National News

हमारी दोस्ती फौलाद जैसी मजबूत… जरदारी को राष्ट्रपति बनने की बधाई देते हुए जिनपिंग की बड़ी-बड़ी बातें

TIN NETWORK
TIN NETWORK

हमारी दोस्ती फौलाद जैसी मजबूत… जरदारी को राष्ट्रपति बनने की बधाई देते हुए जिनपिंग की बड़ी-बड़ी बातें

चीनी राष्ट्रपति ने आसिफ जरदारी को बधाई देते हुए कहा कि दोनों देशों के बीच संबंध बेहद खास हैं। वह इसे ज्यादा मजबूत करने के लिए काम करने की इच्छा रखते हैं। जिनपिंग ने शहबाज को पाकिस्तान का प्रधानमंत्री चुने जाने पर भी दोनों देशों के रिश्तों का बखान किया था।

हाइलाइट्स

  • आसिफ जरदारी ने जीता है पाकिस्तान का राष्ट्रपति चुनाव
  • दूसरी बार पाकिस्तान के प्रेसीडेंट बने हैं आसिफ जरदारी
  • जरदारी के चुनाव जीतने पर चीनी नेता ने दी उनको बधाई
Pakistan China
आसिफ अली जरदारी और शी जिनपिंग।

बीजिंग: चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंगग ने पाकिस्तान का राष्ट्रपति चुनाव जीतने पर आसिफ अली जरदारी को बधाई दी है। जिनपिंग ने जरदारी को अपने बधाई संदेश में पाकिस्तान और चीन की दोस्ती को फौलाद जैसी मजबूत और ऐतिहासिक कहा। साथ ही कहा कि विश्व में आ रहे बदलावों की वजह से चीन-पाकिस्तान की दोस्ती का रणनीतिक महत्व और ज्यादा बढ़ गया है। पाकिस्तान में शनिवार को हुए चुनाव में आसिफ अली जरदारी राष्ट्रपति चुने गए हैं। राष्ट्रपति चुनाव में पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के नेता आसिफ अली जरदारी को 411 वोटों के साथ विजेता घोषित किया गया, उनके प्रतिद्वंद्वी महमूद अचकजई को 181 वोट मिले। आसिफ अली जरदारी करीब 11 साल बाद दूसरी बार पाकिस्तान के शीर्ष संवैधानिक पद पर पहुंचे हैं। आसिफ जरदारी सितंबर 2008 से 2013 तक पाकिस्तान के राष्ट्रपति रह चुके हैं।

चीन की सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ के अनुसार, आसिफ जरदारी को भेजे अपने संदेश में जिनपिंग ने कहा कि चीन और पाकिस्तान बेहतरीन पड़ोसी, दोस्त, अच्छे साझेदार और अच्छे भाई हैं। दोनों देशों की फौलाद जैसी दोस्ती इतिहास की पसंद और दोनों के लिए एक अनमोल खजाना है। जिनपिंग ने कहा, “दोनों देशों ने अपने मूल हितों और प्रमुख चिंताओं से जुड़े मुद्दों पर एक-दूसरे का समर्थन किया है। आज जबकि दुनिया तेजी से हो रहे ऐसे परिवर्तनों से गुजर रही है जो पहले कभी नहीं देखे गए। ऐसे में चीन-पाकिस्तान संबंधों का महत्व ज्यादा बढ़ गया है। चीन हमेशा ही पाकिस्तान के साथ संबंधों का सम्मान करता रहा है और भविष्य में संबंधों को घनिष्ठ करने की दिशा में जरदारी के साथ मिलकर काम करने के लिए तैयार है।”

पाकिस्तान के मंझे हुए राजनेताओं में शुमार हैं जरदारी

आसिफ अली जरदारी को पाकिस्तान के मंझे हुए राजनेताओं में गिना जाता है। बीते कई सालों से वह राजनीति में सक्रय हैं। जरदारी पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत बेनजीर भुट्टो के पति और जुल्फिकार भुट्टो के दामाद हैं। जुल्फिकार भुट्टो 70 के दशक में पाकिस्तान के राष्ट्रपति और पीएम रहे थे। जरदारी के बेटे बिलावल भुट्टो भी राजनीति में हैं और पाकिस्तान के विदेश मंत्री रह चुके हैं। इस समय भी उनकी पार्टी पीपीपी सरकार में साझीदार है।

आसिफ अली जरदारी को छह दलों के गठबंधन की ओर से राष्ट्रपति पद के लिए नामित किया गया था। आसिफ जरदारी को नेशनल असेंबली में कुल 255 वोट मिले हैं। दूसरे नंबर पर रहे महमूद अचकजई को 119 मत मिले। नेशनल असेंबली और चारों प्रान्तों में आसिफ जरदारी को कुल 411 चुनावी वोट मिले, जबकि अचकजई को कुल 181 वोट हासिल हुए।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!