National News

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या के बाद राजस्थान में विरोध:रोडवेज बस पर पथराव, रास्ता जाम किया, राजसमंद में बंद करवाए बाजार

TIN NETWORK
TIN NETWORK

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या के बाद राजस्थान में विरोध:रोडवेज बस पर पथराव, रास्ता जाम किया, राजसमंद में बंद करवाए बाजार

जयपुर में मंगलवार को श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या के बाद प्रदेशभर में विरोध शुरू हो गया है। चूरू में समर्थकों ने बस पर पथराव किया और रास्ता भी जाम किया। जयपुर में भी मेट्रो मास हॉस्पिटल के बाहर रास्ता रोका गया।

वहीं राजसमंद के कुंभलगढ़ में भी बाजार बंद करवाया गया। बस पर पथराव के बाद वहां अफरा-तफरी मच गई। सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और मामला शांत करवाने का प्रयास किया।

दरअसल, जयपुर के श्याम नगर स्थित उनके आवास पर दिनदहाड़े 3 बदमाशों ने गोगामेड़ी पर गोलियां चलाईं, फिर भाग निकले। गोगामेड़ी को मेट्रो मास हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

गुस्साए युवाओं ने सादुलपुर से सिधमुख मुख्य सड़क मार्ग के बीच पत्थर रख रास्ता रोक दिया है।

गुस्साए युवाओं ने सादुलपुर से सिधमुख मुख्य सड़क मार्ग के बीच पत्थर रख रास्ता रोक दिया है।

चूरू के सादुलपुर में सड़क को किया जाम, चैनपुरा में पथराव

गोगामेड़ी के निधन के बाद चूरू में लोगों ने शाम 5 बजे विरोध शुरू कर दिया है। चूरू जिले के सादुलपुर में लोग सड़कों पर आ गए हैं। गांव चैनपुरा बड़ा में सादुलपुर से सिधमुख मुख्य सड़क मार्ग को जाम कर दिया है। इसके साथ ही कुछ लोगों ने हनुमानगढ़ डिपो की सादुलपुर आ रही राजस्थान रोड़वेज की बस पर पथराव भी किया।

जब पथराव हुआ तब बस में करीब 25-30 सवारियां थीं, जो अपना सामान बस में ही छोड़ कर भाग गईं। सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने लोगों को शांत करवाने की कोशिश की, लेकिन अभी तक रास्ता खुल नहीं पाया है।

जयपुर में रास्ता जाम, राजसमंद के कुंभलगढ़ में भी बंद हुए बाजार

गोगामेड़ी की हत्या के बड़ी संख्या में समर्थक जयपुर के मानसरोवर स्थित मेट्रो मास हॉस्पिटल के बाहर शामिल हुए। इसके बाद वहां रास्ता जाम किया और टायर जलाए गए। पुलिस की ओर से समझाइश का भी प्रयास किया गया, लेकिन बात नहीं बनी। देर शम तक समर्थक हॉस्पिटल के बाहर जुटे रहे और विरोध में नारेबाजी करते रहे।

सुखदेव सिंह गोगामेडी की हत्या के चलते कुंभलगढ़ में भी व्यापार मंडल ने भी अपनी दुकानें बंद कर विरोध जताया है। साथ ही अपराधियों को पकड़ने की मांग की है। भाजपा के युवा मोर्चा अध्यक्ष अल्पेश असावा ने बताया कि नवनिर्वाचित विधायक सुरेंद्र सिंह राठौड़ ने धन्यवाद यात्रा के तहत विधानसभा क्षेत्र में चल रहे दौरे तुरन्त प्रभाव से रद्द किए हैं।

फोटो जयपुर के मानसरोवर स्थित मेट्रो मास हॉस्पिटल के पास का है, जहां समर्थकों ने टायर जला रोड जाम किया था।

फोटो जयपुर के मानसरोवर स्थित मेट्रो मास हॉस्पिटल के पास का है, जहां समर्थकों ने टायर जला रोड जाम किया था।

इस घटना के बाद गोगामेड़ी के समर्थक शाम करीब 5 बजे कुंभलगढ़ के उदयपुर बस स्टैंड पहुंचे और नारेबाजी करने लगे। इसके बाद कुंभलगढ़ के बाजार को भी बंद करवाते हुए विरोध प्रदर्शन किया। सुखदेव सिंह का कुंभलगढ़ से पुराना नाता भी रहा है, वह हर साल महाराणा प्रताप जयंती पर यहां होने वाले कार्यक्रम में भाग लेने के लिए आते हैं।

इसी तरह शाम करीब 5:30 बजे अलवर शहर के नंगली सर्किल पर भी संगठन के कार्यकर्ताओं ने रोड जाम किया। उस दौरान कार्यकर्ताओं ने कहा- मर्डर करने वालों को एनकाउंटर नहीं किया तो पूरे राजस्थान में विरोध बढ़ेगा। वे बोले- यदि 48 घंटे में एक्शन नहीं होता है तो पूरे राजस्थान में जाम लगा दिया जाएगा।

कुंभलगढ़ में भी व्यापार मंडल ने भी अपनी दुकानें बंद कर विरोध जताया है।

कुंभलगढ़ में भी व्यापार मंडल ने भी अपनी दुकानें बंद कर विरोध जताया है।

फोटो जैसलमेर के किशन सिंह भाटी बस स्टैंड का है। यहां शाम करीब साढ़े 6 बजे बाद समर्थकों ने टायर जला विरोध प्रदर्शन किया। हालांकि बाद में रास्ता खोल दिया गया था।

फोटो जैसलमेर के किशन सिंह भाटी बस स्टैंड का है। यहां शाम करीब साढ़े 6 बजे बाद समर्थकों ने टायर जला विरोध प्रदर्शन किया। हालांकि बाद में रास्ता खोल दिया गया था।

बदमाशों ने घर में घुस कर मारी गोली
बता दें कि, मंगलवार को राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की जयपुर में उनके घर में घुसकर गोली मारकर हत्या कर दी गई। मंगलवार दिनदहाड़े 3 बदमाशों ने गोगामेड़ी पर गोलियां चलाईं, फिर भाग निकले। गोगामेड़ी को मेट्रो मास हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

गोगामेड़ी के साथ घटना के दौरान मौजूद गार्ड अजीत सिंह गोली लगने से गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। बदमाशों की ओर से की गई फायरिंग में उनको गोगामेड़ी के घर ले जाने वाले युवक की भी मौत हो गई। गैंगस्टर रोहित गोदारा ने हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर की।

गोगामेड़ी कौन थे?
सुखदेव सिंह गोगामेड़ी राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष थे। इससे पहले लंबे समय तक राष्ट्रीय करणी सेना से जुड़े रहे थे। विवाद के बाद राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के नाम से अलग संगठन बना लिया था।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!