Politics

नतीजों से चंद घंटे पहले CM गहलोत मिले राज्यपाल से, मुलाकात पर सियासी हलचल तेज

TIN NETWORK
TIN NETWORK

नतीजों से चंद घंटे पहले CM गहलोत मिले राज्यपाल से, मुलाकात पर सियासी हलचल तेज

राजस्थान विधानसभा चुनाव के नतीजे आने में अब कुछ ही समय बाकी है। इसी बीच अशोक गहलोत राज्यपाल कलराज मिश्र से मिलने पहुंचे। सियासी हलचलों के बीच इन दोनों में हुई मुलाकात से अब राजनीतिक का पारा चढ़ गया है। हाल ही में एग्जिट पोल ने नतीजे भी सभी के सामने आए, जिसमें दोनों पार्टियों में बराबर की टक्कर दिखाई दी।

Ashok gehlot

जयपुर : राजस्थान में विधानसभा चुनाव को लेकर 3 दिसंबर को चुनाव परिणाम सामने आएंगे। इस दौरान गुरुवार शाम एग्जिट पोल के नतीजे आने के बाद सियासी हलचल मची हुई है। इससे पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्यपाल कलराज मिश्र से मुलाकात की है। इसको लेकर गहलोत ने सोशल मीडिया X पर ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। जिसमें बताया कि राज्यपाल कलराज मिश्र से मुलाकात करने के दौरान प्रदेश के कई महत्वपूर्ण विषयों पर सार्थक चर्चा की गई। उधर, राज्यपाल से गहलोत की मुलाकात को लेकर सियासत में चर्चा शुरू हो गई है।

राज्यपाल से मुलाकात को लेकर सियासी हलचल

सीएम अशोक गहलोत के अचानक राज्यपाल कलराज मिश्र से मुलाकात के बाद सियासत में हलचल मची हुई है। सियासी गलियारों में सीएम गहलोत की अचानक राज्यपाल से मुलाकात के पीछे के कारणों को जानने की कोशिश की जा रही है। 2 दिन बाद यानी 3 दिसंबर को चुनाव का परिणाम आएगा। ऐसे में राज्यपाल से मुलाकात को लेकर राजनीतिक एक्सपर्ट इसे समझने की कोशिश कर रहे हैं। गहलोत की मुलाकात के क्या कारण हो सकते हैं। सियासत में मुलाकात के पीछे अक्सर कोई न कोई विशेष कारण देखा जाता है। गहलोत ने फोटो शेयर करते हुए लिखा कि राज्यपाल के साथ राजस्थान के सार्थक मुद्दों को लेकर चर्चा। ऐसे में सियासत में समझा जा रहा है कि आखिर मतदान से से दो दिन पहले गहलोत ने राज्यपाल से किन सार्थक बिंदुओं पर चर्चा की होगी?

एग्जिट पोल के नतीजे के बाद राजस्थान में हलचल तेज

राजस्थान में 25 नवंबर को विधानसभा चुनाव संपन्न हुए। जिनकी मतगणना 3 दिसंबर को होगी। इस बीच तेलंगाना में 30 नवंबर को मतदान के बाद गुरुवार शाम एग्जिट पोल के नतीजे आए। इन नतीजों के बाद राजस्थान की सियासत में जमकर हलचल मची हुई है। अधिकतर एग्जिट पोल में बीजेपी को बढ़त बताई गई। वहीं कुछ एग्जिट पोल में कांटे के टक्कर बताते हुए कांग्रेस को आगे बताया है। इस बार एग्जिट पोल में निर्दलीय उम्मीदवारों की भूमिका को भी महत्वपूर्ण बताया जा रहा है।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!