DEFENCE, INTERNAL-EXTERNAL SECURITY AFFAIRS

तीनों सेनाओं का भारत शक्ति युद्धाभ्यास:मंगलवार को स्वदेशी हथियारों का होगा प्रदर्शन, पीएम मोदी 300 कार्यकर्ताओं से करेंगे संवाद

TIN NETWORK
TIN NETWORK

तीनों सेनाओं का भारत शक्ति युद्धाभ्यास:मंगलवार को स्वदेशी हथियारों का होगा प्रदर्शन, पीएम मोदी 300 कार्यकर्ताओं से करेंगे संवाद

जैसलमेर

जैसलमेर। भारत-शक्ति युद्धाभ्यास देखने पीएम मोदी आएंगे जैसलमेर। - Dainik Bhaskar

जैसलमेर। भारत-शक्ति युद्धाभ्यास देखने पीएम मोदी आएंगे जैसलमेर।

भारत शक्ति युद्धाभ्यास में शिरकत करने के​ लिए पीएम मोदी 12 मार्च को जैसलमेर आएंगे। इस युद्धाभ्यास में भाजपा के 300 से ज्यादा कार्यकर्ता भी शामिल होंगे। बताया जा रहा है कि इस दौरान पीएम मोदी उनसे संवाद भी करेंगे। इसको लेकर जिला प्रशासन ने सभी तैयारियां पूरी कर ली है। पीएम मोदी के साथ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह व तीनों सेनाओं के सेनाध्यक्ष समेत कई सैन्य अधिकारी इसमें शिरकत करेंगे।

इस कार्यक्रम में पहली बार भारत कि तीनों सेनाओं द्वारा आत्मनिर्भर भारत के तहत बने स्वदेशी हथियारों और विमानों के इस्तेमाल का प्रदर्शन पोकरण स्थित फील्ड फायरिंग रेंज में किया जाएगा। इस कार्यक्रम को लेकर पहली बार बीजेपी के 300 कार्यकर्ताओं को भी कार्यक्रम देखने के लिए आमंत्रित किया गया है। इस दौरान प्रधानमंत्री भाजपा कार्यकर्ताओं, युवाओं व महिलाओं से संवाद भी कर सकते हैं।

महिलाएं व बालिकाएं भी होंगी शामिल
बीजेपी जिलाध्यक्ष चन्द्र प्रकाश शारदा ने बताया कि कार्यक्रम में जिन लोगों को ले जाया जाएगा। उन्हें 12 मार्च को सुबह 6 बजे शहीद पूनम सिंह स्टेडियम बुलवाया गया है। वहां उनकी चैकिंग के बाद मौके पर ही लिस्ट के अनुसार पास बनाएं जाएंगे। इन लोगों में 50 फीसदी महिलाएं और बालिकाएं मौजूद रहेंगी। वहीं, अन्य 50 फीसदी में अधिक से अधिक युवाओं को शामिल करने की योजना बनाई है। जिलाध्यक्ष ने बताया कि इस कार्यक्रम में स्वदेशी हथियारों के प्रदर्शन को देखने व पीएम मोदी के नेतृत्व में देश को आत्मनिर्भर बनते देखने का जो मौका भारत शक्ति में शिरकत करने के रूप में मिल रहा है। उससे भाजपा के कार्यकर्ताओं सहित युवाओं व महिलाओं में भी उत्साह है।

स्वदेशी हथियारों का होगा प्रदर्शन

युद्धाभ्यास में भाग लेने वाले प्रमुख उपकरण और हथियार प्रणालियों में टी-90 (आईएम) टैंक, धनुष और सारंग गन सिस्टम, आकाश हथियार प्रणाली, लॉजिस्टिक्स ड्रोन, रोबोटिक ड्रोन, हल्के हेलीकॉप्टर (एएलएच) और मानव रहित हवाई की एक श्रृंखला शामिल है। भारतीय सेना के अन्य वाहन, उन्नत जमीनी युद्ध और हवाई निगरानी क्षमताओं का प्रदर्शन कर रहे हैं। नौसेना समुद्री ताकत और तकनीकी परिष्कार को उजागर करते हुए नौसेना एंटी-शिप मिसाइलों, स्वायत्त कार्गो ले जाने वाले हवाई वाहनों और व्यय योग्य हवाई लक्ष्यों का प्रदर्शन करेगी।

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!