National News

जयपुर में शराब कारोबारी की हत्या करने आए थे बदमाश:अजमेर हाई सिक्योरिटी जेल से मिला था टास्क, सिग्नल ऐप पर हुई थी बात

TIN NETWORK
TIN NETWORK

जयपुर में शराब कारोबारी की हत्या करने आए थे बदमाश:अजमेर हाई सिक्योरिटी जेल से मिला था टास्क, सिग्नल ऐप पर हुई थी बात

जयपुर

अलवर में हत्या के मामले में जेल से जमानत पर छूटने के बाद हथियार लेकर आए 3 बदमाशों को जयपुर पुलिस ने गिरफ्तार किया था। पूछताछ में सामने आया कि ये बदमाश जयपुर में ठिकाना बनाने नहीं, बल्कि एक शराब कारोबारी का मर्डर करने आए थे।

इन बदमाशों को अजमेर की हाई सिक्योरिटी जेल से शराब कारोबारी की हत्या का टास्क दिया गया था। हाई सिक्योरिटी जेल में बंद हत्यारों से सिग्नल ऐप पर शराब कारोबारी की हत्या करने का आदेश मिलने पर तीनों बदमाश स्कूटी लेकर निकले थे। हत्या करने से पहले ही तीनों बदमाश हरमाड़ा थाना पुलिस के हत्थे चढ़ गए।

पुलिस ने बदमाशों की घेराबंदी की तो वह पत्थरों पर कूद गए, जिसके कारण उनके पैरों में चोटें आई।

पुलिस ने बदमाशों की घेराबंदी की तो वह पत्थरों पर कूद गए, जिसके कारण उनके पैरों में चोटें आई।

एडिशनल कमिश्नर कैलाश बिश्नोई ने बताया कि 11 मार्च को सुबह डीएसटी से हरमाड़ा थाना पुलिस को सूचना मिली थी। स्कूटी सवार 3 बदमाश हरमाड़ा की तरफ आ रहे हैं। इन बदमाशों के पास अवैध हथियार हो सकते हैं।

जांच के दौरान सीकर रोड पर 3 संदिग्ध स्कूटी सवार दिखाई दिए। इस पर हरमाड़ा थाना पुलिस की टीम ने उन्हें रोकने का प्रयास किया। पुलिस को देखकर तीनों बदमाशों ने स्कूटी भगाने की कोशिश की।

बदमाशों का पीछा करते हुए पुलिस टीम नींदड़ की पहाड़ियों में जा पहुंची। वन विभाग की दीवार आने पर पीछे बैठे दोनों बदमाश उतरकर पैदल भागने लगे। पुलिस टीम ने घेराबंदी कर स्कूटी सवार बदमाश को पकड़ लिया। ये देखकर दोनों बदमाश वन विभाग की दीवार को कूदकर पहाड़ियों की तरफ भाग गए।

तलाशी में मिले अवैध हथियार
पुलिस टीम के पीछा करने पर दोनों बदमाश वन विभाग की दीवार के पास नीचे गड्ढे में पत्थरों पर गिरकर चोटिल हो गए। दोनों बदमाशों को पुलिस ने बाहर निकाला। तलाशी लेने पर उनके पास अवैध हथियार मिले।

पुलिस ने तीनों बदमाश उर्वेश मीणा (23) पुत्र हरसहाय मीणा निवासी भोटवाडा महावीरजी (करौली), कुश अग्रवाल (22) पुत्र श्याम सुंदर निवासी महावीरजी (करौली) और आकाश बंजारा (25) पुत्र वेदप्रकाश निवासी हरदुआगंज इलाका, अलीगढ़ (उत्तर प्रदेश) को गिरफ्तार कर लिया।

बदमाशों से मिली एक पिस्तौल, एक देसी कट्‌टा, 7 कारतूस और स्कूटी को जब्त किया गया। पैर में चोट लगने से घायल बदमाश उर्वेश मीणा और आकाश बंजारा को SMS हॉस्पिटल में भर्ती करवाया।

इन बदमाशों ने शराब कारोबारी की हत्या करने के लिए पूरी रेकी की थी, लेकिन पुलिस ने पहले ही उनको पकड़ लिया।

इन बदमाशों ने शराब कारोबारी की हत्या करने के लिए पूरी रेकी की थी, लेकिन पुलिस ने पहले ही उनको पकड़ लिया।

शराब कारोबारी की करनी थी हत्या
पुलिस पूछताछ में सामने आया है कि हत्या के मामले में दो बदमाश अजमेर की हाई सिक्योरिटी जेल में बंद है। जेल से बाहर मौजूद उनके साथी ने हाई सिक्योरिटी जेल में बंद दोनों बदमाशों से सिग्नल ऐप के जरिए उर्वेश मीणा और आकाश बंजारा की बात करवाई थी। जेल में बंद बदमाशों के कहने पर एक शराब कारोबारी की हत्या की प्लानिंग की गई थी।

होटल में ठहरकर की थी रेकी, टारगेट मिस होने पर बचा
पूछताछ में सामने आया कि शराब कारोबारी की हत्या के लिए बदमाश उत्तर प्रदेश से हथियार लेकर जयपुर आए थे। कुछ दिन पहले होटल में रुक कर शराब कारोबारी के घर और ठिकानों की रेकी की थी। रेकी के बाद हत्या कर भागने की प्लानिंग बना ली गई थी। प्लानिंग के तहत पिछले हफ्ते शराब कारोबारी की हत्या के लिए निकले थे। रेकी किए गए ठिकाने पर पहुंचने पर शराब कारोबारी नहीं मिला। इस पर बदमाशों को बिना हत्या किए ही वहां से निकलना पड़ा।

हत्या करने से पहले पुलिस ने पकड़ा
पूछताछ में बदमाशों ने बताया कि पिछली बार टारगेट मिस होने के कारण शराब कारोबारी की दोबारा रेकी की गई। उसके बाकी ठिकानों के साथ आने-जाने के टाइम को भी नोट किया गया। शराब कारोबारी के ठिकाने की पुख्ता लोकेशन होने पर सोमवार तड़के हत्या करने के लिए निकले थे। हत्या करने से पहले ही पुलिस ने उनको पकड़ लिया।

चाकू से गला रेतकर की थी हत्या
पुलिस ने बताया कि साल-2018 में बदमाश उर्वेश का अलवर में करौली निवासी दीपक से बाइक को लेकर झगड़ा हो गया था। रंजिश के चलते उर्वेश ने दीपक मीणा को रेलवे लाइन के पास बुलाया। जब दीपक मिलने पहुंचा तो उर्वेश ने अपने साथी आकाश के साथ मिलकर चाकू से गला रेतकर उसकी हत्या कर दी थी। ट्रेन से एक्सीडेंट दिखाने के लिए शव को रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया था। अलवर पुलिस ने दीपक की हत्या के मामले में दोनों को अरेस्ट कर जेल भेज दिया था।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!