DEFENCE / PARAMILITARY / NATIONAL & INTERNATIONAL SECURITY AGENCY / FOREIGN AFFAIRS / MILITARY AFFAIRS ASIAN COUNTRIES WEAPON-O-PEDIA

Indian Navy में जल्द शामिल होगी दूसरी न्यूक्लियर सबमरीन… जानिए INS Arighat की ताकत

Indian Navy में जल्द शामिल होगी दूसरी न्यूक्लियर सबमरीन… जानिए INS Arighat की ताकत

इस साल अंत तक भारतीय नौसेना को दूसरी न्यूक्लियर पावर्ड बैलिस्टिक मिसाइल सबमरीन INS Arighat मिल जाएगी. इससे भारत की ताकत समंदर में ताकत कई गुना बढ़ जाएगी. यह अरिहंत क्लास की अपग्रेडेड सबमरीन है, जिसके समुद्री ट्रायल्स लगभग पूरे हो चुके हैं.

ADVERTISEMENT

भारतीय नौसेना में दूसरी परमाणु पनडुब्बी शामिल होने से उसकी ताकत में कई गुना ज्यादा इजाफा हो जाएगा.

भारतीय नौसेना (Indian Navy) को उसकी दूसरी परमाणु ईंधन से चलने वाले और बैलिस्टिक मिसाइलों से लैस सबमरीन मिलने वाली है. इसका नाम है INS Arighat. यह अरिहंत क्लास की अत्याधुनिक SSBN है. इस सबमरीन को विशाखापत्तनम स्थित शिपबिल्डिंग सेंटर में बनाया गया है. 

6000 टन डिस्प्लेसमेंट वाली इस पनडुब्बी की लंबाई 111.6 मीटर है. बीम 11 मीटर और ड्राफ्ट 9.5 मीटर का है. यानी यह विशालकाय पनडुब्बी है, जो पानी के अंदर 980 से 1400 फीट की गहराई तक जा सकती है. इसकी रेंज असीमित है. इसका एंड्यूरेंस भी असीमित है. यानी खाने की सप्लाई और मेंटेनेंस होती रहे तो असीमित समय तक समंदर में रह सकती है. 

यहां देखिए INS Arighat का Video

INS Arighat में 12 K15 SLBM तैनात की गई हैं. सबमरीन लॉन्च्ड बैलिस्टिक मिसाइल की रेंज 750 किलोमीटर है. जबकि इसके अलावा इसमें चार K4 मिसाइलें भी हैं, जिनकी रेंज 3500 किलोमीटर है. इसके अलावा इस पनडुब्बी में 21 इंच व्यास की छह टॉरपीडो लगाई गई हैं. इसके अलावा कई टॉरपीडो ट्यूब्स हैं, जो टॉरपीडो, मिसाइल या समुद्री बारूदी सुरंग बिछाने का काम करेंगी. 

इस पनडुब्बी के अंदर न्यूक्लियर रिएक्टर लगा है, जो परमाणु ईंधन से इस पनडुब्बी को सतह पर 28 km/hr और पानी के अंदर 44 km/hr की स्पीड प्रदान करेगा. आईएनएस अरिहंत और अब इस पनडुब्बी के नौसेना में शामिल होने से देश के दोनों तरफ के तट दुश्मन के हमले से बचे रहेंगे.

पाकिस्तान या चीन दोनों ही इस पनडुब्बी की मौजूदगी की वजह से हमला करने की हिम्मत नहीं करेंगे. सिर्फ इतना ही नहीं भारत तीसरी परमाणु पनडुब्बी भी बनाने की तैयारी में है. जल्द ही उसके बारे में भी खुलासा किया जाएगा. तीनों पनडुब्बियों के आते ही भारतीय नौसेना की ताकत कई गुना बढ़ जाएगी

error: Content is protected !!