National News

खड़गे की शाह को चिट्‌ठी- असम में राहुल को खतरा:कहा- असम पुलिस भाजपा उपद्रवियों के साथ, राहुल को Z+ सिक्योरिटी मिलनी चाहिए

TIN NETWORK
TIN NETWORK

खड़गे की शाह को चिट्‌ठी- असम में राहुल को खतरा:कहा- असम पुलिस भाजपा उपद्रवियों के साथ, राहुल को Z+ सिक्योरिटी मिलनी चाहिए

गुवाहाटी

भारत जोड़ो न्याय यात्रा का आज 11वां दिन है। राहुल ने आज असम के बरपेटा से यात्रा शुरू की है। - Dainik Bhaskar

भारत जोड़ो न्याय यात्रा का आज 11वां दिन है। राहुल ने आज असम के बरपेटा से यात्रा शुरू की है।

असम में राहुल गांधी की सुरक्षा को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने गृहमंत्री अमित शाह को दो पेज की चिट्‌ठी लिखी है। चिट्‌ठी में भारत जोड़ो न्याय यात्रा के 18 जनवरी को असम में एंट्री के बाद 22 जनवरी तक राहुल की सुरक्षा में चूक की 5 घटनाओं का जिक्र है।

खड़गे ने गृहमंत्री से कहा- असम के मुख्यमंत्री और वहां के DGP को आप निर्देश दें ताकि कोई अनहोनी की स्थिति न बने। खड़गे का कहना है कि यात्रा के विरोध में भाजपा समर्थक राहुल के काफिले के बिल्कुल नजदीक पहुंच जा रहे हैं। ऐसे में राहुल को भी मजबूरन अपनी सुरक्षा को दरकिनार कर बाहर आना पड़ता है। राहुल को Z+ सिक्योरिटी मिलनी चाहिए।

खड़गे की चिट्‌ठी में 5 घटनाओं का जिक्र
1. असम में 18 जनवरी को पहले ही दिन पुलिस शिवसागर जिले के अमीगुरी में यात्रा को सुरक्षित रास्ता देने की बजाय भाजपा के पोस्टरों की सुरक्षा कर रही थी।
2. 19 जनवरी को लखीमपुर में भाजपा से जुड़े कुछ उपद्रवी यात्रा के बैनर-पोस्टर फाड़ते और उन्हें उखाड़ते हुए पकड़े गए थे।
3. सोनितपुर में भाजपा कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस की सोशल मीडिया टीम के साथ धक्का-मुक्की की। जयराम रमेश की कार पर हमला हुआ। यहां के SP मुख्यमंत्री के भाई हैं।
4. इसी दिन सोनितपुर जिले में भाजपा कार्यकर्ताओं ने राहुल गांधी के काफिले को रोकने की कोशिश की। भाजपा कार्यकर्ताओं ने असम कांग्रेस प्रेसिडेंट भूपेन बोरा पर हमला किया।
5. 22 जनवरी को नगांव जिले में भाजपा कार्यकर्ताओं ने राहुल गांधी का काफिला रोका और उनके बेहद करीब आकर उनके लिए असुरक्षित माहौल बना दिया।

23 जनवरी को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पुलिस बैरिकेडिंग तोड़ी, राहुल समेत कई नेताओं पर FIR

असम पुलिस ने 23 जनवरी को राहुल गांधी, केसी वेणुगोपाल, कन्हैया कुमार और अन्य के खिलाफ को FIR दर्ज की। सभी पर हिंसा, उकसावे, सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने और पुलिस कर्मियों पर हमला करने का केस दर्ज किया गया है।

असम पुलिस ने 23 जनवरी को राहुल गांधी, केसी वेणुगोपाल, कन्हैया कुमार और अन्य के खिलाफ को FIR दर्ज की। सभी पर हिंसा, उकसावे, सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने और पुलिस कर्मियों पर हमला करने का केस दर्ज किया गया है।

11वें दिन असम के बरपेटा से शुरू हुई यात्रा
राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा बुधवार को 11वें दिन असम के बरपेटा से शुरू हुई। यहां राहुल कार की छत पर बैठकर भीड़ को संबोधित किया। राहुल ने एक बार फिर असम के मुख्यमंत्री को देश का सबसे भ्रष्ट CM बताया। राहुल के भाषण की 4 बातें….

1. BJP-RSS के लोग नफरत फैलाते हैं
BJP-RSS के लोग एक धर्म को दूसरे धर्म से लड़ाते हैं, एक भाषा को दूसरी भाषा से लड़ाते हैं। वे नफरत फैलाते हैं, हम मोहब्बत फैलाते हैं। हमने ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में लाखों लोगों से बात की। सबने हमसे कहा- हिंदुस्तान नफरत का नहीं.. मोहब्बत का देश है। असम के मुख्यमंत्री के दिल में बहुत नफरत है। हमारी लड़ाई उनसे नहीं, उनके दिल में छिपी नफरत से है। नफरत के पीछे डर होता है और नफरत को सिर्फ मोहब्बत से खत्म किया जा सकता है।

2. BJP-RSS असम को नागपुर से चलाना चाहते हैं
BJP-RSS आपकी संस्कृति, भाषा और इतिहास को मिटाना चाहती है। आपके पूर्वजों द्वारा दी गई शिक्षा को खत्म करना चाहती है। BJP-RSS के लोग असम को नागपुर से चलाना चाहते हैं, जो हम कभी नहीं होने देंगे। असम को असम से चलाया जाएगा और आपकी संस्कृति का सम्मान किया जाएगा।

राहुल गांधी ने बरपेटा में कहा- असम के CM को लगता है कि वो मुझे डरा सकते हैं।

राहुल गांधी ने बरपेटा में कहा- असम के CM को लगता है कि वो मुझे डरा सकते हैं।

3. देश के प्रधानमंत्री आज तक मणिपुर नहीं गए
BJP-RSS की विचारधारा ने मणिपुर को जला दिया है, लेकिन देश के प्रधानमंत्री आज तक मणिपुर नहीं गए। इसलिए हमारी ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ मणिपुर से शुरू हुई और महाराष्ट्र तक जाएगी। ये देश मोहब्बत का देश है। ये देश मोहब्बत से आगे जाएगा। हिंसा और नफरत से किसी का फायदा नहीं होने वाला है।

4. हिमंता को लगता है वो राहुल को डरा सकता है
असम के मुख्यमंत्री दिनभर नफरत और डर फैलाते हैं। ये देश का सबसे भ्रष्ट मुख्यमंत्री है। टीवी-मीडिया वही दिखाता है, जो असम के मुख्यमंत्री चाहते हैं। असम को असम का मुख्यमंत्री नहीं चला रहा, उसका रिमोट कंट्रोल अमित शाह के पास है। पता नहीं कहां से हिमंता बिस्वा सरमा के दिमाग में आ गया कि वो राहुल गांधी को डरा सकता है। मुझपर जितने केस लगाने हैं, लगा दो.. मैं डरने वाला नहीं हूं।

भारत जोड़ो न्याय यात्रा सिलसिलेवार पढ़िए…

23 जनवरी- न्याय यात्रा का दसवां दिन, असम में बेरिकेड्स हटाने पर राहुल गांधी व अन्य पर FIR दर्ज

मंगलवार को असम के गुवाहाटी में कांग्रेस के नेताओं और पुलिस के बीच झड़प हुई थी।

मंगलवार को असम के गुवाहाटी में कांग्रेस के नेताओं और पुलिस के बीच झड़प हुई थी।

10वें दिन की यात्रा की शुरुआत राहुल गांधी ने असम-मेघालय सीमा पर युवाओं से बातचीत करके की। उन्होंने स्टूडेंट्स से कहा कि मैं आपकी यूनिवर्सिटी आकर आपसे बात करना चाहता था और ये समझना चाहता था कि आप किन मुश्किलों का सामना कर रहे हैं।

बाद में राहुल गांधी की न्याय यात्रा गुवाहाटी पहुंची, जिसे असम पुलिस ने रोक दिया। पुलिस ने गुवाहाटी सिटी जाने वाली सड़क पर बैरिकेडिंग कर दी। इसके बाद कांग्रेस समर्थक पुलिस से भिड़ गए। उन्होंने बैरिकेडिंग तोड़ दी। इस पर राहुल गांधी सहित अन्य नेताओं पर FIR दर्ज कर ली गई। 

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!