National News

सरकार ने 44 आईएफएस का किया ट्रांसफर:रणथम्भौर के सीसीएफ और डीसीएफ को हटाया, बाघिन की मौत के बाद विवादों में आए

TIN NETWORK
TIN NETWORK

सरकार ने 44 आईएफएस का किया ट्रांसफर:रणथम्भौर के सीसीएफ और डीसीएफ को हटाया, बाघिन की मौत के बाद विवादों में आए

रणथम्भौर टाइगर रिजर्व में पिछले दिनों बाघिन टी-60 की इलाज के अभाव में मौत हो गई थी। - Dainik Bhaskar

रणथम्भौर टाइगर रिजर्व में पिछले दिनों बाघिन टी-60 की इलाज के अभाव में मौत हो गई थी।

राजस्थान सरकार ने एक आदेश जारी करके बुधवार 44 इंडियन फॉरेस्ट ऑफिसर्स (आईएफएस) के तबादले किए हैं। इसमें पिछले दिनों बाघिन टी-60 की मौत के बाद विवादों में आए मुख्य वन संरक्षक (सीसीएफ) पी. काथिरवेल को रणथम्भौर से हटाकर मुख्य वन संरक्षक भरतपुर के पद पर लगाया है, जबकि उनकी जगह एपीओ चल रहे अनूप के.आर को रणथम्भौर की जिम्मेदारी सौंपी गई है। रणथम्भौर में तैनात उप वन संरक्षक (डीसीएफ) मोहित गुप्ता को भी सरकार ने हटाकर जोधपुर डीसीएफ लगाया है। इधर, राजीव चतुर्वेदी को सीसीएफ जयपुर लगाया है।

दरअसल, 3 दिन पहले रणथम्भौर में बाघिन टी-60 की इलाज के अभाव में मौत हो गई थी। उस समय पी. काथिरवेल और मोहित गुप्ता दोनों की गैर जिम्मेदारी सामने आई थी। दोनों अधिकारियों ने ना तो बाघिन की सेहत पर ध्यान दिया और ना ही उसका समय पर डॉक्टरों से इलाज करवाया। इसके चलते बाघिन की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि इन दोनों के बीच कुछ समय से विवाद चल रहा था। इसे देखते हुए सरकार ने आज दोनों को यहां से हटाकर दूसरी जगह लगा दिया।

आदेशों में अरिंदम तोमर को प्रधान मुख्य वन्य संरक्षक (पीसीसीएफ) जीव प्रतिपादक के पद से हटाकर कार्य आयोजना एवं वन बंदोबस्त में लगाया। इसी तरह एपीओ चल रहे राजेश कुमार गुप्ता को मुख्य वन्य जीव प्रतिपालक लगाया है। अतिरिक्त प्रधान मुख्य वन्य संरक्षक (एपीसीसीएफ) शिखा मेहरा को एफसीए जयपुर में लगाया। वहीं एपीसीसीएफ उदय शंकर को राज्य वन विकास निगम में एमडी की कमान सौंपी है।

नीचे लिस्ट देखें….

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!