National News

हल्द्वानी में हिंसा के बाद बरेली में हंगामा-पथराव:4 लोग जख्मी; तौकीर रजा बोले- कोई हमारा घर तोड़ेगा, तो शांत नहीं रहेंगे

TIN NETWORK
TIN NETWORK

हल्द्वानी में हिंसा के बाद बरेली में हंगामा-पथराव:4 लोग जख्मी; तौकीर रजा बोले- कोई हमारा घर तोड़ेगा, तो शांत नहीं रहेंगे

ये बरेली में हुए हंगामे और पथराव की फुटेज हैं। - Dainik Bhaskar

ये बरेली में हुए हंगामे और पथराव की फुटेज हैं।

उत्तराखंड के हल्द्वानी में भड़की हिंसा के बाद उत्तर प्रदेश के बरेली में भी हंगामा हो गया। पथराव में 4 लोग जख्मी हुए हैं। इत्तेहाद-ए-मिल्लत काउंसिल (IMC) के राष्ट्रीय अध्यक्ष तौकीर रजा ने घटना के विरोध में गिरफ्तारी देने का ऐलान किया। तौकीर रजा ने शुक्रवार दोपहर दरगाह आला हजरत पर नमाज पढ़ी। उसके बाद गिरफ्तारी देने के लिए वहां से आगे बढ़े, लेकिन पुलिस ने उन्हें रोक लिया। पुलिस के समझाने के बाद तौकीर रजा घर लौट गए।

इसके बाद उनके समर्थकों ने नारेबाजी शुरू कर दी। दरगाह से निकलने के बाद मौलाना के साथ धक्का-मुक्की भी हुई। हालात को देखते हुए मौके पर भारी फोर्स तैनात है। पूरा इलाका छावनी में बदल गया है। ड्रोन से भी निगरानी की जा रही है।

बरेली में हुए पथराव की 3 फुटेज

पथराव से अफरा-तफरी मच गई। लोग सड़कों पर भागते नजर आए।

पथराव से अफरा-तफरी मच गई। लोग सड़कों पर भागते नजर आए।

ये दो युवक हैं, जिन्हें पत्थर लगे हैं, तीसरा युवक दोनों को ले जा रहा है।

ये दो युवक हैं, जिन्हें पत्थर लगे हैं, तीसरा युवक दोनों को ले जा रहा है।

यह युवक पत्थर लगने के बाद सुरक्षाकर्मियों के पास भागकर जा रहा है।

यह युवक पत्थर लगने के बाद सुरक्षाकर्मियों के पास भागकर जा रहा है।

वहीं, मौलाना तौकीर राजा के घर लौटने के बाद श्यामतगंज के पास तिरंगा लेकर लौट रहे मुस्लिम समुदाय के लोगों ने पत्थरबाजी की। जिससे अफरा-तफरी मच गई। 4 लोग को पत्थर लगने जख्मी हो गए। पुलिस फोर्स ने मौके पर पहुंचकर पत्थरबाजों पर काबू पाया। वहीं, श्यामतगंज में पथराव के बाद RRF तैनात की गई है।

हल्द्वानी में नजूल की जमीन पर बने मदरसे को नगर निगम ने गुरुवार रात गिरा दिया था, इसके बाद वहां पत्थरबाजी और आगजनी हुई। हमले में 3 लोगों की मौत की खबर है।

मौलाना बोले-हमारा नौजवान जवाब देगा, तो मुल्क के हालात खराब होंगे
मौलाना तौकीर रजा ने कहा, हमने ज्यादती और जुल्म देखा है। हमारे लोगों को जबरदस्ती रोका गया। हमने अपने नौजवानों को कंट्रोल किया। विहिप और बजरंग जल जैसे संगठन हुकूमत के दम पर बेईमानी कर रहे हैं। अदालत आस्था के अनुसार काम कर रही है। कुछ संगठन को कंट्रोल नहीं किया गया, तो दिक्कत होगी।

हमारा नौजवान जवाब देगा, तो मुल्क के हालात खराब होंगे। नौजवानों के अंदर लावा अंदर पनप रहा है। अगर हुकूमत दंगा चाहती है, तो हम तैयार हैं। मेरी मांग है कि मुफ्ती सलमान अजहरी को रिहा किया जाए, बुलडोजर की कार्रवाई क्यों हो रही है? अदालत के सामने आरोपी को पेश करें। बुलडोजर के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट संज्ञान ले। अमन बनाए रखने के लिए बुलडोजर की कार्रवाई बंद होनी चाहिए।

उन्होंने कहा, उत्तराखंड में जो कुछ हुआ है, उसके लिए CM धामी जिम्मेदार हैं। हल्द्वानी में जो रिएक्शन है, उसका जिम्मेदार धामी है। तौकीर रजा ने पीएम मोदी पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा, लगता है कि मुसलमानों को सताया जाएगा तो वो भी पीएम बन जाए।

अब देखिए बरेली में नमाज के बाद की 4 फुटेज

शुक्रवार दोपहर दरगाह आला हजरत पर नमाज पढ़ने के दौरान सड़क पर भारी भीड़ रही।

शुक्रवार दोपहर दरगाह आला हजरत पर नमाज पढ़ने के दौरान सड़क पर भारी भीड़ रही।

पुलिस ने तौकीर रजा को सुरक्षा के साथ भीड़ से अलग किया। इस दौरान मौलाना के साथ धक्का-मुक्की भी हुई।

पुलिस ने तौकीर रजा को सुरक्षा के साथ भीड़ से अलग किया। इस दौरान मौलाना के साथ धक्का-मुक्की भी हुई।

हालात को देखते हुए मौके पर भारी फोर्स तैनात है। पूरा इलाका छावनी में बदल गया है।

हालात को देखते हुए मौके पर भारी फोर्स तैनात है। पूरा इलाका छावनी में बदल गया है।

अपने घर में समर्थकों के साथ बैठे मौलाना तौकीर रजा।

अपने घर में समर्थकों के साथ बैठे मौलाना तौकीर रजा।

नमाज पढ़ने से पहले तौकीर रजा बोले- अपनी लड़ाई खुद लड़ेंगे
तौकीर रजा ने कहा, कोई घर तोड़ेगा तो शांत नहीं रहेंगे। अपनी लड़ाई खुद लड़ेंगे। उत्तराखंड में हिंसा के लिए सिर्फ सीएम पुष्कर सिंह धामी जिम्मेदार हैं। उन्होंने धामी के लिए अपशब्दों का भी इस्तेमाल किया। तौकीर रजा ने कहा, “मैं गिरफ्तारी देने जा रहा हूं। यह गिरफ्तारी ऐसी नहीं होगी कि अभी जेल से रिहा हो जाऊंगा। हो सकता है मुझ पर गंभीर धारा लगे।

दूसरी जेल में भी दूर भेजा जा सकता है। इसलिए जो मेरे साथ गिरफ्तार होना चाहते हैं, वह सोच लें, अगर खौफ हो तो गिरफ्तारी से बचे। मैं अमन चैन की दुआ कर गिरफ्तारी दूंगा।”

तौकीर रजा के समर्थकों ने प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की।

तौकीर रजा के समर्थकों ने प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की।

इस्लामिया ग्राउंड पर पुलिस ने नमाजी घुसने नहीं दिए
इस्लामिया ग्राउंड पर नमाजी इकट्‌ठा न हो सके, इसके लिए मैदान के गेट पर ताले लगा दिए गए। PAC और अर्द्ध-सैन्य बल को तैनात किया गया। बरेली धारा- 144 लगाई गई है। सुबह से ही बाजार बंद कर दिए गए। नमाज होने के बाद दोपहर करीब 2.30 बजे जब नमाजियों ने मैदान पर आने का प्रयास किया। तो उन्हें रोक दिया गया।

मौलाना के साथ बड़ी संख्या में उनके समर्थक मौजूद रहे।

मौलाना के साथ बड़ी संख्या में उनके समर्थक मौजूद रहे।

मस्जिदों को बचाने के लिए जेल भरो आंदोलन
IMC प्रमुख तौकीर रजा ने 5 दिन पहले बयान दिया था कि इस देश में मस्जिदों को निशाना बनाया जा रहा है। ज्ञानवापी को हम नहीं छोड़ सकते। ज्ञानवापी मस्जिद है। बाबरी पर हमने सब्र कर लिया।

हम ज्ञानवापी को नहीं दे सकते। जब हम कुछ नहीं कर सकते तो ऐसे आजादी से बेहतर है के हम खुद को गिरफ्तार करा दें। लोगो में काफी गुस्सा है। मेरी सभी से अपील है कोई भी ऐसा काम नहीं करना है, जिससे गलत मैसेज जाए जो भी प्रदर्शन या विरोध हो संवैधानिक दायरे में रहकर करें।

IMC के आह्वान के बाद सिविल लाइन, कोहाड़ापीर समेत पुराने शहर का बाजार बंद किया गया है।

IMC के आह्वान के बाद सिविल लाइन, कोहाड़ापीर समेत पुराने शहर का बाजार बंद किया गया है।

हल्द्वानी में अवैध मदरसा गिराने पर हुई हिंसा में 3 की मौत
उत्तराखंड के हल्द्वानी में नगरनिगम ने गुरुवार 8 फरवरी को एक अवैध मदरसा ढहा दिया। नमाज पढ़ने के लिए बनाई गई एक इमारत पर भी बुलडोजर चला दिया। इसके बाद वहां हिंसा फैल गई। भीड़ ने पुलिस और निगम के अमले पर हमला कर दिया। बनभूलपुरा थाने को घेरा और पथराव किया।

हल्द्वानी में गुरुवार को अवैध मदरसा गिराए जाने के बाद हिंसा और आगजनी की तस्वीरें।

हल्द्वानी में गुरुवार को अवैध मदरसा गिराए जाने के बाद हिंसा और आगजनी की तस्वीरें।

हिंसा में 3 लोगों की मौत हो गई। 300 पुलिसकर्मी और निगम कर्मचारी घायल हैं। प्रशासन ने कर्फ्यू लगा दिया है और दंगाइयों को देखते ही गोली मारने के आदेश हैं। दंगाइयों की पहचान की जा रही है। इसी बात को लेकर मौलाना तौकीर रजा खफा हैं। 

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!