National News

मुख्यमंत्री भजनलाल के नाम खून से लिखा पत्र:नौकरी बहाली की मांग को लेकर राजीव गांधी युवा मित्रों ने लगाई सरकार से गुहार

TIN NETWORK
TIN NETWORK

जयपुर

महात्मा गांधी की पुण्यतिथि के मौके पर राजीव गांधी युवा मित्रों ने शहीद स्मारक पर दो मीनट मौन रखकर युवा मित्रों की नौकरी बहाल करने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम खून से पत्र लिखा। - Dainik Bhaskar

महात्मा गांधी की पुण्यतिथि के मौके पर राजीव गांधी युवा मित्रों ने शहीद स्मारक पर दो मीनट मौन रखकर युवा मित्रों की नौकरी बहाल करने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम खून से पत्र लिखा।

महात्मा गांधी की पुण्यतिथि के मौके पर राजीव गांधी युवा मित्रों ने शहीद स्मारक पर दो मीनट मौन रखकर युवा मित्रों की नौकरी बहाल करने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम खून से पत्र लिखा। अभ्यर्थियों ने कहा कि मुख्यमंत्री थोड़ी दरियादिली दिखाएं और 5 हजार परिवारों की चिंता करते हुए हमारी नौकरी बहाल कर हमें नियुक्ति दें। उन्होंने कहा कि सरकार ने अब तक भी हमें वार्ता के लिए नहीं बुलाया है हमारे धरने को 18 दिन हो गए है। ऐसा लगता है मानो अंग्रेजों को राज में हम जैसे रहते थे आज हमारी वैसी ही स्थिति है, हमारी सुनवाई नहीं हो रही है। इन बेरोजगार युवाओं में आसएसएस, बीजेपी से जुड़े लोग भी है जो धरने पर बैठे है ऐसे में बेरोजगारों को राजनीतिक दलदल में नहीं सीचें।

जयपुर के शहीद स्मारक पर मंगलवार को 18वें दिन भी राजीव गांधी युवा मित्रों धरना-प्रदर्शन जारी रहा। खून से लिखे पत्र के माध्यम से अब इन्होंने सरकार से रोजगार की गुहार लगाई है।

जयपुर के शहीद स्मारक पर मंगलवार को 18वें दिन भी राजीव गांधी युवा मित्रों धरना-प्रदर्शन जारी रहा। खून से लिखे पत्र के माध्यम से अब इन्होंने सरकार से रोजगार की गुहार लगाई है।

जयपुर के शहीद स्मारक पर मंगलवार को 18वें दिन भी राजीव गांधी युवा मित्रों धरना-प्रदर्शन जारी रहा। इन युवाओं की मांग है कि मौजूदा बीजेपी सरकार राजीव गांधी युवा इंटर्नशिप को बहाल करें।धरने पर बैठे बेरोजगारों ने कहा कि हम कांग्रेसी नहीं हैं, सिर्फ हम सरकार की योजनाओं को धरातल तक पहुंचाते थे। सरकार की योजना का प्रचार प्रसार करते थे, अभी हम केंद्र सरकार की विकसित संकल्प यात्रा में भी केंद्रीय योजना का कार्य कर रहे थें। हम आर्थिक व सांख्यिकी विभाग के अधीन कार्य करते थे। भर्ती प्रक्रिया के तहत हमारा चयन हुआ है। ऐसे में अब अचानक राजीव गांधी युवा इंटर्नशिप बंद करने से 5000 परिवारों को बहुत ठेस पहुंची है। हमारे परिवार पर आर्थिक संकट मंडराने लगा है।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!