National News

ED टीम फरार TMC नेता शेख शाहजहां के घर पहुंची:100 से ज्यादा सुरक्षाबल मौजूद; 19 दिन पहले यहीं ED अफसरों पर हमला हुआ था

TIN NETWORK
TIN NETWORK

ED टीम फरार TMC नेता शेख शाहजहां के घर पहुंची:100 से ज्यादा सुरक्षाबल मौजूद; 19 दिन पहले यहीं ED अफसरों पर हमला हुआ था

पश्चिम बंगाल में नॉर्थ 24 परगना जिले के संदेशखाली गांव में शेख शाहजहां के घर के बाहत तैनात सुरक्षाबल। - Dainik Bhaskar

पश्चिम बंगाल में नॉर्थ 24 परगना जिले के संदेशखाली गांव में शेख शाहजहां के घर के बाहत तैनात सुरक्षाबल।

पश्चिम बंगाल में TMC के फरार नेता शेख शाहजहां के घर आज सुबह ED टीम पहुंची है। एजेंसी की टीम अपने साथ 100 से ज्यादा सेंट्रल फोर्स पर्सनल लेकर गई है। दरअसल, 19 दिन पहले (5 जनवरी) को जब ED टीम संदेशखाली गांव में शेख शाहजहां के घर रेड करने जा रही थी, तो उस पर भीड़ ने हमला कर दिया था।

आज सुबह करीब 8 बजे ED की टीम कई गाड़ियों से शेख शाहजहां के घर के लिए रवाना हुई। सुरक्षाबल भी बड़े वाहनों में सवार होकर शाहजहां के घर पहुंचे। फिलहाल शाहजहां के घर के बाहर बड़ी संख्या में सुरक्षाबल मौजूद हैं। हालांकि शाहजहां कहां है, इसकी कोई खबर नहीं है।

नॉर्थ 24 परगना में शेख शाहजहां के घर रेड के लिए जाता ED टीम का काफिला।

नॉर्थ 24 परगना में शेख शाहजहां के घर रेड के लिए जाता ED टीम का काफिला।

संदेशखाली गांव में शेख शाहजहां के घर के बाहर तैनात पुलिसबल।

संदेशखाली गांव में शेख शाहजहां के घर के बाहर तैनात पुलिसबल।

5 जनवरी को ED की टीम पहुंची तो फरार हो गया शेख शाहजहां
ED ने 5 जनवरी को राशन घोटाला मामले में राज्य के 15 ठिकानों पर रेड की थी। एक टीम नॉर्थ 24 परगना जिले के संदेशखाली गांव में शेख शाहजहां और शंकर अध्य के घर जा रही थी। इसी दौरान TMC समर्थकों ने उन्हें घेर लिया और हमला कर दिया।

ED ने बताया कि भीड़ ने हमला तब किया, जब शाहजहां के घर का ताला तोड़ा जा रहा था। इससे पहले शाहजहां को कई बार फोन कर बुलाने की कोशिश की गई, लेकिन वह नहीं आए। जिले के SP से भी बात करने की कोशिश की गई, लेकिन उन्होंने भी बात नहीं की। तभी से वे फरार चल रहे हैं।

शेख शाहजहां नॉर्थ 24 परगना जिला परिषद के मत्स्य एवं पशु संसाधन अधिकारी और संदेशखाली के TMC ब्लॉक अध्यक्ष भी हैं। वे ममता सरकार में वन मंत्री ज्योतिप्रिय मलिक के करीबी हैं। ED राशन घोटाला मामले में 27 अक्टूबर 2023 को ज्योतिप्रिय मलिक को गिरफ्तार कर चुकी है।

पश्चिम बंगाल पुलिस ने ED टीम पर केस दर्ज किया
पश्चिम बंगाल पुलिस ने 6 जनवरी को ED की उसी टीम के अधिकारियों पर केस दर्ज किया है, जिन पर संदेशखाली इलाके में भीड़ ने हमला किया था। अधिकारियों के खिलाफ घर में जबरन घुसने और महिला से छेड़छाड़ का आरोप लगाया गया। पुलिस ने इस मामले में तीन FIR दर्ज कीं। एक FIR एजेंसी के अधिकारियों के खिलाफ और दो FIR अनजान लोगों के खिलाफ हुईं।

5 जनवरी को नॉर्थ 24 परगना जिले के संदेशखाली इलाके में भीड़ ने ED अधिकारियों पर हमला कर दिया था। इसमें ED अधिकारियों की गाड़ी के शीशे टूट गए।

5 जनवरी को नॉर्थ 24 परगना जिले के संदेशखाली इलाके में भीड़ ने ED अधिकारियों पर हमला कर दिया था। इसमें ED अधिकारियों की गाड़ी के शीशे टूट गए।

पश्चिम बंगाल में भाजपा नेताओं ने कोलकाता के उस अस्पताल का दौरा किया था जहां घायल ED अधिकारी इलाज करा रहे थे।

पश्चिम बंगाल में भाजपा नेताओं ने कोलकाता के उस अस्पताल का दौरा किया था जहां घायल ED अधिकारी इलाज करा रहे थे।

क्या है राशन घोटाला

  • ED के मुताबिक, कोविड-19 लॉकडाउन के दौरान राज्य में सार्वजनिक वितरण प्रणाली में कई अनियमितताएं हुईं और राशन वितरण में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार हुआ। उस वक्त ज्योतिप्रिय मलिक खाद्य और नागरिक आपूर्ति विभाग के मंत्री थे।
  • ED ने ज्योतिप्रिय मलिक के करीबी और बिजनेसमैन बकीबुर रहमान को 14 अक्टूबर 2023 को गिरफ्तार किया था। आरोप है कि रहमान ने राशन डिस्ट्रीब्यूटर्स को सप्लाई किए जाने वाले चावल और गेहूं को खुले बाजार में बेच दिया था।
  • ED ने बकीबुर रहमान की गिरफ्तारी के बाद 26 अक्टूबर को ज्योतिप्रिय मलिक के ठिकानों पर रेड की। 27 अक्टूबर को उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।
ED ने 27 अक्टूबर को ज्योतिप्रिय मलिक को गिरफ्तार किया था।

ED ने 27 अक्टूबर को ज्योतिप्रिय मलिक को गिरफ्तार किया था।

ये खबर भी पढ़ें…

TMC नेता शेख शाहजहां का ऑडियो टेप वायरल:कहा- अगर अपराध साबित हुआ तो आत्महत्या कर लूंगा; ED टीम पर उनके समर्थकों ने हमला किया था

पश्चिम बंगाल में फरार TMC नेता शेख शाहजहां ने एक ऑडियो टेप जारी किया है। इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, ऑडियो टेप में TMC नेता कहा कि उन्होंने कोई भी क्राइम नहीं किया है। उन्हें राजनीतिक साजिश के तहत फंसाया जा रहा है। शाहजहां ने लोगों से कहा कि अगर कोई यह साबित कर दे कि उन्होंने कुछ गलत किया है तो वो आत्महत्या कर लेंगे। पूरी खबर यहां पढ़ें…

बंगाल के मंत्री ज्योतिप्रिय मलिक गिरफ्तार, कोर्ट में बेहोश हुए, राशन घोटाले के हैं आरोपी

एन्फोर्समेंट डायरेक्टरेट (ED) ने पश्चिम बंगाल के वन मंत्री ज्योतिप्रिय मलिक को गिरफ्तार कर लिया। ED की टीम सुबह 8 बजे के करीब मलिक के घर पहुंची थी। 20 घंटे तक ED ने मलिक के घर और अन्य 7 ठिकानों पर तलाशी अभियान चलाया। अगले दिन सुबह 4 बजे मलिक को राशन घोटाले के आरोप में अरेस्ट कर लिया। गिरफ्तारी के बाद मीडिया से बातचीत में मलिक ने कहा- वह एक साजिश का शिकार हैं। 

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!