Politics

छत्तीसगढ़ के CM फेस का ऐलान कल हो सकता है:रायपुर में BJP के पर्यवेक्षक विधायकों से करेंगे रायशुमारी, जेपी नड्डा से मिली रेणुका सिंह

TIN NETWORK
TIN NETWORK

छत्तीसगढ़ के CM फेस का ऐलान कल हो सकता है:रायपुर में BJP के पर्यवेक्षक विधायकों से करेंगे रायशुमारी, जेपी नड्डा से मिली रेणुका सिंह

छत्तीसगढ़ में सीएम फेस का ऐलान शुक्रवार को हो सकता है। बीजेपी शुक्रवार को पर्यवेक्षकों की घोषणा कर सकती है। रायपुर में प्रदेश प्रभारी ओम माथुर और नितिन नबीन के साथ पर्यवेक्षक विधायकों से रायशुमारी करेंगे। माना जा रहा है कि इसके बाद सीएम फेस का ऐलान किया जा सकता है।

गुरवार को केंद्रीय राज्य मंत्री रेणुका सिंह ने दिल्ली में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की। नड्डा के निवास पर काफी देर तक दोनों के बीच चर्चा हुई। रेणुका सिंह ने भरतपुर-सोनहत सीट से विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज की हैं। मुख्यमंत्री पद की रेस में उनका नाम भी चल रहा है।

दिल्ली में रेणुका सिंह ने भाजपा के राष्ट्रयी अध्यक्ष जेपी नड्डा के निवास जाकर उनसे मुलाकात की।

दिल्ली में रेणुका सिंह ने भाजपा के राष्ट्रयी अध्यक्ष जेपी नड्डा के निवास जाकर उनसे मुलाकात की।

छत्तीसगढ़ समेत तीन राज्यों के मुख्यमंत्री को लेकर दिल्ली में गुरुवार को बीजेपी संसदीय दल की बैठक हुई है। बैठक शुरू होते ही पीएम मोदी को इस जीत के लिए सम्मानित किया गया। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि ये मेरी नहीं, पूरी टीम की जीत है।

इससे पहले बुधवार को छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव जीते 2 सांसदों अरुण साव और गोमती साय ने लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। वहीं, रेणुका सिंह भी दिल्ली में हैं। इस्तीफे की बात पर उन्होंने कहा कि पार्टी जैसा निर्देश देगी, वैसा करेंगे। इसके बाद ये साफ हो गया कि इन नेताओं की प्रदेश में ही अहम भूमिका रहने वाली है।

जानिए सरकार बदलने के बाद आज प्रदेश में क्या हो रहा है….

छत्तीसगढ़ विधानसभा।

‘मोदी जी का स्वागत है’ के नारे लगे

संसद भवन परिसर में बीजेपी संसदीय दल की बैठक हुई। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह समेत कई मंत्री-नेता मौजूद रहे। सबसे पहले छत्तीसगढ़ समेत तीन राज्यों में पार्टी की धमाकेदार जीत के लिए नेताओं ने पीएम मोदी का स्वागत किया। नेताओं ने ‘मोदी जी का स्वागत है’ के नारे भी लगाए।

बैठक में पीएम मोदी का जोरदार स्वागत हुआ।

बैठक में पीएम मोदी का जोरदार स्वागत हुआ।

8 दिसंबर को विधायक दल की बैठक संभव

चर्चा है कि 8 दिसंबर को विधायक दल की बैठक हो सकती है और 10 दिसंबर को शपथ ग्रहण हो सकता है। इससे पहले बुधवार को दो सांसदों अरुण साव और गोमती साय ने सांसदी से इस्तीफा दिया था। प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव लोरमी और गोमती साय पत्थलगांव विधानसभा सीट से निर्वाचित हुई हैं। बीजेपी ने विधानसभा चुनाव में 4 सांसदों को उतारा था, इनमें से सिर्फ विजय बघेल को ही हार का सामना करना पड़ा।

प्रदेश में छठी विधानसभा गठन की अधिसूचना जारी

प्रदेश के राज्यपाल हरिचंदन ने छठी विधानसभा गठन की अधिसूचना जारी कर दी है। इसके साथ ही पांचवी विधानसभा का कार्यकाल खत्म हो गया। इसके साथ ही 2018 में निर्वाचित विधायकों की विधायकी भी खत्म हो गई है। हारे हुए विधायक अब पूर्व की श्रेणी में आ गए हैं। ऐसे में विधानसभा सचिवालय ने उन्हें बंगला खाली करने का नोटिस जारी किया है।

ये खबरें भी पढ़ें-

1. सांसदी छोड़ने वाले नेताओं की छत्तीसगढ़ में क्या भूमिका:अरुण साव को मिल सकती है बड़ी जिम्मेदारी, गोमती साय के लिए विकल्प कम

अरुण साव, रेणुका सिंह और गोमती साय।

अरुण साव, रेणुका सिंह और गोमती साय।

छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव जीतने वाले दो सांसदों ने अपना इस्तीफा दे दिया। इस्तीफा देने वालों में भारतीय जनता पार्टी प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव, सांसद गोमती साय शामिल हैं। सांसद विजय बघेल को भी भाजपा ने टिकट दिया था मगर वो हार गए। वो सांसद हैं, इस्तीफा नहीं दिया।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!