National News

इंडियन सिनेमा का सबसे महंगा विलेन:KGF स्टार यश ने रावण बनने के ₹150 करोड़ लिए, कभी प्राण लेते थे हीरो से ज्यादा फीस

TIN NETWORK
TIN NETWORK

इंडियन सिनेमा का सबसे महंगा विलेन:KGF स्टार यश ने रावण बनने के ₹150 करोड़ लिए, कभी प्राण लेते थे हीरो से ज्यादा फीस

KGF और KGF 2 के हीरो यश अब विलेन बनेंगे। वो रणबीर कपूर, साई पल्लवी स्टारर फिल्म रामायण में रावण की भूमिका में नजर आएंगे। फिल्म के डायरेक्टर नितेश तिवारी हैं, जिन्होंने दंगल और छिछोरे जैसी हिट फिल्में बनाई हैं।

खास बात ये है कि इस रोल के लिए यश को 150 करोड़ रु. फीस दी जा रही है। ये हिंदी सिनेमा के इतिहास में किसी विलेन को मिलने वाली सबसे ज्यादा फीस है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यश KGF 3 की शूटिंग में भी बिजी हैं, लेकिन इसके बावजूद उन्होंने रामायण को अपनी पहली बॉलीवुड फिल्म के तौर पर चुना है।

यश ने KGF 2 के लिए 30 करोड़ रु. फीस ली थी।

यश ने KGF 2 के लिए 30 करोड़ रु. फीस ली थी।

विलेन के तौर पर एक एक्टर को इतनी फीस मिलना बॉलीवुड में बहुत बड़ी बात है, क्योंकि ऐसा अब तक नहीं हुआ है।

गुजरे जमाने के टॉप विलेन प्राण को तो एक फिल्म के लिए 600 रु. मिलते थे जो उस दौर में सबसे ज्यादा थे।

वहीं, रिपोर्ट्स के मुताबिक, यश ने फीस के मामले में रणवीर सिंह, संजय दत्त, कमल हासन, विजय सेतुपति, इमरान हाशमी और सैफ अली खान जैसे स्टार्स का रिकॉर्ड तोड़ दिया है।

चलिए सबसे पहले नजर डालते हैं उन स्टार्स पर जिन्हें बतौर विलेन मिली सबसे ज्यादा फीस…

7 नवंबर 2023 को कमल हासन के 69वें जन्मदिन पर कल्कि 2898 AD का ये पोस्टर रिलीज हुआ था।

7 नवंबर 2023 को कमल हासन के 69वें जन्मदिन पर कल्कि 2898 AD का ये पोस्टर रिलीज हुआ था।

कमल हासन हैं दूसरे हाईएस्ट पेड विलेन
प्रभास, दीपिका पादुकोण और अमिताभ बच्चन स्टारर कल्कि 2898 AD में कमल हासन विलेन बने नजर आएंगे। इस फिल्म के लिए उन्हें 30 करोड़ रुपए की फीस दी जा रही है। यश के बाद विलेन के तौर पर सबसे ज्यादा फीस पाने वाले विलेन की लिस्ट में वो दूसरे नंबर पर हैं। फिल्म 9 मई 2024 को रिलीज होगी। फिल्म का बजट 600 करोड़ है। इससे पहले कमल हासन ने फिल्म अभय में निगेटिव रोल निभाया था।

जवान के विलेन काली बने विजय सेतुपति
विजय साउथ के पॉपुलर एक्टर हैं। उन्हें 2023 की सबसे बड़ी ब्लॉकबस्टर फिल्मों में से एक ‘जवान’ में विलेन काली के रोल में देखा गया था। इस रोल के लिए विजय को तकरीबन 21 करोड़ रु. की फीस दी गई थी। जवान विजय की पहली बॉलीवुड फिल्म थी। विजय का कहना था कि ये फिल्म उन्होंने केवल शाहरुख खान के कहने पर की थी। वैसे, विजय विक्रम समेत कई फिल्मों में विलेन का रोल निभा चुके हैं।

रणवीर को खिलजी के रोल के लिए आइफा बेस्ट एक्टर अवॉर्ड समेत कई अवॉर्ड्स मिले थे।

रणवीर को खिलजी के रोल के लिए आइफा बेस्ट एक्टर अवॉर्ड समेत कई अवॉर्ड्स मिले थे।

खिलजी बनने के लिए रणवीर को मिले 13 करोड़
2018 में रिलीज हुई फिल्म पद्मावत में रणवीर सिंह ने हीरो के बजाय विलेन का रोल चुना, जिसके लिए उन्हें 13 करोड़ रुपए की फीस दी गई। संजय लीला भंसाली के डायरेक्शन में बनी इस फिल्म में रणवीर ने अलाउद्दीन खिलजी का किरदार निभाया था।

ये उनके करियर का पहला निगेटिव रोल था। रणवीर शुरुआत में इस रोल को नहीं करना चाहते थे, क्योंकि उन्हें डर था कि फिल्म के बाद कहीं उनकी इमेज खराब न हो जाए। बाद में संजय लीला भंसाली ने उन्हें बहुत समझाया कि ये किरदार उन्हें करियर में नई बुलंदियों पर ले जाएगा तब जाकर उन्होंने हामी भरी।

आदिपुरुष के लिए सैफ ने चार्ज किए थे 10 करोड़
2023 में रिलीज हुई फिल्म आदिपुरुष में सैफ ने रावण का किरदार निभाया था, जिसके लिए उन्होंने 10 करोड़ रु. फीस ली थी। फिल्म फ्लॉप रही थी और सैफ को भी अपनी एक्टिंग के लिए काफी आलोचना झेलनी पड़ी थी।

इमरान हाशमी की फीस थी 10 करोड़
सैफ के अलावा इमरान हाशमी भी ऐसे एक्टर हैं, जिन्होंने हीरो होने के बावजूद विलेन का किरदार निभाकर सुर्खियां बटोरी हैं। वो पिछले साल सलमान खान की टाइगर 3 में बतौर विलेन नजर आए थे, जिसके लिए उन्हें 10 करोड़ फीस दी गई थी।

वहीं, KGF 2 में विलेन बनने के लिए संजय दत्त को 8-9 करोड़ रु. की फीस मिली थी। उन्होंने अधीरा का किरदार निभाया था।

अब जानते हैं कौन से हीरो बने विलेन तो चमक गया करियर

फिल्म 'शैतान' ने बॉक्स ऑफिस पर 100 करोड़ से ज्यादा कमाई कर ली है।

फिल्म ‘शैतान’ ने बॉक्स ऑफिस पर 100 करोड़ से ज्यादा कमाई कर ली है।

शैतान में आर माधवन बने विलेन, फिल्म हुई हिट
​​​​​​​
8 मार्च, 2024 को रिलीज हुई फिल्म शैतान में आर माधवन ने वनराज का किरदार निभाया है, जो काला जादू करता है। इस निगेटिव किरदार में माधवन को बेहद पसंद किया जा रहा है। माधवन को अब तक के करियर में सॉफ्ट रोल में ही देखा गया था, लेकिन शैतान में उन्हें विलेन के तौर पर देखकर फैंस सरप्राइज रह गए हैं। यही वजह है कि फिल्म बॉक्सऑफिस पर 100 करोड़ का कलेक्शन पार कर चुकी है।

बॉबी ने एनिमल में 15 मिनट का रोल किया था, जिसके लिए उन्हें 4-5 करोड़ रुपए की फीस मिली थी।

बॉबी ने एनिमल में 15 मिनट का रोल किया था, जिसके लिए उन्हें 4-5 करोड़ रुपए की फीस मिली थी।

बॉबी के करियर की पहली ब्लॉकबस्टर फिल्म बनी एनिमल
फिल्म एनिमल में बॉबी देओल मेन विलेन बने। उन्हें फिल्म में अबरार के रोल में काफी पसंद किया गया। इस रोल के लिए उन्हें 4-5 करोड़ की फीस दी गई, जो इससे पहले उन्हें किसी फिल्म के लिए नहीं मिली थी।

बॉबी ने अपने 28 साल लंबे करियर में तकरीबन 45 फिल्में कीं, लेकिन इतने लंबे करियर में ‘एनिमल’ ही ऐसी फिल्म है जो कि उनकी पहली ब्लॉकबस्टर साबित हुई, जिसने 950 करोड़ का बिजनेस किया है। कहना गलत नहीं होगा कि बॉबी को विलेन के रोल से नई पहचान मिली है।

वहीं, एनिमल में रणबीर कपूर का रोल भी टिपिकल हीरो की इमेज वाला नहीं था। इसमें उनके कई ग्रे शेड भी नजर आए। रणबीर ने ऐसा किरदार कभी नहीं निभाया था और उन्हें निगेटिव शेड वाले किरदार में भी काफी पसंद किया गया।

1993 में फिल्म बाजीगर के लिए शाहरुख को बेस्ट एक्टर का फिल्मफेयर अवॉर्ड मिला था।

1993 में फिल्म बाजीगर के लिए शाहरुख को बेस्ट एक्टर का फिल्मफेयर अवॉर्ड मिला था।

शाहरुख ने लिया था डर और बाजीगर में रिस्क
​​​​​​​
शाहरुख खान भी उन स्टार्स में से हैं जिन्होंने निगेटिव रोल निभाने से परहेज नहीं किया। ये रिस्क उन्होंने करियर के शुरुआती दौर में बाजीगर और डर जैसी फिल्मों में विलेन बनकर लिया।

1993 में फिल्म बाजीगर के लिए शाहरुख को बेस्ट एक्टर का फिल्मफेयर अवॉर्ड मिला था, जबकि 1993 में ही रिलीज हुई फिल्म डर रिलीज में सनकी आशिक के रोल के लिए उन्हें ‘बेस्ट एक्टर इन ए निगेटिव रोल’ के लिए फिल्मफेयर में नॉमिनेशन मिला था। इन किरदारों में शाहरुख को काफी पसंद किया गया और धीरे-धीरे वो बुलंदियों पर जा पहुंचे।

कभी विलेन को देख खौफ खाते थे लोग
अब एक्टर्स सॉफ्ट हीरो की छवि से अलग ग्रे शेड वाले रोल्स की तरफ मुड़ने का साहस कर रहे हैं। जबकि पहले ऐसा नहीं था। पहले हीरो विलेन या निगेटिव रोल निभाने से डरते थे जिसकी वजह से फिल्ममेकर्स ऐसे एक्टर्स को कास्ट करते थे जिन्हें निगेटिव रोल करने में परेशानी न हो।

इनमें शक्ति कपूर, अमरीश पुरी, कुलभूषण खरबंदा, अमजद खान, रंजीत, प्राण, प्रेम चोपड़ा जैसे एक्टर्स के नाम शामिल हैं, जिन्होंने सिर्फ विलेन के तौर पर फिल्मों में अपनी पहचान बनाई और कई आइकॉनिक किरदारों में अमर हो गए। विलेन के रोल निभाने वाले इन स्टार्स का ऐसा खौफ था कि लोग इन्हें रियल लाइफ में भी विलेन समझने लगते थे।

जानते हैं बॉलीवुड के नामी विलेन्स से जुड़े कुछ किस्से…

प्राण लेते थे हीरो से ज्यादा फीस
7 दशक के एक्टिंग करियर में प्राण ने ऐसे यादगार किरदार निभाए हैं कि लोग उन्हें रियल लाइफ में भी विलेन समझने लगे थे। लोग उन्हें रास्ते में चलता देख ओ लफंगे, ओ गुंडे कहकर गाली तक दे दिया करते थे।

एक बार की बात है। प्राण के पास एक फिल्म का ऑफर आया। उन्होंने काम करने के लिए हामी भर दी, लेकिन प्रोड्यूसर ने कहा कि 500 रुपए फीस नहीं देंगे, क्योंकि फिल्म के हीरो की ही फीस उतनी है। प्राण ने फिल्म करने से मना कर दिया।

बाद में उस प्रोड्यूसर को 100 रुपए ज्यादा फीस दे कर उन्हें कास्ट करना पड़ा। इस तरह उन्हें हीरो से ज्यादा 600 रुपए उस फिल्म के लिए मिले। इसके बाद तो उन्होंने अधिकतर फिल्मों में हीरो से ज्यादा फीस चार्ज की।

362 फिल्मों का हिस्सा रहे प्राण अपने जमाने में इतने पॉपुलर थे कि फिल्ममेकर्स इन्हें हीरो से ज्यादा फीस देते थे।

362 फिल्मों का हिस्सा रहे प्राण अपने जमाने में इतने पॉपुलर थे कि फिल्ममेकर्स इन्हें हीरो से ज्यादा फीस देते थे।

विलेन के रोल में देख मां ने रंजीत को निकाल दिया था घर से बाहर
अपने 5 दशक के करियर में वेटरन एक्टर रंजीत ने करीब 500 से ज्यादा फिल्मों में काम किया होगा। हालांकि, उन्हें असली पहचान अपने नेगेटिव रोल्स के लिए ही मिली।

एक इंटरव्यू में रंजीत ने अपने करियर के पहले नेगेटिव रोल से जुड़ा किस्सा शेयर किया था। रंजीत ने बताया कि फिल्म शर्मीली में जब उनकी मां ने पहली बार उन्हें नेगेटिव रोल में देखा तो उन्हें घर से बाहर निकाल दिया था।

रंजीत ने कहा- ‘फिल्म शर्मीली में एक सीन था जिसमें मैं राखी के साथ जबरदस्ती करता हूं। इसे देखने के बाद मेरी फैमिली थिएटर से बाहर निकल आई। शाम में जब मैं घर पहुंचा तो मां ने मुझसे कहा कि तेरी हिम्मत कैसे हुई घर के अंदर आने की? तू औरतों के कपड़े फाड़ता है, ये किस तरह का काम है? निकल जा मेरे घर से बाहर।’

प्रेम चोपड़ा को देख पत्नी से कहते थे लोग-अपना चेहरा छुपा लो
​​​​​​​
वेटरन एक्टर प्रेम चोपड़ा जब फिल्मों में आए तो विलेन के रोल में ऐसे जंचे कि रियल लाइफ में भी लोग उन्हें विलेन समझने लगे। एक बार प्रेम अपनी बेटी को फिल्म प्रीमियर में ले गए थे। फिल्म के दौरान पूरे वक्त बेटी उन्हें सिर्फ घूर रही थीं।

यहां तक कि विलेन के रोल में देखने के बाद बेटी ने उनसे बात ही करना बंद कर दिया था। बाद में प्रेम ने उन्हें समझाया कि फिल्मों में उनका ये काम है, इसलिए उन्हें ये करना पड़ता है। रियल लाइफ में वो बिल्कुल अलग हैं। काफी समझाने के बाद बेटी ने उनसे बात करना शुरू किया।

प्रेम चोपड़ा ने अधिकतर फिल्मों में महिलाओं के साथ सही सलूक नहीं किया है। रियल लाइफ में भी उनकी इस इमेज का असर पड़ा। उन्होंने एक इंटरव्यू में बताया था कि वो एक बार चंडीगढ़ के पंचकुला गार्डन में अपने पिता से मिलने गए थे। वो वहां घूम ही रहे थे तभी दूर खड़े 4-5 आदमियों की नजर उन पर पड़ी।

प्रेम को देखते ही उन्होंने अपनी पत्नियों से कह दिया कि वो सभी अपना चेहरा छुपा लें। दूर से ही प्रेम को सारी बातें समझ में आ गईं और वो हंस कर वहां से चले गए।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!