NATIONAL NEWS

POK का मुसलमान भारत में मुफ्त नहीं आना चाहिए:तोगड़िया बोले- ‘हिंदुत्व का अर्थ ये नहीं कि दुनिया का कचरा भारत में लेकर आओ’

TIN NETWORK
TIN NETWORK

POK का मुसलमान भारत में मुफ्त नहीं आना चाहिए:तोगड़िया बोले- ‘हिंदुत्व का अर्थ ये नहीं कि दुनिया का कचरा भारत में लेकर आओ’

अंतर्राष्ट्रीय हिंदू परिषद के संस्थापक डॉक्टर प्रवीण भाई तोगड़िया ने कहा- हमें POK चाहिए लेकिन वहां का एक भी मुसलमान मुफ्त में नहीं चाहिए। हिंदुत्व का अर्थ यह नहीं है कि दुनिया का पूरा कचरा भारत में लेकर आओ। हिंदुत्व का अर्थ यह है कि हिंदुत्व के लिए डटकर खड़े रहने वालों की सुरक्षा करो,सम्मान करो।

सीकर के बजाज रोड पर जैन भवन में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए तोगड़िया ने कहा- POK के लोग भूखे मर रहे हैं। वे मांग करते है कि हमें भारत में जोड़ दो। मेरा मत है कि 1947 में जिन्होंने हिंदुओं पर अत्याचार किया। उस POK का एक भी मियां मुफ्त में भी भारत में नहीं आना चाहिए।

दीप प्रज्वल्लन कर कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए तोगड़िया।

हिंदू पर अत्याचार करने वालों को हम नहीं खिलाएंगे

तोगड़िया बोले- जनसंघ के संस्थापक बलराज मधोक POK के रहने वाले थे। उनके पुरखों को भूखे मरने वाले मियों ने ही भगाया था इसलिए उन्हें भूखे ही मरने दो। पुरखों पर अत्याचार करने वाले हमें भारत में नहीं चाहिए। बलराज के साथ मेरा भी 30 साल का नाता था। किस परिस्थिति में POK से बलराज के पुरखों को मारकर भगाया था।

तोगड़िया बोले- हम POK पर कब्जा करेंगे और वहां रहने वाले मियों को अरबिस्तान भगा देंगे। हिंदू पर अत्याचार करने वालों को हम नहीं खिलाएंगे। भूखे मरते हैं तो मरने दो। हिंदुत्व का अर्थ यह नहीं है कि दुनिया का पूरा कचरा भारत में लेकर आओ। हिंदुत्व का अर्थ है कि हिंदुत्व के लिए डटकर खड़े रहने वालों की सुरक्षा करो, सम्मान करो। बंगाल से आए हिंदुओं को नागरिकता तो मिल रही है लेकिन सरकार को उन्हें मुफ्त में रहने के लिए घर देना चाहिए। इसके अलावा उन लोगों की शिक्षा और रोजगार के लिए भी सुविधा दें।

राम मंदिर के लिए पूरा देश एक होकर लड़ा

कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा- 500 साल से हमारे पूर्वज राम मंदिर के लिए लड़ रहे थे। शौर्य,पराक्रम और बलिदान हुआ लेकिन मंदिर अब ही क्यों बना क्योंकि इस बार राम मंदिर के लिए पूरा देश एक होकर लड़ा था।

राम मंदिर के लिए राजस्थान का बेटा शरद कोठारी भी बलिदान हुआ। अब अंत में बाबर का ढांचा ढहाकर बाबर की छाती पर हमने मंदिर बना दिया। मंदिर बनाने के लिए बाबरी मस्जिद की चारों ओर की जमीन खरीदना शुरू किया। 89 तक अयोध्या में ढाई एकड़ जमीन हमने खरीद ली। बाबर के ढांचे को पांव रखने तक की जगह नहीं मिली।

धर्म रक्षा निधि और सम्मेलन में मौजूद कार्यकर्ता।

मुसलमानों की जनसंख्या बढ़ रही

तोगड़िया ने कहा- जब देश आजाद हुआ तब हम 87 प्रतिशत थे और आज 77 प्रतिशत हो चुके हैं। मियें 250 प्रतिशत बढ़े जो 6 से 15 प्रतिशत हो गए। ऐसा ही रहा तो हिंदुओं को 77 से 47 होने में 50 साल भी नहीं लगेंगे। सुरक्षित और सम्मान युक्त हिंदू के लिए तीन रास्ते हैं-

  • जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू किया जाए जिससे कि मुसलमान की बढ़ती हुई जनसंख्या रोकी जा सकें।
  • 5 करोड़ बांग्लादेशी मुसलमान को भागना चाहिए या नहीं।
  • भारत में हर गली और मोहल्ले में हनुमान चालीसा होनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि यदि सीकर में 200 जगह हनुमान चालीसा होगी और वहां से कोई ऐलान होगा तो 2 से 5 हजार हिंदू आएंगे या नहीं। यदि भारत में एक लाख जगह हनुमान चालीसा होगी तो वहां चार-पांच करोड़ हिंदू आएंगे तो इनकी नानी याद आएगी या नहीं।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

error: Content is protected !!