National News

SOG का डर, रात में चोरी-छिपे पढ़ते थे ट्रेनी SI:पहली गिरफ्तारी के बाद खरीदीं कॉम्पिटिशन की किताबें; राजस्थान का इतिहास-भूगोल रटने में जुटे

TIN NETWORK
TIN NETWORK

SOG का डर, रात में चोरी-छिपे पढ़ते थे ट्रेनी SI:पहली गिरफ्तारी के बाद खरीदीं कॉम्पिटिशन की किताबें; राजस्थान का इतिहास-भूगोल रटने में जुटे

गिरफ्तार ट्रेनी एसआई से पूछताछ में रोज नए खुलासे हो रहे हैं। हिरासत में लिए गए सब इंस्पेक्टर की गिरफ्तारी होगी या नहीं इसका निर्णय आज होगा। - Dainik Bhaskar

गिरफ्तार ट्रेनी एसआई से पूछताछ में रोज नए खुलासे हो रहे हैं। हिरासत में लिए गए सब इंस्पेक्टर की गिरफ्तारी होगी या नहीं इसका निर्णय आज होगा।

एसआई भर्ती परीक्षा 2021 में नकल कर पास हुए 15 और ट्रेनी SI एसओजी के शिकंजे में आ गए हैं। इससे पहले एसओजी ने 14 ट्रेनी सब इंस्पेक्टर को गिरफ्तार किया था। पहली गिरफ्तारी के बाद से ही बाकी SI फिर से तैयारी में जुट गए थे। दिन में ट्रेनिंग करते और रात में राजस्थान का इतिहास और करंट जीके की तैयारी करते थे।

जब एसओजी को इस बात की भनक लगी तो इनका डमी एग्जाम करवाया गया था। जिसके नतीजे चौंकाने वाले थे। पहले से शिकायतें और फिर डमी एग्जाम खुली पोल के बाद एसओजी ने मंगलवार को 15 ट्रेनी SI को पकड़ा है। लगातार हो रही कार्रवाई के खौफ में कई SI ट्रेनिंग सेंटर से गायब बताए जा रहे हैं।

आयोजित कराई थी डमी परीक्षा

सबसे पहले पकड़े गए 14 ट्रेनी एसआई से जब एसओजी ने गिरफ्तारी के दौरान पूछताछ की तो उनका बेसिक नॉलेज 10वीं कक्षा के छात्र से भी कम था। इस पर एसओजी ने वर्ष 2021 में इन लोगों द्वारा दी गई परीक्षा दोबारा से कराने का प्लान बनाया।

इसके बाद से ट्रेनिंग कर रहे बाकी एसआई समझ गए कि एसओजी ने उनसे भी इस तरह के सवाल कर सकती है। इसके बाद वो अलर्ट मोड पर आ गए थे। दिन भर ट्रेनिंग कर थके होने के बाद भी प्रतियोगी परीक्षा की किताबें पढ़ने लगे।

SOG ने ली सभी 859 पास कैंडिडेट की परीक्षा

एसओजी को जानकारी मिली कि आरपीए से ट्रेनिंग पाने के बाद सब इंस्पेक्टर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी वाली किताब खरीद कर रात भर पढ़ाई कर रहे हैं। एसओजी को शक गहरा गया कि नकल कर परीक्षा पास करने वालों की संख्या 14 ही नहीं और भी ज्यादा है।

इस पर एसओजी के एडीजी वीके सिंह ने प्लान बनाया कि इस बैच के सभी एसआई से वर्ष 2021 में इनके द्वारा दिया गया पेपर फिर से सॉल्व कराया जाए। जिसके बाद एसओजी ने एक ही रात में पूरा प्लान तैयार किया और अगले ही दिन ट्रेनिंग सेंटर पहुंचकर सभी ट्रेनी SI को बुलाकर डमी पेपर सॉल्व करवाया।

इस परीक्षा में सभी ट्रेनी एसआई (एसआई भर्ती परीक्षा-2021 पास करने वाले) को शामिल किया गया। परीक्षा के लिए 2 घंटे (दोपहर साढ़े तीन से शाम साढ़े पांच बजे तक) का समय दिया गया था। एसआई भर्ती परीक्षा-2021 के लिए भी 2 घंटे का समय दिया गया था। इसमें जो सवाल आए थी, वही सवाल फिर से ट्रेन एसआई से हल कराए गए। एसओजी की गिरफ्त में चल रहे 14 ट्रेनी एसआई 20 प्रतिशत भी पेपर हल नहीं कर पाए। वहीं, 400 ट्रेनी एसआई 50 प्रतिशत प्रश्नों का उत्तर नहीं दे पाए।

एसओजी ने मंगलवार 2 अप्रैल को 15 ट्रेनी सब इंस्पेक्टर को पकड़ा है।

एसओजी ने मंगलवार 2 अप्रैल को 15 ट्रेनी सब इंस्पेक्टर को पकड़ा है।

सॉल्व पेपर की जांच कर मालखाने में जब्त किया

एसआई से डमी पेपर सॉल्व करवाने के बाद उन कॉपियों की एक्सपर्ट के जरिए अलग से जांच करवाई गई है। एसओजी सूत्रों की मानें तो इन कॉपी के नतीजे चौंकाने वाले हैं। हालांकि एसओजी के एडीजी ने इस विषय को लेकर कोई जानकारी साझा नहीं की है। सभी कैंडिडेट की कॉपी को एसओजी ने अपने मालखाने में जब्त कर लिया है।

एडीजी वीके सिंह का कहना है कि यह इस केस की पड़ताल का एक पक्ष है जिससे आने वाले समय में कोर्ट को अवगत कराया जाएगा। कोर्ट के सामने तथ्य रखे जाएंगे कि एसआई भर्ती परीक्षा 2021 को अच्छे नंबरों से पास करने वालों की मौजूदा स्थिति क्या है। इस से कोर्ट भी इन की मौजूदा मानसिकता के बारे में जान सकेंगे।

अभी एसओजी ट्रेनी सब इंस्पेक्टर से पूछताछ में जुटी है।

अभी एसओजी ट्रेनी सब इंस्पेक्टर से पूछताछ में जुटी है।

एसओजी की बस देख कर सहम गए ट्रेनी एसआई

एडीजी एसओजी वीके सिंह ने बताया कि पेपर कराए जाने के बाद 15 ट्रेनी एसआई के बारे में बार-बार शिकायतें मिल रही थी। इसके बाद उन्होंने संदिग्ध लगने वाले ट्रेनी सब इंस्पेक्टर से पूछताछ करने का प्लान बनाया। इसके बाद मंगलवार की सुबह टीमें आरपीए पहुंची। उस दौरान ये लोग क्लास में मौजूद थे।

जैसे ही एसओजी की बस आरपीए कैंपस में पहुंची तो कुछ एसआई सहम गए। चलती क्लास में एसओजी के अधिकारी ने 15 एसआई का नाम लिया, जिसके बाद वो सभी अपने कपड़ों को लेकर बस में बैठ गए। दोपहर करीब 2 बजे एसओजी के अधिकारी आरोपी ट्रेनी को लेकर एसओजी मुख्यालय पहुंच गई।

राजस्थान एसओजी के एडीजी वीके सिंह ने बताया कि सभी कैंडिडेट के पेपर को मालखाने में रखवाया गया है।

राजस्थान एसओजी के एडीजी वीके सिंह ने बताया कि सभी कैंडिडेट के पेपर को मालखाने में रखवाया गया है।

बुधवार को तय होगा किसकी होगी गिरफ्तारी

बुधवार को दोपहर या शाम तक एसओजी तय कर लेगी की पेपर लीक मे किस किस की भूमिका संदिग्ध रही है। इसके बाद उनकी गिरफ्तारी की जाएगी। एसओजी ने देर रात तक इन प्रशिक्षु एसआई से गहनता से पूछताछ की है। पूछताछ में कई नई जानकारी एसओजी को मिली है जिस पर एसओजी की टीमें काम कर रही हैं।

ट्रेनिंग कर रहे कुछ एसआई सेंटर से गायब

आरपीए के किशनगढ़ सेंटर में ट्रेनिंग कर रहे कुछ एसआई एसओजी की कार्रवाई के बाद से गायब हैं। हालांकि एसओजी ने इसकी जानकारी मीडिया से साझा नहीं की है कि ये लोग सेंटर से क्यों गायब हैं। गायब रहने वाले सभी ट्रेनी SI की एसओजी विशेष टीम बनाकर पड़ताल करवा रही है। एसओजी का मानना है कि जो लोग ट्रेनिंग सेंटर को छोड़ कर गायब हो रहे हैं वह सम्भवतया पेपर लीक करके ही परीक्षा पास कर एसआई बने होंगे। इसीलिए एक टीम उन ट्रेनी एसआई पर भी नजर रखे हुए है।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!