National News

रहस्यमयी आग से परेशान राजस्थान के भेंसली गांव में अब पुलिस पर हमला, खेतों में भाग कर बचानी पड़ी जान

TIN NETWORK
TIN NETWORK

रहस्यमयी आग से परेशान राजस्थान के भेंसली गांव में अब पुलिस पर हमला, खेतों में भाग कर बचानी पड़ी जान

रहस्यमयी आग से परेशान भेसली गांव में पुलिस पर हमला कर दिया गया। ग्रामीणों ने पुलिस पर पथराव किया। लाठियों से वार कर पुलिस की गाड़ी को क्षतिग्रस्त कर दिया। जवानों को खेत में भागकर अपनी जान बचानी पड़ी।

churu_fire_news.jpg

चूरू/सादुलपुर. रहस्यमयी आग से परेशान भेसली गांव में बुधवार को पुलिस पर हमला कर दिया गया। ग्रामीणों ने पुलिस पर पथराव किया। लाठियों से वार कर पुलिस की गाड़ी को क्षतिग्रस्त कर दिया। जवानों को खेत में भागकर अपनी जान बचानी पड़ी। हमले में पुलिस के तीन जवान चोटिल हो गए हैं। वहीं हमले की सूचना पर पुलिस के आलाधिकारी मौके पर पहुंचे। पुलिस ने समझाइश से मामला शांत किया। मौके पर कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस का अतिरिक्त जाब्ता तैनात किया गया है। जबकि ग्रामीणों का कहना है कि गांव के भूप सिंह के मकान में लगातार गत पन्द्रह दिनों से आग लग रही है। शिकायतों के बावजूद प्रशासन और पुलिस की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।

आग की सूचना पर पहुंची थी पुलिसfire_in_churu.jpg


जानकारी के अनुसार गांव में बुधवार सुबह आग लग गई। जिस पर पुलिस मौके पर पहुंची। इसी दौरान ग्रामीण आक्रोशित हो गए। ग्रामीणों ने पुलिस पर हमला कर दिया। पुलिस की गाड़ी को क्षतिग्रस्त कर दिया। वही अचानक हुए हमले से पुलिस भी घबरा गई तथा खेतों में भाग कर पुलिस को जान बचानी पड़ी। सूचना पर पहुंचे आईपीएस प्रशांत किरण तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक किशोरी लाल ने ग्रामीणों से वार्ता की है। साथ ही उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया है। आक्रोशित ग्रामीणों ने कहा कि गत 15 दिनों से लगातार शासन और प्रशासन को सूचना दी जा रही है, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हो रही है।

फायरबिग्रेड की गाड़ी के चले जाने से बिगड़ा मामलाchuru_police.jpg

ग्रामीणों ने बताया कि बुधवार को सुबह अचानक पशु चारे में आग लग गई तथा तेज हवाओं के कारण आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। फायर ब्रिगेड बुलाकर आग पर काबू भी पाया, लेकिन गांव में बिजली नहीं होने के कारण पानी की व्यवस्था होना संभव नहीं था। जिस पर ग्रामीण फायर ब्रिगेड की गाड़ को मौके पर ही रखना चाहते थे। ताकि फिर से आग लगने पर काबू पाया जा सके। लेकिन फायर ब्रिगेड चालक पानी लाने की बात कहकर वहां से चला गया। इसी आक्रोश का पुलिस को सामना करना पड़ा। ग्रामीणों ने कहा कि सूचना देने के बावजूद पुलिस समय पर नहीं पहुंची और ना ही फायर ब्रिगेड को रोका गया और ना वापस बुलाया गया।

यह है मामलाchuru_news.jpg

गांव के ही भूप सिंह के मकान में गत 15 दिनों से लगातार अज्ञात कारणों के चलते आग लग रही है। मकान में रखे कपड़ों पशु चारा घरेलू सामान सहित मकान के किसी भी हिस्से में अचानक आग लग जाती है, जिसके कारण गांव में भय का वातावरण बना हुआ है। पीड़ित भूपसिह की दादी कस्तूरी देवी 82वर्ष की मौत एक फरवरी को हो गई। तथा 13 फरवरी को उसके चार वर्षीय पुत्र गर्वित की मृत्यु हो गई।जिसके बाद 28 फरवरी को भूप सिंह के दूसरे पुत्र अनुराग सात वर्ष ,की भी मौत हो गई। उन्होंने बताया कि सभी की मौत एक बार उल्टी होने के बाद हुई।भूप सिंह के दो पुत्र थे दोनों ही काल का शिकार हो गए। जिसके बाद परिवार भयभीत ओर सदमे में है। तीन मोत के बाद घर मे आग का तांडव शरू हो गया।


इनका कहना है…

गत दस पन्द्रह दिनों से गांव भेसली में अज्ञात कारणों के रहस्यमयी आग लगने की घटना हो रही है। आज भी सुबह आग लगने की सूचना मिली जिस पर पुलिस मौके पर पहुंची तो ग्रामीणों की भीड़ ने पुलिस के साथ धक्का मुक्की की और पुलिस की गाड़ी को क्षतिग्रस्त कर दिया। तथा घटना में तीन पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। आग लगने के कारणों पर भी की जांच की जाएगी।

किशोरी लाल अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, सादुलपुर

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!