National News

RLP ने दर्ज कराई हैलीकॉप्टर कम्पनी के खिलाफ FIR:एग्रीमेंट होने के बाद नहीं भेजा हैलीकॉप्टर,कम्पनी के एमडी बोले साढे 13 लाख बकाया इस लिए नहीं भेजा हैलीकॉप्टर

TIN NETWORK
TIN NETWORK

RLP ने दर्ज कराई हैलीकॉप्टर कम्पनी के खिलाफ FIR:एग्रीमेंट होने के बाद नहीं भेजा हैलीकॉप्टर,कम्पनी के एमडी बोले साढे 13 लाख बकाया इस लिए नहीं भेजा हैलीकॉप्टर

जयपुर

जालूपुरा थाने में आरएलपी के जयपुर कार्यालय प्रभारी शंकर लाल नारोलिया ने हैलीकॉप्टर प्रोवाइडर कम्पनी ब्लू डॉट ट्रिप के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई हैं। शिकायत में शंकर लाल ने आरोप लगाया हैं कि कम्पनी के कारण विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी को आर्थिक,सामाजिक और वोटर का नुकसान हुआ हैं। जालूपुरा थाना पुलिस ने शिकायत मिलने पर ब्लू डॉट ट्रिप कम्पनी के शिव किशन चौधरी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की हैं।

जालूपुरा थाना सीआई अंतिम शर्मा ने बताया कि शिकायत मिलने पर एफआईआर दर्ज कर ली हैं। इस सम्बंध में हैलीकॉप्टर प्रोवाइड कराने वाली कम्पनी से पूछताछ की जाएगी। शंकर लाल नारोलिया ने आरोप लगाया है कि अक्टूबर 2023 के महीने में जब राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (आरएलपी) विधानसभा चुनावों की तैयारी में व्यस्त थी, तब शिव किशन चौधरी ने के कार्यालय से संपर्क किया। शिव किशन चौधरी ने खुद को ब्लू डॉट ट्रिप कंपनी का एमडी (MD-Managing Director) बताया। उन्होंने अपनी वेबसाइट www. bluedottrip.com भी दिखाई और 3 अगस्ता A119 सिंगल इंजन हेलीकॉप्टरों के बेड़े (Fleet) और इस क्षेत्र में अच्छे अनुभव के बड़े-बड़े दावे किए। यहीं नहीं बड़े-बड़े दावे करके पार्टी के साथ एक एग्रीमेंट 17 अक्टूबल 2023 को साइन किया। जिसके अनुसार 4 नवंबर 2023 से 23 नवंबर 2023 तक हैलीकॉप्टर की सेवा देना तय हुआ। इसके एवज में कम्पनी ने पार्टी से 42 लाख रुपए ले लिए। शिव किशन चौधरी ने कुल समझौता एक करोड़ दो लाख और तेईस हजार रुपये का था। जिसमें से 42 लाख की राशि 1 नवंबर 2023 से पहले चुकाई जा चुकी थी। 1 नवंबर 2023 को शिव किशन चौधरी अपनी बात से मुकर गया और उसने हेलीकॉप्टर सेवा देने से इनकार कर दिया। लेकिन उसके बाद शिव किशन चौधरी ने 4 नवम्बर.2023 को बड़ी मुश्किल से हेलीकॉप्टर उपलब्ध कराया जो कि अगस्ता नहीं था। वह हेलीकॉप्टर भी जो सुबह 11 बजे उड़ना था वह दोपहर 2 बजे उड़ा जिसकी वजह से पार्टी सुप्रीमो हनुमान बैनीवाल को बहुत दिक्कत झेलनी पड़ी और रैलिया समयबद्ध तरीके से नहीं हो पाई। जिसकी वजह से पार्टी को वोटरों का भारी नुकसान हुआ। यही नहीं, साजिश के तहत हेलीकॉप्टर में जो तेल भरा जाता है वह भी सील पैक नहीं था जिससे यह प्रतीत होता है की शिव किशन चौधरी किसी बहुत बड़ी साजिश का हिस्सा था और जानलेवा हमले की तैयारी में था।

मेरा पेमेंट नहीं किया तो मैं केसे हैलीकॉप्टर भेजता

ब्लू डॉट ट्रिप कम्पनी के एमडी शिव किशन चौधरी ने बताया कि एफआईआर में जिस दिन का जिक्र किया हुआ हैं। वह एग्रीमेंट हुआ था लेकिन जब हैलीकॉप्टर की फ्लाईंग का पेमेंट पहले हुआ ही नहीं तो कैसी हैलीकॉप्टर भेज देते। 29 तारीख 1तारीख तक चार्टर पहले एग्रीमेंट के तहत लिया हुआ था लेकिन उसका 13 लाख 50 हजार रुपए दिया ही नहीं। पैसा नहीं आया तो दूसरा एग्रीमेंट अपने आप खत्म हो जाता हैं। हनुमान बेनीवाल ने फोन कर के धमकाया भी लेकिन मैने अपने बुजुर्गों को उनके पास भेजा जिस के बाद हनुमान बेनीवाल ने वकील से नोटिस भी भेजा जिस का जवाब मेरे वकील ने दे दिया था। मैं 13 लाख 50 हजार रुपए हनुमान बेनीवाल से मांगता हूं।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!