Bikaner update ELECTION COMMISSION OF INDIA

जिले में लोकसभा चुनाव 19 अप्रैल को, घोषणा के साथ लागू हुई आदर्श आचार संहिता, जिला निर्वाचन अधिकारी ने प्रकोष्ठ प्रभारियों की ली बैठक

बीकानेर, 16 मार्च। जिला निर्वाचन अधिकारी नम्रता वृष्णि ने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा लोकसभा चुनाव की घोषणा के साथ ही आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है। जिले के मतदाता निष्पक्ष और भयमुक्त होकर अपने मताधिकार का उपयोग कर सकें, इसके लिए सभी तैयारियां कर ली गई है। जिले में आदर्श आचार संहिता को शत प्रतिशत अनुपालना सुनिश्चित की जाएगी।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने शनिवार को निर्वाचन से जुड़े सभी प्रकोष्ठों के प्रभारियों की बैठक के दौरान यह निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि बीकानेर में 19 अप्रैल को लोकसभा के लिए चुनाव होंगे। इसके लिए 20 मार्च को नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा। नाम निर्देशन पत्र प्रस्तुत करने की अंतिम तिथि 27 मार्च होगी। इनकी संवीक्षा 28 मार्च को की जाएगी। इसी श्रृंखला में 30 मार्च तक अभ्यर्थिता वापस ली जा सकेगी। उन्होंने बताया कि 19 अप्रैल को मतदान होंगे। मतगणना 4 जून को होगी।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि मतदान के लिए 25 प्रकोष्ठ गठित करते हुए इनके प्रभारी-सहप्रभारी नियुक्त किए गए हैं। इन प्रकोष्ठों से जुड़े सभी अधिकारी पूर्ण गंभीरता और जिम्मेदारी से कार्य करें। उन्होंने कहा कि आचार संहिता लागू होने के साथ ही सरकारी और निजी भवनों से प्रचार सामग्री हटाने का कार्य निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार किया जाए। निर्वाचन के मद्देनजर एसएसटी और एफएसटी गठित कर दी गई हैं। नाकों का चिन्हीकरण कर लिया गया है। जिले की सीमा अंतर्राष्ट्रीय बार्डर से जुड़ी होने के कारण अतिरिक्त सतर्कता रखी जा रही है। बीएसएफ के डीआईजी के साथ बैठक कर ली गई है।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि लोकसभा चुनाव के लिए जिले में कुल 1 हजार 674 मतदान केन्द्र चिन्हित किए गए हैं। इनमें 1 हजार 627 मूल तथा 47 सहायक मतदान केन्द्र हैं। उन्होंने बताया कि मतदाता सूची का अद्यतन कार्य नियमित रूप से जारी है। अब तक जिले में 17 लाख 97 हजार 259 मतदाता पंजीकृत हैं। इनमें 9 लाख 46 हजार 215 पुरूष, 8 लाख 51 हजार 019 महिला तथा 25 ट्रांसजेंडर मतदाता हैं।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि मतदान अवधि तक चार एम फैक्टर (मनी, मशल्स, मिस इनफॉर्मेशन और एमसीसी वॉयलेंस) पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। किसी भी मिस इनफॉर्मेशन पर संज्ञान लेते हुए मीडिया सेल और आईटी प्रकोष्ठ द्वारा तत्काल कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने बताया कि 85 वर्ष या इससे अधिक आयु और 40 प्रतिशत से अधिक दिव्यांग मतदाताओं को होम वोटिंग की स्वैच्छिक सुविधा दी जाएगी। मतदान दिवस पर सभी मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग करे, इसके लिए जागरुकता की गतिविधियां आयोजित की जाएं।उन्होंने कहा कि ‘चुनाव का पर्व, देश का गर्व’ ध्येय वाक्य के साथ, यह सुनिश्चित करें कि कोई भी मतदाता नहीं छूटे।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि जिला स्तर पर नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है। इसके दूरभाष नंबर 0151-2944174 हैं।

राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक आयोजित
जिला निर्वाचन अधिकारी ने इससे पहले राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की। उन्होंने आदर्श आचार संहिता के विभिन्न प्रावधानों के बारे में बताया और कहा कि राजनीतिक आदर्श आचार संहिता की पालना में सहयोग करें। उन्होंने बूथ लेवल अभिकर्ताओं की नियुक्ति करने के लिए कहा। बैठक में भारतीय जनता पार्टी के श्याम सुंदर चौधरी और श्याम पंचारिया, कांग्रेस के नितिन वत्सस और मार्शल प्रहलाद सिंह, आम आदमी पार्टी के पुनीत ढाल, बहुजन समाज पार्टी के पवन ओझा और रालोपा के भवानी सिंह मौजूद रहे।

निष्पक्ष निर्वाचन में मीडिया की भूमिका महत्वपूर्ण
इसके पश्चात जिला निर्वाचन अधिकारी ने प्रेस प्रतिनिधियों को चुनाव प्रक्रिया की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि निष्पक्ष और भय मुक्त निर्वाचन में मीडिया की भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण है। मीडिया, निर्वाचन से जुड़े सभी दिशा निर्देशों को प्रत्येक मतदाता तक पहुंचाने में सहयोग करें। उन्होंने वोटर हेल्पलाइन, सक्षम और केवाईसी सहित विभिन्न पोर्टल्स की जानकारी दें। इसके बाद उन्होंने उपखंड स्तरीय अधिकारियों को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से दिशा निर्देश देते हुए निचले स्तर तक एमसीसी की पालना सुनिश्चित करने के लिए कहा।

इस दौरान जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सोहनलाल, जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. दुलीचंद मीणा, एडीएम सिटी उम्मेद सिंह चारण, प्रशिक्षु आईएएस यक्ष चौधरी सहित विभिन्न प्रकोष्ठों के प्रभारी मौजूद रहे।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!