DEFENCE, INTERNAL-EXTERNAL SECURITY AFFAIRS INTERNATIONAL NEWS

‘आसमानी आंख’ में पाकिस्तान ने भारत को पछाड़ा, दुश्मन की वायु सेना में शामिल हुआ एक और AWACS

‘आसमानी आंख’ में पाकिस्तान ने भारत को पछाड़ा, दुश्मन की वायु सेना में शामिल हुआ एक और AWACS

पाकिस्तान ने अवाक्स के मामले में भारत को पछाड़ दिया है। पाकिस्तानी वायु सेना में हाल में ही स्वीडिश कंपनी साब का बनाया हुआ एरीआई अवाक्स विमान को शामिल किया गया है। इसके साथ ही पाकिस्तानी वायु सेना में कुल अवाक्स विमानों की संख्या बढ़कर नौ हो गई है। जबकि, भारत के पास कुल 5 अवाक्स विमान हैं।

 

इस्लामाबाद: पाकिस्तान ने चुपचापप एक नए एरीआई अवाक्स विमान को तैनात कर दिया है। इस एरीआई अवाक्स सिस्टम को स्वीडिश कंपनी साब ने बनाया है। यह वही कंपनी है, जिसने कुछ दिनों पहले 100 प्रतिशत एफडीआई के साथ भारत में एक हथियार निर्माण कारखाना खोला था। अवाक्स को एयरबोर्न अर्ली वार्निंग एंड कंट्रोल (AEW&C) सिस्टम के नाम से जाना जाता है। यह हवा में मौजूद दोस्त और दुश्मन के विमानों की हर गतिविधियों की जानकारी जुटा सकता है। नए एरीआई अवाक्स सिस्टम को साब-2000 विमान पर फिट किया गया है। इस सिस्टम के शामिल होने के साथ ही पाकिस्तानी वायु सेना के पास अवाक्स सिस्टम का बेड़ा लगभग नौ हो गया है।

भारत के पास कितने अवाक्स

भारतीय वायु सेना तीन रूसी IL-76 ‘फाल्कन’ अवाक्स और दो इंबरर नेत्र अर्ली वॉर्निंग एयरक्राफ्ट को संचालित करती है। यह पहले से ही पाकिस्तानी अवाक्स की संख्या से कम है, जो चीनी ZDK03 काराकोरम ईगल को भी ऑपरेट करती है। अवाक्स सिस्टम दुश्मन के क्षेत्र में अंदर तक जानकारी जुटाने के लिए लंबी दूरी के रडार से लैस होता है। यह दुश्मन की हर एक हवाई गतिविधि के बारे में अग्रिम जानकारी प्रदान करके युद्ध के समय महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है।

जनवरी में शामिल हुआ था नया अवाक्स

रिपोर्ट्स के मुताबिक, एरीआई अवाक्स से लैस साब-2000 विमान को 2024 की शुरुआत में पाकिस्तानी वायु सेना में शामिल किया गया था। यह विमान चेंगदू जे-10 सीई ‘ड्रैगन’ मल्टीरोल लड़ाकू विमानों, बेल्जियम वायु सेना सी-130 एच हरक्यूलिस एयरलिफ्टर्स और दूसरे कई नए प्रकार के विमानों को शामिल करने के लिए आयोजित एक समारोह का हिस्सा था। कई मीडिया आउटलेट्स ने पुष्टि की है कि पाकिस्तानी वायु सेना में सात अवाक्स विमानों को दो नजरों से देखा जा चुका है, लेकिन इनकी संख्या नौ तक हो सकती है।

पाकिस्तान ने तीन ऑर्डरों में खरीदा अवाक्स

एरीआई अवाक्स को तीन आर्डरों में खरीदा गया है। पाकिस्तानी वायु सेना ने 2006 में छह अवाक्स के लिए 1.15 बिलियन डॉलर का पहला ऑर्डर दिया था। लेकिन, 2005 के भूकंप के बाद पाकिस्तान ने ऑर्डर घटाकर चार विमानों का कर दिया। 2012 में, मिहास एयरबेस पर एक आतंकवादी हमले में PAF ने चार में से तीन विमान खो दिए थे। इनमें से एक बर्बाद हो गया और दो अन्य गंभीर रूप से क्षतिग्रस्त हो गए। पीएएफ ने क्षतिग्रस्त विमान को आंतरिक रूप से बहाल कर दिया।

पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ हमले में किया था इस्तेमाल

SAAB एरीआई अवाक्स विमान का इस्तेमाल 27 फरवरी, 2019 को पाकिस्तान के जवाबी हमले के दौरान नौशेरा में एक भारतीय ब्रिगेड मुख्यालय और अन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने के लिए किया गया था। संयोग से, भारत ने पहले पाकिस्तान को स्वीडिश विमान की बिक्री पर राजनयिक विरोध दर्ज कराया था। इन विमानों का इस्तेमाल 27 फरवरी को ऑपरेशन स्विफ्ट रिटॉर्ट में 25 लड़ाकू विमानों को भारत में लक्ष्य की ओर निर्देशित और नियंत्रित करने के लिए किया गया था। इन विमानों ने पीएएफ को युद्ध के मैदान और भारतीय वायु सेना के विमानों के मौजूद होने के स्थान की रीयल टाइम करवेज प्रदान की।

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!