INTERNATIONAL NEWS

हमास ने हथियार की तरह किया रेप का इस्तेमाल:UN में चश्मदीद बोले- परिवार जिंदा जलाए, औरतों के प्राइवेट पार्ट्स में गोलियों के निशान मिले

TIN NETWORK
TIN NETWORK

हमास ने हथियार की तरह किया रेप का इस्तेमाल:UN में चश्मदीद बोले- परिवार जिंदा जलाए, औरतों के प्राइवेट पार्ट्स में गोलियों के निशान मिले

UN में इजराइल ने ये वीडियो चलाया जिसमें 7 अक्टूबर के हमले के चश्मदीद हमास पर यौन हिंसा के आरोप लगा रहे हैं। - Dainik Bhaskar

UN में इजराइल ने ये वीडियो चलाया जिसमें 7 अक्टूबर के हमले के चश्मदीद हमास पर यौन हिंसा के आरोप लगा रहे हैं।

इजराइल पर 7 अक्टूबर को हुए हमास के हमले के करीब 2 महीने बाद UN में सोमवार को एक स्पेशल सेशन हुआ। इसमें इजराइल ने हमास पर इजराइली महिलाओं के खिलाफ यौन अपराध के आरोप लगाए।

UN में इजराइल के राजदूत गिलाड एर्दान ने कहा- 7 अक्टूबर को इजराइल ने सेकेंड वर्ल्ड वॉर के बाद का सबसे बड़ा जनसंहार देखा। इजराइलियों पर की गई ज्यादतियां ISIS और हिटलर के किए अत्याचारों से भी बुरी थी। उन्होंने कहा- हमास ने परिवारों को जिंदा जलाया, माता-पिता के सामने बच्चों के सिर कलम किए।

उनके अपराध यहीं नहीं रुके। हमास ने रेप और यौन हिंसा का इस्तेमाल हथियारों की तरह किया। हैरानी की बात ये है कि इन ज्यादतियों पर अंतर्राष्ट्रीय संस्थाएं चुप रहीं। मैं साढ़े तीन साल से UN में इजराइल का प्रतिनिधित्व कर रहा हूं, लेकिन मैनें कभी UN की एजेंसियों का ऐसा व्यवहार नहीं देखा।

इजराइल ने सबूत के तौर पर म्यूजिक फेस्ट में बचने वाले लोगों की गवाही के वीडियो चलाए। इनमें एक गवाह ने कहा कि हमास ने महिलओं के निजी अंगों पर गोलियां चलाईं। उनकी चेस्ट और जेनिटल एरिया में गोलियों के निशान मिले हैं।

हालांकि, इजराइली महिलाओं से रेप के आरोपों को हमास ने सिरे से खारिज किया है। हमास की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि ये यहूदियों की फैलाई झूठ है, ताकि वो फिलिस्तीनी आंदोलन को बदनाम कर सकें।

नॉर्थ गाजा में सोमवार को इजराइली सेना और हमास लड़ाकों के बीच मुठभेड़ हुई। इसके बाद IDF ने हमास के कई ठिकानों पर एयरस्ट्राइक भी की।

नॉर्थ गाजा में सोमवार को इजराइली सेना और हमास लड़ाकों के बीच मुठभेड़ हुई। इसके बाद IDF ने हमास के कई ठिकानों पर एयरस्ट्राइक भी की।

हमास के 5 हजार लड़ाके ढेर

हमास के साथ जंग के बीच इजराइली सेना गाजा में सुरंगों के अंदर भूमध्य सागर का पानी छोड़ने की तैयारी कर रही है। अमेरिकी अखबार वॉल स्ट्रीट जर्नल की रिपोर्ट के मुताबिक, इसके लिए गाजा के अल-शाती अस्पताल के पास 5 बड़े वॉटर पम्प लगाए गए हैं।

इसके जरिए हर घंटे सुरंगों में हजारों क्यूबिक मीटर पानी छोड़ा जाएगा। इजराइल ने अमेरिका को भी नवंबर में इसकी जानकारी दी थी। हालांकि, ऐसा कब होगा, इसकी कोई तारीख अब तक तय नहीं की गई है।

दूसरी तरफ, इजराइल ने साउथ गाजा के खान यूनिस और दूसरे इलाकों पर हमले तेज कर दिए हैं। इजराइली सेना IDF ने कहा है कि 7 दिन के सीजफायर के दौरान उनके सैनिकों ने जंग के लिए तैयारी की। वो नॉर्थ के बाद अब साउथ गाजा में भी हमास को मिटाने के लिए तैयार हैं।

टैंकों के साथ साउथ गाजा में ऑपरेशन चला रही IDF ने गाजा पट्टी के नॉर्थ-साउथ हाईवे को जंग का मैदान घोषित कर दिया। इजराइल ने सोमवार को गाजा में मौजूद हमास की कोर्ट जस्टिस पैलेस पर कब्जा कर इसे तबाह कर दिया। सेना ने दावा किया है कि जंग शुरू होने के बाद से गाजा में करीब 15 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई है। इनमें करीब 5 हजार हमास के लड़ाके थे।

सैटेलाइट इमेज में साउथ गाजा के दीर अल बालाह में इजराइली सेना के टैंक नजर आए…

इजराइली इंटेलिजेंस को पहले ही मिली थी हमास हमले से जुड़ी चेतावनी
हिब्रू मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ​​​इजराइली सेना और इंटेलिजेंस को 7 अक्टूबर के हमले से पहले इस बात की जानकारी थी कि हमास एक बड़े अटैक की प्लानिंग कर रहा है। हमास याह्या सिनवार ने एक टीवी शो की तारीफ करते वक्त कहा था कि वो इस तरह के हमले की तैयारी कर रहे हैं। इसके बावजूद इजराइली इंटेलिजेंस सर्विस ने हमास को कम आंकते हुए इन चेतावनी को गंभीरता से नहीं लिया।

इजराइल के चैनल 12 न्यूज ने अपनी एक रिपोर्ट में बताया था कि जुलाई 2022 में हमास एक बड़े हमले की तैयारी कर रहा था। इंटेलिजेंस अफसरों की एक प्रेजेंटेशन में हमास के 20 स्क्वॉड साउथ इजराइल पर हमला करते नजर आए थे। रिपोर्ट में कहा गया था कि हमास अपने साथ इंजिनियरों को भी लेकर आएगा जो बॉर्डर फेंसिंग काटने में उसकी मदद करेंगे।

घायल फिलिस्तीनियों को एम्बुलेंस से खान यूनिस के एक अस्पताल पहुंचाया गया।

घायल फिलिस्तीनियों को एम्बुलेंस से खान यूनिस के एक अस्पताल पहुंचाया गया।

गन लाइसेंस के नियम सरल किए
7 अक्टूबर को हमास आतंकियों के हमले में 1200 इजराइली नागरिक मारे गए थे। इसके बाद से इजराइल में गन लाइसेंस की मांग कई गुना बढ़ गई है। नेशनल सिक्योरिटी मिनिस्टर इतमार बेन गिविर के मुताबिक- 7 अक्टूबर के बाद 2 लाख 60 हजार इजराइली नागरिकों ने गन लाइसेंस के लिए अप्लाई किया है।

7 अक्टूबर के बाद इजराइल सरकार ने बेन गिविर की सलाह पर गन लाइसेंस के लिए अप्लाई करने के नियम सरल किए। अब लाइसेंस जारी करने के लिए नया पूल भी तैयार किया गया है।

गिविर ने कहा- मेरी कोशिश है कि ज्यादा से ज्यादा इजराइलियों के पास हिफाजत के लिए हथियार हों। सरकार बहुत तेजी से काम कर रही है और हम हर रोज करीब 3 हजार लोगों को गन लाइसेंस अप्रूवल दे रहे हैं। इसके पहले ये 100 से भी कम होता था।

तस्वीर इजराइल की सिक्योरिटी एजेंसी शिन बेत के चीफ रोनेन बार की है। (फाइल)

तस्वीर इजराइल की सिक्योरिटी एजेंसी शिन बेत के चीफ रोनेन बार की है। (फाइल)

शिन बेत नया ऑपरेशन लॉन्च करेगी
इजराइल की सिक्योरिटी एजेंसी शिन बेत के चीफ रोनेन बार ने अहम बयान दिया है। बार के मुताबिक- सरकार ने हमें एक टारगेट दिया है और हम तेजी से उस पर काम कर रहे हैं। अगर हमास के नेता कतर और तुर्किये में छिपे होंगे तो उन्हें वहां भी मार गिराया जाएगा। 1972 में म्यूनिख ओलिंपिक के दौरान हमारे 11 एथलीट्स को मार दिया गया था। इसके बाद हमने क्या किया था? यह सबके सामने है। हम आगे भी यही कर सकते हैं।

7 अक्टूबर को हमास के हमले के बाद जंग शुरू हुई और इसके बाद यह पहली बार है जब शिन बेत ने कोई बयान दिया हो। उन्होंने यह बातें चैनल 11 को दिए इंटरव्यू में कहीं। 22 नवंबर को इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने खुफिया एजेंसी मोसाद को आदेश दिया था कि वो हमास नेताओं के खिलाफ एक्शन ले और इसके लिए उसे फ्री हैंड दिया था।

इजराइल और गाजा का एयर सर्विलांस करेगा ब्रिटेन
ब्रिटेन की डिफेंस मिनिस्ट्री ने रविवार को कहा कि वो इजराइल और गाजा के जमीनी हालात का पता लगाने जा रहा है। इसके तहत ब्रिटेन की रॉयल एयरफोर्स के सर्विलांस एयरक्राफ्ट इस्तेमाल किए जाएंगे।
बयान के मुताबिक ये सभी ड्रोन होंगे और इनका कोई कोई जंगी इस्तेमाल नहीं किया जाएगा। इस सर्विलांस का एक मकसद हमास की कैद में मौजूद बंधकों का पता लगाना भी है।

तस्वीरों में गाजा के हालात…

खान यूनिस में घायल बच्चों को इलाज के लिए नासेर अस्पताल लाया गया।

खान यूनिस में घायल बच्चों को इलाज के लिए नासेर अस्पताल लाया गया।

बेड की कमी के बीच बच्चों को जमीन पर बैठाकर उनका इलाज करते डॉक्टर।

बेड की कमी के बीच बच्चों को जमीन पर बैठाकर उनका इलाज करते डॉक्टर।

नॉर्थ राफा में इजराइली हमलों के बीच कई इमारतें मलबे में तब्दील हो गईं।

नॉर्थ राफा में इजराइली हमलों के बीच कई इमारतें मलबे में तब्दील हो गईं।

तस्वीर खान यूनिस की है, जहां फिलिस्तीनी एक घायल व्यक्ति को रेस्क्यू करते नजर आ रहे हैं।

तस्वीर खान यूनिस की है, जहां फिलिस्तीनी एक घायल व्यक्ति को रेस्क्यू करते नजर आ रहे हैं।

लाल सागर में इजराइली जहाजों पर बैलिस्टिक मिसाइलों से हमला
न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक रविवार को यमन के हूती विद्रोहियों ने लाल सागर में 3 जहाजों पर बैलिस्टिक मिसाइलों से हमला किया। इनमें से 2 इजराइल के जहाज बताए जा रहे हैं। इनका नाम यूनिटी एक्सपलोरेर और नंबर नाइन है। इसके अलावा यमन के होदायदा पोर्ट से 101 किलोमीटर दूर एक शिप कंटेनर को भी नुकसान पहुंचने की खबर है।

वहीं, अमेरिका ने कहा है कि उसने लाल सागर में अपने युद्धपोत पर अटैक करने जा रहे 3 ड्रोन्स को मार गिराया। एक अमेरिकी अधिकारी ने नाम न बताने की शर्त पर कहा कि हूती विद्रोहियों की तरफ से किए गए हमले लगभग 5 घंटे तक जारी रहे। ये सुबह 10 बजे शुरू हुए थे। पिछले महीने हूती विद्रोहियों ने एक जहाज को हाइजैक कर लिया था, ये तुर्किये से भारत आ रहा था। हूतियों का कहना है कि वो इजराइली जहाजों पर हमले जारी रखेंगे।

लाल सागर में जहाजों पर हमले करने के बाद हूती विद्रोहियों ने बयान जारी कर इसकी जिम्मेदारी ली।

लाल सागर में जहाजों पर हमले करने के बाद हूती विद्रोहियों ने बयान जारी कर इसकी जिम्मेदारी ली।

जंग शुरू होने से अब तक इजराइल ने गाजा में 10 हजार हवाई हमले किए हैं। ये जानकारी इजराइल की डिफेंस फोर्सेस ने दी है। वहीं हमास ने कहा है कि गाजा में मरने वालों का आंकड़ा 15,500 पार कर चुका है। वहीं, IDF ने कहा है कि उसने हमास के एक बटालियन कमांडर हाथम खोआजारी को ढेर कर दिया है। उसने 7 अक्टूबर को इजराइल पर हमला करने वाली एक बटालियन को लीड किया था।

‘अल-अक्सा फ्लड’ के खिलाफ इजराइल का ऑपरेशन ‘सोर्ड्स ऑफ आयरन’
हमास ने इजराइल पर 7 अक्टूबर को हमला किया था। उसने इजराइल के खिलाफ अपने ऑपरेशन को ‘अल-अक्सा फ्लड’ नाम दिया। इसके जवाब में इजराइल की सेना ने हमास के खिलाफ ‘सोर्ड्स ऑफ आयरन’ ऑपरेशन शुरू किया। हमास के सैन्य कमांडर मोहम्मद दीफ ने कहा था- ये हमला यरुशलम में अल-अक्सा मस्जिद को इजराइल की तरफ से अपवित्र करने का बदला है। दरअसल, इजराइली पुलिस ने अप्रैल 2023 में अल-अक्सा मस्जिद में ग्रेनेड फेंके थे।

वहीं, हमास के प्रवक्ता गाजी हामद ने अल जजीरा से कहा था- ये कार्रवाई उन अरब देशों को हमारा जवाब है, जो इजराइल के साथ करीबी बढ़ा रहे हैं। हाल ही के दिनों में मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया था कि अमेरिका की पहल पर सऊदी अरब इजराइल को देश के तौर पर मान्यता दे सकता है।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!