INTERNATIONAL NEWS

17 देशों में छिपे भारत के 34 मोस्ट वॉन्टेड:इनमें दाऊद से लेकर गोल्डी बराड़ का नाम; सलाखों के पीछे कब होंगे देश के दुश्मन

TIN NETWORK
TIN NETWORK

17 देशों में छिपे भारत के 34 मोस्ट वॉन्टेड:इनमें दाऊद से लेकर गोल्डी बराड़ का नाम; सलाखों के पीछे कब होंगे देश के दुश्मन

भारत में मोस्ट वॉन्टेड अपराधियों का जिक्र आते ही जहन में दाऊद इब्राहिम का नाम सबसे पहले आता है। वह 1986 से फरार है। देश से भागकर विदेश में अपराध का साम्राज्य फैलाने का सिलसिला डी कंपनी से ही शुरू हुआ था। अब देश के 34 मोस्ट वॉन्टेड की सूची में लॉरेंस बिश्नोई गिरोह के गैंगस्टर गोल्डी बराड़ तक पहुंच गया है।

ये गैंगस्टर दुनियाभर के 17 देशों में छिपे बैठे हैं। इन पर हत्या, जबरन वसूली, टारगेट किलिंग, हथियार तस्करी, टेरर फंडिंग, ड्रग्स तस्करी व फिरौती के दर्जनों अपराध हैं। इन्हें भारत लाने के लिए गृह मंत्रालय ने इंटरपोल की मदद से सभी के नाम पर मोटी इनामी राशि और रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी करवाए हैं।

इन सभी के प्रत्यर्पण के लिए विदेश मंत्रालय ने समय-समय पर संबंधित देशों से अपील भी की है। इसके बावजूद ये न सिर्फ भारतीय जांच एजेंसियों बल्कि जहां छिपे हैं, वहां की जांच एजेंसियों को भी चकमा दे रहे हैं।

कौन हैं ये लोग?

  • दाऊद इब्राहिम (पाकिस्तान): मुंबई सीरियल ब्लास्ट मामले में वांटेड। पाकिस्तान के संरक्षण में है।
  • गोल्डी बराड़ (अमेरिका): आतंकी संगठन बब्बर खालसा से जुड़ा गैंगस्टर। अमेरिका में है। वहीं से इसने लॉरेंस बिश्नोई के जरिए पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या करवाई थी।​​​​​​​
  • हरजोत सिंह गिल(अमेरिका)​​​​​​​: गोल्डी बराड़ का दाहिना हाथ। अमेरिका में ही है।
  • गुरपतवंत सिंह पन्नू (कनाडा): कनाडा-अमेरिका की दोहरी नागरिकता है। खालिस्तानी आतंकी गतिविधियों में लिप्त। टेरर फंडिंग, टारगेट किलिंग जैसे केस दर्ज।

कहां छिपे बैठे हैं?

17 देशों में: भारत में वॉन्टेड ये आतंकियों ने पाकिस्तान, अमेरिका, आस्ट्रेलिया, कनाडा, अजरबैजान, जर्मनी, इंडोनेशिया, ब्रिटेन और UAE जैसे कई देशों में पनाह ले रखी है। गृह मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक, सबसे ज्यादा 11 मोस्ट वॉन्टेड कनाडा में हैं।

इनमें पन्नू, लारेंस बिश्नोई गैंग का शार्प शूटर सतविंदर जैसे लोग शामिल हैं। दूसरे नंबर पर अमेरिका है। यहां भारत के 6 गैंगस्टर गोल्डी बराड़, हरजोत सिंह गिल, गुरपतवंत सिंह पन्नू, दरन कहलों, अनमोल बिश्नोई और अमूत बल छिपे हैं।

पकड़ से दूर क्यों?​​​​​​​

दिन में 4-5 बार तक बदलते हैं जगह: खुफिया एजेंसियों से जुड़े सूत्रों ने बताया कि ये समय-समय पर अपनी जगह और मोबाइल फोन और नंबर बदलते रहते हैं। गोल्डी बराड़ दिन में 4 से 5 बार अपनी जगह बदलता है।

वह कब किस जगह जाएगा, इसकी जानकारी उसके गिरोह के लोगों को भी नहीं होती। इतना ही नहीं ज्यादातर गैंगस्टर अब सैटेलाइट फोन का इस्तेमाल करने लगे हैं। इससे इनकी लोकेशन पकड़ में नहीं आती। पन्नू एक दिन में 3 से 4 बार अपनी जगह बदलता है।

कैसे पनप रहे?

सोशल मीडिया से फैला रहे दहशत: जब मूसेवाला की हत्या की गई थी तो गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर इसकी जिम्मेदारी ली थी, ताकि लोगों में दहशत फैला सके। देश के सबसे बड़े गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई ने भी जेल से व्यायाम करने से लेकर कई तरह की पोस्ट सोशल मीडिया पर समय-समय पर डाली हैं।

वहीं, गैंगस्टर टिल्लू ताजपुरिया की तिहाड़ में बेरहमी से गई हत्या का वीडियो भी गैंगस्टर्स ने सोशल मीडिया पर वायरल किया था।​​​​​​​

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Google News
error: Content is protected !!