DEFENCE / PARAMILITARY / NATIONAL & INTERNATIONAL SECURITY AGENCY / FOREIGN AFFAIRS / MILITARY AFFAIRS

संदेशखाली में मिले ये खतरनाक हथियार, NSG के साथ CBI के सर्च ऑपरेशन में हुआ बड़ा खुलासा

संदेशखाली में मिले ये खतरनाक हथियार, NSG के साथ CBI के सर्च ऑपरेशन में हुआ बड़ा खुलासा

पश्चिम बंगाल में टीएमसी के पूर्व नेता शाहजहां शेख के करीबी रिश्तेदार अबू तालेब मोल्ला के घर पर सीबीआई की छापेमारी में हथियारों का जखीरा बरामद हुआ है. हथियारों में देशी और विदेशी हथियार शामिल हैं.

संदेशखाली में मिले ये खतरनाक हथियार, NSG के साथ CBI के सर्च ऑपरेशन में हुआ बड़ा खुलासा

संदेशखाली में सीबीआई और एनएसजी का सर्च अभियान.

पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले के संदेशखाली में ईडी अधिकारियों पर हमले और महिलाओं पर अत्याचार के बाद अब सीबीआई ने बड़ी संख्या में हथियारों का जखीरा बरामद किया है. हथियारों में देशी और विदेशी हथियार और फायर आर्म्स शामिल हैं. सीबीआई ने शुक्रवार की सुबह शेख शाहजहां से करीबी अबू तालेब मोल्ला से जुड़े दो ठिकानों पर रेड की. यहां रेड के दौरान ही बड़ी मात्रा में हथियार जब्त किये गये हैं. सीबीआई ने ये रेड ईडी की टीम पर संदेशखाली में 5 जनवरी को हुए हमले को लेकर की थी. इस रेड में हथियार और देसी बम की बरामदगी में सीबीआई ने एनएसजी की मदद ली.

सीबीआई ने रेड के दौरान 3 विदेशी पिस्टल, एक इंडियन रिवॉल्वल, एक पुलिस की colt रिवॉल्वर, एक विदेशी पिस्टल, एक देशी पिस्टल यानी 7 पिस्टल और 348 कारतूस, जिसमें 9 mm के 120, .45 कैलिबर के 50 कारतूस, 9 mm कैलिबर के 120 कारतूस, .380 के 50 कारतूस और .32 8 कारतूस बरामद किये हैं. साथ ही कई देशी बम भी बरामद किए हैं.

सीबीआई प्रवक्ता ने एक बयान में कहा कि इसके अलावा शेख शाहजहां से संबंधित कई आपत्तिजनक दस्तावेज भी बरामद किए गए हैं. कुछ वस्तुएं भी बरामद की गई हैं, जिनके देशी बम होने का संदेह है, जिन्हें एनएसजी की टीमों द्वारा संभाला और निपटाया जा रहा है.

सीबीआई की तलाशी के साथ एनएसजी का अभियान

Sandeshkhali Cbi

अधिकारियों ने कहा कि चूंकि अधिकारी लक्षित स्थानों की तलाशी के लिए संदेशखाली में फैले हुए थे. इसलिए एनएसजी इकाइयों पर ऑपरेशन के दौरान पाए गए विस्फोटकों का पता लगाने और उन्हें संभालने की जिम्मेदारी थी.

पश्चिम बंगाल पुलिस, केंद्रीय बलों और एनएसजी के सहयोग से सीबीआई अधिकारियों की पांच टीमों ने सरबेरिया में घर की तलाशी ली, एक वरिष्ठ अधिकारी ने कोलकाता में कहा कि उन्हें इस विशाल जखीरे के भंडार के संबंध में विशेष जानकारी मिली थी. हथियार, गोला-बारूद और विस्फोटक भी मिले हैं.

सीबीआई के सूत्रों ने बताया कि घर का मालिक, जिसकी पहचान अबू तालेब मोल्ला के रूप में हुई है, शेख का रिश्तेदार है. अभी यह साफ नहीं है कि वह इतनी बड़ी मात्रा में हथियार क्यों रखा था.

संदेशखाली में ईडी अधिकारियों पर हुए थे हमले

सीबीआई ने जिस घर को घेरा था. वह मछली पालन के लिए उपयोग किए जाने वाले जल निकायों के बीच बनाया गया था. केंद्रीय बलों ने यह जांचने के लिए घर के बाहर मेटल डिटेक्टर का इस्तेमाल किया कि क्या और हथियार और गोला-बारूद दबे हुए हैं. इस उद्देश्य के लिए एक रोबोटिक उपकरण भी तैनात किया गया था.

यह तलाशी उन तीन प्राथमिकियों के संबंध में शुरू की गई थी, जो सीबीआई ने 5 जनवरी को संदेशखाली में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अधिकारियों की टीम पर हमले से संबंधित दर्ज की थी. कलकत्ता उच्च न्यायालय के आदेश पर, केंद्रीय एजेंसी ने 5 जनवरी को घटनाओं से संबंधित तीन प्राथमिकी दर्ज की थीं.

एफआईआर अधिकारियों की शिकायत पर भीड़ द्वारा ईडी अधिकारियों पर कथित हमले, निलंबित टीएमसी नेता शेख के गार्ड द्वारा ईडी अधिकारियों के खिलाफ लगाए गए आरोपों और ईडी अधिकारियों पर हमले के बारे में नजात पुलिस स्टेशन द्वारा दर्ज किए गए स्वत: संज्ञान मामले से संबंधित हैं

error: Content is protected !!