DEFENCE, INTERNAL-EXTERNAL SECURITY AFFAIRS

INDIA- SAUDI ARABIA JOINT MILITARY EXERCISE ‘SADA TANSEEQ’ IN RAJASTHAN / राजस्थान में भारत-सऊदी अरब संयुक्त सैन्य अभ्यास ‘सदा तनसीक’ जारी

TIN NETWORK
TIN NETWORK

INDIA- SAUDI ARABIA JOINT MILITARY EXERCISE ‘SADA TANSEEQ’ 

IN RAJASTHAN

Jaipur, Monday 05 Feb 2024

            India-Saudi Arabia Joint Military Exercise ‘SADA TANSEEQ’ scheduled from 29th January to 10th February 2024 is   underway at Mahajan Field Firing Range, Rajasthan.

            Eight days of training has been conducted so far by Joint Contingents of Royal Saudi Land Force and Indian Army, wherein exchange of know-how on tactics, drills, best practices has been held. In addition, focused training on weapon & equipment handling, marksmanship, team integration, physical fitness and understanding the nuances of UN regulations were also carried out.

            In next few days’ contingents will graduate to next stage of battle hardening which includes reflex shooting and executing joint counter-insurgency operations.

            The Exercise provides an opportunity to both the contingents to strengthen their bond and will act as a platform to achieve shared security objectives, enhance the level of defence cooperation and foster bilateral relations between the two friendly nations.

राजस्थान में भारत-सऊदी अरब संयुक्त सैन्य अभ्यास ‘सदा तनसीक’ जारी

Jaipur, Monday 05 Feb 2024

            भारत-सऊदी अरब संयुक्त सैन्य अभ्यास ‘सदा तनसीक’ 29 जनवरी से 10 फरवरी 2024 तक राजस्थान के महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में चल रहा है।

            रॉयल सऊदी लैंड फोर्स और भारतीय सेना की संयुक्त टुकड़ियों द्वारा अब तक आठ दिनों का प्रशिक्षण किया गया है, जिसमें रणनीति, अभ्यास, सर्वोत्तम प्रथाओं पर जानकारी का आदान-प्रदान हुआ है। इसके अलावा हथियार और उपकरण संचालन, निशानेबाजी, टीम एकीकरण, शारीरिक फिटनेस और संयुक्त राष्ट्र नियमों की बारीकियों को समझने पर केंद्रित प्रशिक्षण भी किया गया है।

            अगले कुछ दिनों में टुकड़ियां युद्ध कौशल के अगले चरण में पहुंच जाएंगी जिसमें रिफ्लेक्स शूटिंग और संयुक्त आतंकवाद विरोधी अभियानों को अंजाम देना शामिल है।

            यह अभ्यास दोनों टुकड़ियों को आपसी तालमेल को मजबूत करने का अवसर प्रदान करता है और साझा सुरक्षा उद्देश्यों को प्राप्त करने, रक्षा सहयोग के स्तर को बढ़ाने और दोनों मित्र राष्ट्रों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ावा देने के लिए एक मंच के रूप में कार्य करेगा।

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!