NATIONAL NEWS

CAPF: अब एयर इंडिया में सफर करेंगे अर्धसैनिक बलों के जवान, इन आइटम्स के ले जाने पर रोक, ले जा सकेंगे इतना वजन

CAPF: अब एयर इंडिया में सफर करेंगे अर्धसैनिक बलों के जवान, इन आइटम्स के ले जाने पर रोक, ले जा सकेंगे इतना वजन

सार

दिल्ली-श्रीनगर-दिल्ली रूट पर सप्ताह के सातों दिन एयर इंडिया कूरियर सर्विस जारी रहेगी। श्रीनगर-जम्मू-श्रीनगर रूट पर सप्ताह में चार दिन, सोमवार, बुधवार, शनिवार और रविवार को एयर कूरियर सर्विस का संचालन होगा।

CAPF: Now paramilitary forces will travel in Air India ban on carrying these items will carry this much weight

Air India

विस्तार

केंद्रीय अर्धसैनिक बल ‘सीएपीएफ’ के जवानों एवं अधिकारियों के लिए एक मई से एयर इंडिया की सेवा शुरू की गई है। यह सेवा, दिल्ली-श्रीनगर-दिल्ली रूट और श्रीनगर-जम्मू-श्रीनगर रूट पर प्रारंभ की गई है। इससे पहले प्राइवेट ‘एयर कूरियर सर्विस’ के जरिए सीएपीएफ जवानों की आवाजाही होती थी। वहीं अब से जितने भी जवान या अधिकारियों को उक्त रूट पर यात्रा करनी है, उनकी डिटेल संबंधित यूनिट द्वारा 3 दिन पहले एयर इंडिया के पास भेजनी होगी। इसके अलावा सीएपीएफ जवानों को हवाई यात्रा की तिथि से एक दिन पहले ‘ट्रांजिट कैंप-एयर कूरियर सर्विस’ पर पहुंचना होगा।

दिल्ली-श्रीनगर-दिल्ली रूट पर सप्ताह के सातों दिन एयर इंडिया कूरियर सर्विस जारी रहेगी। श्रीनगर-जम्मू-श्रीनगर रूट पर सप्ताह में चार दिन, सोमवार, बुधवार, शनिवार और रविवार को एयर कूरियर सर्विस का संचालन होगा। एयर इंडिया कूरियर सर्विस का इस्तेमाल करने वालों को स्पष्ट हिदायत दी गई है कि वे सीधे एयरपोर्ट पर न पहुंचे। उन्हें अपने निर्धारित ‘ट्रांजिट कैंप-एयर कूरियर सर्विस’ पर ही पहुंचना होगा। एयर इंडिया अथॉरिटी श्रीनगर की तरफ से कहा गया है कि श्रीनगर से दिल्ली और जम्मू की यात्रा के लिए एक दिन पहले मेल के जरिए सूचना देनी होगी। श्रीनगर से दिल्ली और जम्मू के लिए यात्री को एयर कूरियर सर्विस की सुविधा लेनी है, तो उसे तीन दिन पहले बताना पड़ेगा।विज्ञापन

अगर यात्रा का प्लान बदलता है या उसमें किसी तरह की देरी संभव है, तो 24 घंटे पहले करना होगा। सीएपीएफ के यात्री अपनी यूनिफार्म में होंगे। उनके पास खुद का पहचान पत्र और ‘एयर कूरियर सर्विस’ होना अनिवार्य है। सभी तरह का सामान मिलाकर कुल वजन 32 किलोग्राम होना चाहिए। जो कोई भी कर्मी, ‘एयर कूरियर सर्विस’ में सफर करता है, वह अपने साथ घी, शहद, शराब, चीनी और दूसरे ऐसे आइटम, जिनसे आग लगने का खतरा हो, सफर में नहीं ले जा सकते। केंद्रीय बलों के सभी कार्यालयों से कहा गया है कि वे ‘एयर कूरियर सर्विस’ के तहत सौ फीसदी सीटों का इस्तेमाल करें।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

error: Content is protected !!