NATIONAL NEWS

पंजाब पुलिस के ADGP ने नौकरी छोड़ी:IPS ढिल्लों बोले- स्वास्थ्य कारणों से वीआरएस लिया; लोकसभा चुनाव लड़ने की चर्चा

TIN NETWORK
TIN NETWORK

पंजाब पुलिस के ADGP ने नौकरी छोड़ी:IPS ढिल्लों बोले- स्वास्थ्य कारणों से वीआरएस लिया; लोकसभा चुनाव लड़ने की चर्चा

चंडीगढ़

एडीजीपी गुरिंदर सिंह ढिल्लों। - Dainik Bhaskar

एडीजीपी गुरिंदर सिंह ढिल्लों।

पंजाब पुलिस के सीनियर IPS अधिकारी (ADGP लॉ एंड ऑर्डर) गुरिंदर सिंह ढिल्लों ने नौकरी छोड़ दी है। उन्होंने 30 साल की नौकरी के बाद VRS ली है। उन्होंने खुद इसकी पुष्टि की। कहा कि VRS लेकर वह खुद को पिंजरे से आजाद महसूस कर रहे हैं।

गुरिंदर सिंह ढिल्लों 1997 बैच के IPS अधिकारी हैं। ऐसी भी चर्चा है कि वह किसी राजनीतिक पार्टी में शामिल हो सकते हैं और लोकसभा चुनाव लड़ सकते हैं, लेकिन वह कुछ भी बोलने से बचते रहे। राजनीति में जाने के सवाल पर उन्होंने कहा था कि उनका परिवार फैसला करेगा।

इसी साल होना था रिटायर
गुरिंदर सिंह ढिल्लों की तरफ से VRS लेने के लिए जो फाइल सरकार को भेजी गई थी, उसमें अपनी सेहत ठीक न होने का हवाला दिया गया था। पता चला है कि इसी साल मई महीने में वह रिटायर होने वाले थे। इससे पहले उन्होंने VRS ले ली है।

लुधियाना के खन्ना में पुलिस के हथियारों की चेकिंग करते हुए गुरिंदर सिंह ढिल्लों की तस्वीर।

लुधियाना के खन्ना में पुलिस के हथियारों की चेकिंग करते हुए गुरिंदर सिंह ढिल्लों की तस्वीर।

VRS लेने पर दिया यह जवाब
VRS लेने पर ढिल्लों ने कहा कि उन्होंने 30 साल की सर्विस पूरी कर ली थी। 58 साल की उम्र हो गई थी। ऐसे में मैंने अपने राइट काे फ्रेंचाइज किया है। उनका कार्यकाल काफी शानदार रहा है। आतंकवाद की लड़ाई लड़ी है। मैं अपने दायरे में रहकर जो देश के लिए कर सकता है वह मैंने किया है। सभी का धन्यवादी हूं। सेकेंड इनिंग बारे में उन्होंने कहा कि मैं अब आजाद महसूस कर रहा हूं। पता नहीं किस्मत कहां ले जाती है।

ढिल्लों ने कहा कि उन्होंने 34 साल मैं जो तजुर्बा हासिल किया है, वह उसे अपने और किसी अन्य के लिए प्रयोग करूंगा। उन्होंने बताया कि जहां राजनीति पर जाने के सवाल है, यह काफी मुश्किल सवाल है। उन्होंने कहा कि उनकी फैमिली इस काम के लिए परमिशन देती है या नहीं, इसी पर सब निर्भर करेगा।

उन्होंने कहा कि मैंने इस तरह का फैसला नहीं लिया है। मेरा तजुर्बा भगवान पता नहीं कहा प्रयोग करता है। ढिल्लों ने बताया कि 300 से ज्यादा इतिहास की किताबें पढ़ी हैं।

कई अधिकारियों ने लिया VRS
यह पहला मौका नहीं जब सीनियर अधिकारियों ने VRS ली है। इससे पहले IAS अधिकारी परमपाल कौर ने भी VRS ली थी। इसके बाद उन्होंने भारतीय जनता पार्टी जॉइन कर ली। पार्टी ने उन्हें बठिंडा से उम्मीदवार भी बनाया है।

इसी तरह साल 2015 बैच के IAS अधिकारी करनैल सिंह ने भी अपना इस्तीफा सरकार को भेजा गया था। वह कपूरथला के DC रह चुके हैं, लेकिन कई दिनों से तैनाती न मिलने से नाराज चल रहे थे। उनकी कुछ समय बाद ही रिटायरमेंट बताई है।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

error: Content is protected !!