National News

ट्रम्प बोले- मुझे नहीं चुना तो खूनखराबा होगा:रैली में शरणार्थियों को जानवर कहा; राष्ट्रपति बाइडेन को भी बेवकूफ बताया

TIN NETWORK
TIN NETWORK

ट्रम्प बोले- मुझे नहीं चुना तो खूनखराबा होगा:रैली में शरणार्थियों को जानवर कहा; राष्ट्रपति बाइडेन को भी बेवकूफ बताया

ओहायो की रैली में भाषण देते हुए पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प - Dainik Bhaskar

ओहायो की रैली में भाषण देते हुए पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प

अमेरिका में रिपब्लिकन पार्टी की तरफ से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रम्प चुनावी रैली में अमेरिकियों को चेतावनी दी। US के ओहायो राज्य में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए ट्रम्प ने कहा, ‘अगर मैं चुनाव नहीं जीता तो देश में खूनखराबा मच जाएगा।’

ट्रम्प अमेरिका की ऑटो इंडस्ट्री पर मंडराते खतरों पर बोल रहे थे। अचानक उन्होंने खूनखराबे की बात कही।

ट्रम्प ने कहा, ‘5 नवंबर की तारीख को याद रखना, मुझे लगता है कि ये हमारे इतिहास की सबसे अहम तारीख होगी’। अमेरिकी मीडिया हाउस न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक ट्रम्प ने 90 मिनट के भाषण में शरणार्थियों के बारे में कहा कि वो इंसान नहीं हैं।

ओहायो की रैली में समर्थकों से घिरे में डोनाल्ड ट्रम्प।

ओहायो की रैली में समर्थकों से घिरे में डोनाल्ड ट्रम्प।

अमेरिकी संसद पर हमला करने वालों की तारीफ की
ट्रम्प ने उन लोगों की तारीफ की, जिन्होंने 2020 में राष्ट्रपति चुनाव के नतीजे मानने से इनकार कर दिया और 6 जनवरी 2021 को संसद पर हमला कर दिया था। उन्होंने दावा किया कि 2020 का चुनाव उनसे चुराया गया था।

डोनाल्ड ट्रम्प ने ओहायो में अपने समर्थकों से कहा कि

अगर वो इस साल के चुनाव नहीं जीते तो उन्हें नहीं लगता कि आगे चुनाव होंगे। ट्रम्प ने कहा कि दूसरे देश अपनी जेलों से जवान लोगों को निकाल कर अमेरिका भेज रहे हैं।

ट्रम्प ने आगे कहा- मुझे नहीं पता आप इन लोगों को क्या कहते हैं। मेरे हिसाब से तो ये लोग ही नहीं है। बाद में ट्रम्प ने शरणार्थियों को जानवर कहा। उन्होंने जो बाइडेन को अमेरिका का सबसे खराब राष्ट्रपति बताया।ट्रम्प ने बाइडेन को कई बार ‘स्टुपिड प्रेसिडेंट’ कहा।

अमेरिका में साल के आखिर में राष्ट्रपति चुनाव होने वाले हैं। रिपब्लिकन पार्टी से डोनाल्ड ट्रम्प और डेमोक्रेटिक पार्टी की तरफ से जो बाइडेन उम्मीदवार हैं।

ट्रम्प ने कहा था- जीता तो दंगाई समर्थकों को रिहा करूंगा
रिपब्लिकन पार्टी का उम्मीदवार चुने जाने से एक दिन पहले डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा था कि अगर वो 2024 में दोबारा राष्ट्रपति चुनाव जीतते हैं तो संसद पर हमले के आरोपी अपने सभी समर्थकों को रिहा करेंगे।

6 जनवरी 2021 को प्रेसिडेंशियल इलेक्शन में जो बाइडेन ने ट्रम्प को हराया था। इसके बाद ट्रम्प ने इलेक्शन में धांधली का आरोप लगाया था। ट्रम्प के हजारों समर्थकों ने संसद पर हमला बोल दिया था। 1358 लोगों को इस मामले में गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया था।

तस्वीर 6 जनवरी 2021 की है, जब ट्रम्प के समर्थकों ने चुनावी नतीजे मानने से इनकार कर लिया था और संसद पर हमला कर दिया था।

तस्वीर 6 जनवरी 2021 की है, जब ट्रम्प के समर्थकों ने चुनावी नतीजे मानने से इनकार कर लिया था और संसद पर हमला कर दिया था।

बाइडेन-ट्रम्प फिर आमने-सामने
अमेरिका में नवंबर 2024 में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में जो बाइडेन और डोनाल्ड ट्रम्प एक बार फिर आमने-सामने होंगे। दोनों अपनी-अपनी पार्टी से राष्ट्रपति उम्मीदवार चुने गए हैं।

न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक, बाइडेन और ट्रम्प को पार्टी डेलिगेट्स का समर्थन मिल चुका है। रिपब्लिकन पार्टी का प्रेसिडेंशियल कैंडिडेट बनने के लिए ट्रम्प को 1,215 डेलिगेट्स का समर्थन जरूरी था।

उन्हें 1,228 डेलिगेट्स का समर्थन मिला। वहीं, बाइडेन को डेमोक्रेटिक पार्टी से कैंडिडेट बनने के लिए कुल 1,969 वोट चाहिए थे। उन्हें 2,107 वोट मिले।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!