Home » राजस्थान के कुछ बिजनेसमैन आतंकियों से जुड़े:गैंगस्टर लॉरेंस की मदद करने वालों पर बीकानेर, भरतपुर समेत 5 जिलों में NIA का छापा
Bikaner update N.I.A NATIONAL INVESTIGATION AGENCY RAJASTHAN POLICE

राजस्थान के कुछ बिजनेसमैन आतंकियों से जुड़े:गैंगस्टर लॉरेंस की मदद करने वालों पर बीकानेर, भरतपुर समेत 5 जिलों में NIA का छापा

राजस्थान के कुछ बिजनेसमैन आतंकियों से जुड़े:गैंगस्टर लॉरेंस की मदद करने वालों पर बीकानेर, भरतपुर समेत 5 जिलों में NIA का छापा

भतरपुर जिले के मेवात इलाके में गांव सांवलेर में NIA ने हथियार तस्करों पर छापा मारा।

राजस्थान में NIA ने आज सुबह 5 बजे से कई जगहों पर एक साथ छापे मारे। लॉरेंस गैंग के गुर्गों और सपोर्ट करने वालों के खिलाफ NIA ने एक्शन लिया है। राजस्थान, पंजाब और हरियाणा में एक साथ छापे मारे गए। NIA की टीम राजस्थान में नागौर, बीकानेर, श्रीगंगानर और हनुमानगढ़, भरतपुर में छापेमारी कर रही है। प्रदेश के कई बड़े व्यापारियों से भी NIA पूछताछ कर सकती है। NIA के पास इनपुट है कि लॉरेंस और बंबीहा गैंग को सपोर्ट करने वाले इन राज्यों में मौजूद हैं। इस गैंग से जुड़े हर व्यक्ति तक पहुंचने के लिए यह छापेमारी हुई है।

सूत्रों की मानें तो राजस्थान में लॉरेंस की मदद करने वाले लोग एजेंसी के रडार पर हैं। इसमें कुछ बड़े बिजनेसमैन और लोकल बदमाश भी शामिल हैं। एजेंसी के पास इस बात का इनपुट है। इस सरप्राइज सर्च के दौरान इन के घरों और अन्य जगहों पर सर्च चल रही है। हथियार और अन्य सामान भी मिल सकता है। हालांकि राजस्थान पुलिस को इसकी जानकारी नहीं है।

मेवात में अवैध हथियार बनाने वालों पर छापा
भरतपुर के मेवात इलाके में मंगलवार को NIA की टीम ने कई गांव में दबिश दी। NIA की टीम के साथ स्थानीय पुलिस अधिकारी भी मौजूद रहे। बताया जा रहा है कि NIA की टीम अवैध हथियार बनाने वालों बदमाशों की तलाश कर रही है।

मेवात इलाके में बड़े पैमाने पर अवैध हथियारों की फैक्ट्रियां हैं, जहां से हथियार बनाकर बड़े-बड़े गैंगस्टर को सप्लाई किए जाते हैं। यह भी माना जा रहा है कि मेवात इलाके के हथियार तस्कर लॉरेंस विश्नोई की गैंग को हथियार सप्लाई करते हैं।

लॉरेंस काफी समय सेवर जेल में भी रहा इसलिए उसके संपर्क में यहां के कुछ बदमाश भी आ गए, जो बड़े पैमाने पर अवैध हथियारों का व्यापार करते थे। अवैध हथियार बनाकर उनकी तस्करी करने वाले बदमाशों को पकड़ने के लिए NIA की टीम हरियाणा बॉर्डर से सटे गांवों में दबिश दे रही है। हालांकि अभी तक NIA की टीम के अधिकारियों ने कुछ नहीं बताया है।

NIA जेलों में बंद बदमाशों से भी कर सकती है पूछताछ
लॉरेंस गैंग और बंबीहा गैंग के राजस्थान की जेलों मे बंद बदमाशों से भी NIA की टीम पूछताछ कर सकती है। एजेंसी के पास जानकारी है कि कई जेलों से बदमाश फोन और अन्य माध्यमों से व्यापारियों को धमका कर पैसा मांगते हैं। जेल में बैठ कर वारदात कराई गई हैं।

कौन है गैंगस्टर लॉरेंस?
बता दें कि लॉरेंस ने पांच राज्यों में गैंग बना रखी है। लॉरेंस का नेटवर्क थाईलैंड, यूके, कनाडा तक फैला है। पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या की साजिश लॉरेंस और उसके साथियों ने रची थी। इतने बड़े नेटवर्क को बनाने की शुरुआत लॉरेंस ने छात्र राजनीति से ही कर दी। युवाओं को अपनी तरफ आकर्षित करने के लिए लॉरेंस खुद को शहीद भगत सिंह की तरह क्रांतिकारी प्रोजेक्ट करता था। लॉरेंस स्टूडेंट ऑर्गेनाइजेशन ऑफ पंजाब यूनिवर्सिटी (SOPU) से जुड़ा था और कई युवाओं को भी इससे जोड़ा।

लॉरेंस की जब अपराध की दुनिया में एंट्री हुई तो उसने जेलों को अपना सेफ हाउस बना लिया। जेल से अपने फोटो और क्रांतिकारी पोस्ट सोशल मीडिया पर डालकर लाखों फॉलोअर्स बना लिए। लॉरेंस युवाओं को लग्जरी लाइफ जीने के सपने दिखाकर गैंग में शामिल करता है।

राजस्थान की जोधपुर, अजमेर और जयपुर जेल में उसने गैंग का पूरा नेटवर्क बना लिया था। युवाओं को अपनी तरफ आकर्षित करने के लिए उसने हिरण शिकार मामले के आरोपी रहे बॉलीवुड एक्टर सलमान खान को मारने की धमकी दी थी। इससे सलमान खान से नाराज कई युवा भी उसके फॉलोअर्स बन गए।

युवाओं को जोड़ने के लिए कई सोशल मीडिया पेज
बिश्नोई खुद को शहीद भगत सिंह का भक्त बताता है। उसने युवाओं को गैंग से जोड़ने के लिए सोशल मीडिया पर अपने कई पेज बनवाए। जेल में वर्कआउट और बॉडी दिखाते हुए कई फोटो और वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड किए। लॉरेंस जेल में अपनी हर एक्टिविटी और गैंग के साथ बदमाशों के साथ फोटो अपलोड करता था। इससे सोशल मीडिया पर लाखों युवा उसे फॉलो करने लगे। फेसबुक पर उसके नाम से करीब 150 पेज बने हुए हैं।

कौन है बंबीहा गैंग?
नागौर में हुए गैंगस्टर संदीप के मर्डर ने लोगों के बीच दहशत पैदा कर दी थी। इस हत्याकांड को किसने अंजाम दिया है, इसको लेकर आधिकारिक तौर पर तो कुछ नहीं कहा जा रहा था, इस बीच बंबीहा ग्रुप ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर इसकी जिम्मेदारी ली थी। बताया जाता है कि यह गैंग आर्मेनिया से ऑपरेट होती है। बंबीहा ग्रुप ने FB पर पोस्ट भी किया है कि हमने मर्डर करवाया।

Topics

Translate »
error: Content is protected !!