Ministry Of Information and Broadcasting

अश्लील कंटेंट दिखाने वाले 18 OTT प्लेटफॉर्म बैन:सरकार ने 19 वेबसाइट, 10 ऐप और 57 सोशल मीडिया हैंडल भी ब्लॉक किए

TIN NETWORK
TIN NETWORK

अश्लील कंटेंट दिखाने वाले 18 OTT प्लेटफॉर्म बैन:सरकार ने 19 वेबसाइट, 10 ऐप और 57 सोशल मीडिया हैंडल भी ब्लॉक किए

केंद्र सरकार ने गुरुवार को अश्लील कंटेंट प्रसारित करने वाले 18 OTT प्लेटफॉर्म पर बैन लगा दिया। इसके साथ 19 वेबसाइट्स 10 ऐप्स और 57 सोशल मीडिया हैंडल्स भी ब्लॉक कर दिए हैं।

ये ऐप, OTT प्लेटफॉर्म और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एंटरटेनमेंट के नाम पर अश्लील और आपत्तिजनक वीडियो पेश कर रहे थे। इससे पहले इन OTT ऐप्स को कई बार चेतावनी दी गई थी, लेकिन इनके कंटेंट में किसी तरह के सुधार नहीं किया गया।

12 मार्च को केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्रालय की बैठक में यह फैसला ले लिया गया था। हालांकि, इन ऐप्स की लिस्ट आज जारी की।

क्यों बैन लगाया गया
सरकार के मुताबिक, इनके कंटेंट में अश्लीलता थी। कई जगह महिलाओं को अपमानजनक तरीके से दिखाया जाता था। स्टूडेंट और टीचर के रिश्तों के अलावा पारिवारिक रिश्तों को भी गलत तरीके से पेश किया जाता था।

पहले देखिए बैन किए गए OTT प्लेटफॉर्म

1 करोड़ से ज्यादा डाउनलोड्स, 32 लाख से ज्यादा फालोअर्स
सरकार ने बताया कि 18 OTT ऐप्स में से एक ऐप को 1 करोड़ से ज्यादा डाउनलोड मिल चुके हैं। हालांकि, इसका नाम नहीं बताया है। दो अन्य ऐप को गूगल प्ले स्टोर पर 50 लाख से ज्यादा डाउनलोड मिले हैं। इसके अलावा इन ओटीटी प्लेटफॉर्म्स ने दर्शकों को अपनी वेबसाइट्स और ऐप्स की तरफ अट्रैक्ट करने के लिए बड़े पैमाने पर सोशल मीडिया का भी यूज किया। इन सोशल मीडिया अकाउंट्स पर कुल मिलाकर 32 लाख से अधिक यूजर्स हैं।

कई शिकायतें मिलने के बाद कार्रवाई
इससे पहले मंत्रालय ने कहा था कि उन्हें OTT प्लेटफॉर्म पर दिखाए जा रहे कंटेंट को लेकर कई शिकायतें मिली थीं। इनकी शिकायत करने वालों में कई सांसद/विधायक, इंटेलेक्चुअल्स और समाज सेवी शामिल थे। इन शिकायतों पर गौर करने के बाद इसी साल OTT प्लेटफार्म के कंटेनेट पर निगरानी के लिए एक नया नियम इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी (इंटरमीडियरी गाइडलाइंस एंड डिजिटल मीडिया एथिक्स कोड) रूल्स, 2021 लाया गया। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के मुताबिक, इस एक्ट कि धारा 67, 67A और 67B में ये प्रावधान है कि सरकार आपत्तिजनक कंटेनेट को प्रतिबंधित कर सके।

सोशल मीडिया पर प्रमोट होता है ऐप का अश्लील कंटेंट
ऐप पर दिखाई जाने वाली सीरीज के कुछ सीन और कहानी का वीडियो बनाकर इसका प्रोमो सोशल मीडिया पर पोस्ट किया जाता है। वीडियो के साथ ऐप डाउनलोड करने का लिंक रहता है। ऐसे ऐप पर आने वाले ज्यादातर यूजर्स सोशल मीडिया के थ्रू ही आते हैं।

आईबी मिनिस्ट्री का पूरा ऑर्डर देखिए

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!