DEFENCE / PARAMILITARY / NATIONAL & INTERNATIONAL SECURITY AGENCY / FOREIGN AFFAIRS / MILITARY AFFAIRS

तारबंदी-क्रॉस करके गए शबीर की 32 माह बाद वतन वापसी:वाघा बॉर्डर से भेजा इंडिया, सुरक्षा एजेंसियों ने की पूछताछ, आज परिजनों को करेंगे सुपुर्द

तारबंदी-क्रॉस करके गए शबीर की 32 माह बाद वतन वापसी:वाघा बॉर्डर से भेजा इंडिया, सुरक्षा एजेंसियों ने की पूछताछ, आज परिजनों को करेंगे सुपुर्द

शबीर 32 माह पहले बाड़मेर बॉर्डर से इंडो-पाक तारबंदी क्रॉस करके गया था पाकिस्तान।

32 माह पहले बाड़मेर बॉर्डर से इंडो-पाक की तारबंदी क्रॉस के करके साबिर पाकिस्तान चला गया था। 2 दिन पहले वाघा बॉर्डर से साबिर की वतन वापसी हुई है। पंजाब में भारत की सुरक्षा एजेंसियों ने पूछताछ करने के बाद अब परिजनों को सुपुर्द करेगी। परिजन साबिर को लेने के लिए अमृतसर जा रहे है। पाकिस्तान में रहने के दौरान साबिर के कुछ वीडियो भी सामने आए थे। साबिर की रिहाई को लेकर परिजनों ने प्रशासन व सरकार से गुहार लगाई थी। शबीर अहमद की सेड़वा थाने में गुमशुदगी भी दर्ज है।

दरअसल, जानपालिया निवासी मुराद पुत्र इस्माइल खान ने सेड़वा थाने में रिपोर्ट दी थी कि 25 वर्षीय बेटा शबीर अहमद 24 अक्टूबर 2021 की सुबह 8 बजे घर से गोहड़ का तला दरगाह जाने का कहर कर निकला था, लेकिन वहां नहीं पहुंचा। शबीर के गायब होने के बाद तलाश की गई थी लेकिन उसका कोई सुराग नहीं लगा था, लेकिन शबीर अहमद के वीडियो सामने आने के बाद पाकिस्तान में होना सामने आया था। पुलिस ने युवक के गायब होने के बाद तत्काल BSF के अधिकारियों से पत्र लिखकर जानकारी मांगी गई थी। लेकिन उनकी ओर से पाकिस्तान जाने की पुष्टि नहीं हुई थी।

शबीर के मामा कहना है कि हमें 29 मई को शबीर की वतन वापसी हो गई थी। 31 मई को जिला प्रशासन से सूचना मिली है कि साबिर की वतन वापसी हो गई है। हमें उसे लेने के लिए अमृतसर पहुंच गए है। फिलहाल वहां पर डॉक्यूमेंट कार्रवाई चल रही है। इसके बाद हमें सुपुर्द करेंगे।

सेड़वा थानाधिकारी दीपसिंह के मुताबिक एसपी ऑफिस से शबीर के आने की सूचना मिली थी। इसके बाद थाने से टीम को उसको लाने के लिए अमृतसर पंजाब भेजा गया है।

विवाहित है शबीर

युवक शबीर अहमद का घर भारत-पाकिस्तान तारबंदी से महज 2 किलोमीटर दूर है। ऐसे में वह गोहड़ का तला दरगाह जाने का कह कर घर से निकला, लेकिन दिमागी संतुलन ठीक नहीं होने से वह तारबंदी की तरफ चला गया है। तारबंदी क्रॉस करके पाकिस्तान पहुंच गया। शबीर शादीशुदा है और उसके दो लड़कियां और एक लड़का है। शबीर के चले जाने के बाद 32 माह से पत्नी फैनल, बच्चों और माता-पिता के बुरे हाल है।

error: Content is protected !!