National News

सीकर के CRPF जवान की एक्सीडेंट में मौत:दिल्ली में पीएम की सुरक्षा में तैनात थे, 8 साल के बेटे ने दी मुखाग्नि

TIN NETWORK
TIN NETWORK

सीकर के CRPF जवान की एक्सीडेंट में मौत:दिल्ली में पीएम की सुरक्षा में तैनात थे, 8 साल के बेटे ने दी मुखाग्नि

सीकर

सीकर जिले के गांव सौंथलिया निवासी सीआरपीएफ के जवान मुकेश कुमार मील की इलाज के दौरान मौत गई। - Dainik Bhaskar

सीकर जिले के गांव सौंथलिया निवासी सीआरपीएफ के जवान मुकेश कुमार मील की इलाज के दौरान मौत गई।

सीकर जिले के गांव सौंथलिया निवासी सीआरपीएफ के जवान मुकेश कुमार मील (31) की इलाज के दौरान मौत गई। वे दिल्ली में पीएम की सुरक्षा में तैनात थे। उनका 9 फरवरी को श्रीमाधोपुर में एक्सीडेंट हुआ था जिसमें वे गंभीर रूप से घायल हो गए थे। जयपुर के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में मुकेश कुमार का इलाज चल रहा था।

मुकेश कुमार मील दिल्ली में पीएम की सुरक्षा में तैनात थे।

मुकेश कुमार मील दिल्ली में पीएम की सुरक्षा में तैनात थे।

सीआरपीएफ, जयपुर बटालियन की टीम पार्थिव देह को सेना के वाहन में रख कर जयपुर से श्रीमाधोपुर के सरकारी अस्पताल पहुंची। जहां पुलिस ने शव का पोस्टमॉर्टम करवा कर सीआरपीएफ के जवानों को सुपुर्द कर दिया। सेना के वाहन को फूल-मालाओं से सजाकर पार्थिव देह को वाहन में रख कर ग्राम पंचायत बावड़ी के पैतृक गांव सौंथलिया के लिए बाईक तिरंगा रैली व डीजे के साथ रवाना हुए। अस्पताल में पोस्टमॉर्टम के दौरान खण्डेला विधायक सुभाष मील भी मौजूद रहे।

बेटे चिराग को तिरंगा देते हुए जनप्रतिनिधि व सीआरपीएफ के जवान।

बेटे चिराग को तिरंगा देते हुए जनप्रतिनिधि व सीआरपीएफ के जवान।

मुकेश कुमार के चाचा सुरेश मील ने बताया कि मुकेश दिल्ली में सीआरपीएफ की बटालियन में पीएम सुरक्षा में तैनात थे। मुकेश 8 फरवरी को गांव आए हुए थे। 9 फरवरी को वह निजी काम के लिए श्रीमाधोपुर गए थे। इस दौरान श्रीमाधोपुर बाईपास रोड पर बाइक व डंपर की भिड़ंत में मुकेश मील गंभीर घायल हो गए। डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद जयपुर रेफर कर दिया।

मुकेश कुमार के 8 साल का बेटा व 5 साल की बेटी अक्षिता।

मुकेश कुमार के 8 साल का बेटा व 5 साल की बेटी अक्षिता।

मंगलवार को मुकेश की इलाज के दौरान मौत हो गई। जिसके बाद पैतृक गांव सौंथलिया में राजकीय सम्मान के साथ जवान का अंतिम संस्कार किया गया। जवान की पार्थिव देह पर जनप्रतिनिधियों, ग्रामीणों, पुलिस व सीआरपीएफ बटालियन के जवानों ने पुष्प अर्पित कर अंतिम विदाई दी। जवान के 8 साल के बेटे चिराग ने अपने पिता को मुखाग्नि दी। सीआरपीएफ टीम व विधायक ने जवान मुकेश मील के बेटे चिराग को तिरंगा सौंपा।

सुरेश मील ने बताया कि जवान मुकेश मील के पिता रामेश्वर लाल मील का करीब पांच वर्ष पहले ब्रेन हेमरेज से निधन हो गया था। वह अपने पिता के इकलौते बेटे थे। जवान मुकेश के आठ वर्षीय पुत्र चिराग व पांच वर्षीय पुत्री अक्षिता है। जवान की पार्थिव देह को देखकर पत्नी सुमन कुमारी व मां कमला देवी व परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है। मुकेश मील की 2011 में सीआरपीएफ अजमेर में ज्वाइनिंग हुई थी। मुकेश मील की शादी 2013 में हुई थी।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Google News
error: Content is protected !!