीणों को किसी भी प्रकार की दिक्कतें न हों। इसके साथ ही मवेशियों के लिए भी पानी का उपयुक्त प्रबन्ध बना रहना चाहिए।

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने तेज हवाओं और आंधी से बाधित हुई बिजली लाईनों को जल्द से जल्द दुरस्त कर विद्युत प्रवाह को नियमित कराने के निर्देश दिए।

कोविड संक्रमण के लिए संचालित गतिविधियों की विस्तार से समीक्षा करते हुए शाले मोहम्मद ने कहा कि सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में ऑक्सीजन कांसंट्रेटर व आवश्यक दवाइयों की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धता है, वहीं चिकित्सा सेवाओं को संसाधनों की दृष्टि से भी सुदृढ़ बनाया गया है। उन्होंने चिकित्सकीय प्रबन्धों को हर हमेशा मुस्तैद रखने के निर्देश देते हुए चिकित्सा विभागीय अधिकारियों और कार्मिकों को निर्देशित किया कि क्षेत्र के मरीजों को स्थानीय स्तर पर अच्छे ईलाज की सुविधा मुहैया कराने में पीछे नहीं रहें।

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने महात्मा गांधी नरेगा योजना के तहत अधिक से अधिक ग्रामीणों को रोजगार देने के निर्देश दिए और कहा कि लॉक डाउन एवं अन्य पाबंदियों के चलते कोरोना के मुश्किल दौर से गुजर रहे ग्रामीणों को रोजगार के जरिये सम्बल देना बहुत जरूरी है। इस कार्य में कहीं ढिलाई नहीं बरती जाए और जरूरतमन्दों को अपने क्षेत्र में कार्य स्वीकृत कर रोजगार से लाभान्वित किया जाए। इसके साथ ही पालनहार योजना में भी पात्र बच्चों को लाभान्वित कर उनके भविष्य को सुरक्षित एवं संरक्षित किए जाने में गंभीरता तथा मानवीय संवेदनाओं के साथ काम करने पर जोर दिया।

जन अभियोग निराकरण मंत्री श्री शाले मोहम्मद ने अधिकारियों से कहा कि वे जन समस्याओं के त्वरित निस्तारण के कार्य को प्राथमिकता से करें। इसके लिए विभाग एवं कार्यालय के स्तर पर इस तरह की कार्यशैली विकसित करें कि आम जन की समस्याएं प्राथमिक स्तर पर ही निपट जाएं और ग्रामीणों को अनावश्यक रूप से परेशानी एवं विलम्ब न हो। उन्होंने अधिकारियों से यह भी कहा कि वे सम्पर्क पोर्टल पर दर्ज शिकायतों का समयबद्ध निस्तारण कर प्रदेश में सुशासन के संकल्पों को मजबूती प्रदान करने में भागीदार बनें।

बैठक में विभागों के अधिकारी एवं क्षेत्रीय जन प्रतिनिधि मौजूद थे। विभिन्न विभागों के अधिकारियों ने अपने-अपने विभाग की प्रगति और गतिविधियों पर जानकारी दी।
अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने भणियाणा में 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लोगों के लिए वैक्सीनेशन सेंटर का उद्घाटन किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि इस वैक्सीनेशन सेंटर से क्षेत्रवासियों को सुविधा होगी और आम जन को समय पर वैक्सीन से लाभान्वित किए जाने में मदद मिलेगी।

मंत्री ने क्षेत्रवासियों से समय पर वैक्सीनेशन कराने का आग्रह करते हुए कहा कि क्षेत्र के अधिकाधिक लोगों को वैक्सीनेशन के लिए जागरुक एवं प्रेरित करें ताकि कोरोना संक्रमण पर जल्द से जल्द नियंत्रण पाया जा सके। उन्होंने क्षेत्र के अधिकारियों एवं जन प्रतिनिधियों से कहा कि वैक्सीनेशन के लिए लोक जागरुकता अभियान चलाकर लोगों को प्रेरित करें और वैक्सीनेशन कार्यक्रम को सफल बनाएं।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate »
error: Content is protected !!