National News

तीन तालाबों की कायापलट करेगा कोल इंडिया:हर्षोलाव तालाब पर 45 लाख रुपए खर्च होंगे, देवीकुंड सागर पर 25 लाख रुपए के काम होंगे

TIN NETWORK
TIN NETWORK

तीन तालाबों की कायापलट करेगा कोल इंडिया:हर्षोलाव तालाब पर 45 लाख रुपए खर्च होंगे, देवीकुंड सागर पर 25 लाख रुपए के काम होंगे

बीकानेर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहल पर देशभर में तालाबों को विकसित करने के लिए बीकानेर के तीन तालाबों पर करीब 75 लाख रुपए खर्च होंगे। ये राशि कोल इंडिया की ओर से कॉरपोरेट सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी (सीएसआर) के तहत खर्च किए जाएंगे। केंद्रीय कानून मंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने मंगलवार को दो तालाबों पर पूजन करके इस कार्य की शुरूआत की। अगले छह महीने में दोनों तालाबों का कायाकल्प करने का दावा किया जा रहा है।

केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल देवीकुंड तालाब में शुद्धिकरण कार्यक्रम से पहले पूजन करते हुए।

केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल देवीकुंड तालाब में शुद्धिकरण कार्यक्रम से पहले पूजन करते हुए।

हर्षोलाव, देवीकुंड और सागर तालाब में कोल इंडिया के फंड से सोशल अम्ब्रेला फाउंडेशन और विन फ्लूएंश्यिल टेक्नोलॉजी के माध्यम से तालाबों के आयुर्वेदिक पद्धति से शुद्धीकरण का काम होगा। इस दौरान तालाब की सफाई, पारिस्थितिक जल उपचार कायाकल्प होगा।

हर जिले के 75 तालाबों पर काम

इस मौके पर मेघवाल ने कहा कि आजादी के 75 साल पूर्ण होने पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के निर्देशानुसार देश के प्रत्येक जिले में 75 तालाब विकसित करने का बीड़ा उठाया गया। इनमें पुराने तालाबों का संरक्षण किया गया तथा नए तालाब भी तैयार किए जा रहे हैं। इसी श्रृंखला में सीएसआर मद से भी विभिन्न तालाबों का पुनरोद्धार किया जा रहा है।

केन्द्रीय कानून मंत्री ने कहा कि हमारे पुरखों ने शहरी क्षेत्र में अनेक तालाब खुदवाए। इनका रखरखाव किया। इनके लिए पायतान की जमीन छोड़ी, जिससे पानी की आवक हो सके। एक दौर में यह तालाब पेयजल के प्रमुख माध्यम होते थे। इन तालाबों का संरक्षण हमारी जिम्मेदारी है।

हर्षोलाव पर सर्वाधिक खर्च

मेघवाल ने बताया कि सोशल अम्ब्रेला फाउंडेशन द्वारा तीनों तालाबों में 74 लाख रुपये व्यय किए जाएंगे। इनमें हर्षोलाब तालाब में 45 लाख, देवीकुंड में 19 और सागर में 23 लाख रुपये व्यय किए जाएंगे। इसके तहत तालाब के पानी का आयुर्वेदिक और वैज्ञानिक तरीके से उपचार किया जाएगा, जिससे कि यह पानी पीने योग्य हो सके। हर्षोलाव तालाब में आयोजित कार्यक्रम में अमरेश्वर हर्ष जातीय ट्रस्ट के रामकुमार हर्ष ने स्वागत किया। ट्रस्ट के उपाध्यक्ष प्रेम नारायण हर्ष ने मेघवाल का स्वागत किया, जबकि वरिष्ठ अधिवक्ता ओपी हर्ष ने आभार व्यक्त किया। सोशल अम्ब्रेला फाउण्डेशन के देव शुक्ला ने पानी के रखरखाव के लिए की जाने वाली गतिविधि के बारे में बताया। कार्यक्रम का संचालन रविन्द्र हर्ष ने किया। विक्टोरियस सीनियर सैकण्डरी स्कूल के विद्यार्थियों ने वैदिक मंत्रों की प्रस्तुति दी। इस दौरान मोती लाल हर्ष, प्रेम नारायण हर्ष, रामकुमार हर्ष, शिव कुमार रंगा, सम्पत पारीक, आनंद कुमार हर्ष, उप महापौर राजेन्द्र पंवार, पार्षद सुधा आचार्य, अनिल हर्ष, मुकेश पंवार, ओंकार नाथ हर्ष, नितिन हर्ष, विजय शंकर हर्ष, लक्ष्मण मोदी, संजय हर्ष, मनोज व्यास आदि मौजूद रहे।

वहीं सागर में आयोजित कार्यक्रम में सरपंच राम दयाल गोदारा ने विचार रखे। इस दौरान परियोजना प्रमुख रचना कालरा, चम्पालाल गेदर, गुमान सिंह राजपुरोहित, महावीर सिंह चारण, भंवर लाल, रामलाल चाहर, शालूराम, मोहन राम, किशन लाल नैण, भैराराम सोखल, सूरजाराम, हीराराम, हेमंत कुमार, दशरथ सुथार और प्रेम कुमार सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!