Bikaner update

राजस्थान दिवस पर साकार हुई सुरंगी संस्कृति, झूमे देशी विदेशी पावणे, लोक कलाकारों ने दिया शत प्रतिशत मतदान का संदेश, सेल्फी पॉइंट रहा आकर्षण का केंद्र

बीकानेर, 30 मार्च। राजस्थान दिवस के अवसर पर पर्यटन विभाग द्वारा जूनागढ़ तथा म्यूजियम परिसर में विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए गए। इनमें लोक कलाकारों ने राजस्थान की सतरंगी संस्कृति से जुड़े लोक नृत्य और गीत प्रस्तुत किए। देशी-विदेशी विदेशी पावणो ने इनका जमकर लुत्फ उठाया। वहीं लोक कलाकारों ने आगामी 19 अप्रैल को होने वाले लोकसभा चुनाव में शत प्रतिशत मतदान का संदेश दिया।
पर्यटन विभाग के उपनिदेशक अनिल राठौड़ ने बताया कि म्यूजियम परिसर में आयोजित कार्यक्रम में अफशान खान ने लंगा गायन, रामप्रसाद शर्मा ने कच्छी घोड़ी नृत्य, वर्षा सैनी ने भवई, चांदनी राजस्थानी ने चरी और घूमर नृत्य, मोनिका शर्मा ने कृष्ण रास, कृष्णा शर्मा ने बिणजारा नृत्य की प्रस्तुति दी। श्योपत जूलिया के मश्क वादन ने भी पर्यटकों को आकर्षित किया। वहीं जूनागढ़ के प्रांगण में अकबर, आशीष, देवराज, कृष्ण और मुकेश ने चरी और कच्छी घोड़ी नृत्य की प्रस्तुति दी। मोहन जोशी और मनमोहन पुरोहित की बांसुरी और तबला वादन की जुगलबंदी ने पर्यटकों को आकर्षित किया। यहां श्याम आचार्य, महताब खान, चंद्रशेखर टाक,मोहम्मद सलीम तथा मोहम्मद अली सहित अन्य रोबीले मौजूद रहे। पारंपरिक राजस्थानी वेशभूषा में सजे धजे इन रोबीलो ने भी राजस्थान की सतरंगी संस्कृति को साकार किया वहीं भंवर भोपा ने रावण हत्था पर आकर्षक प्रस्तुति देते हुए आमजन को आकर्षित किया। इस दौरान संस्कृति कर्मी अनिल कुमार बोड़ा मौजूद रहे। पर्यटन विभाग द्वारा जूनागढ़ में मतदान से जुड़ा सेल्फी पॉइंट भी रखा गया। जहां अनेक पर्यटकों ने सेल्फी लेने के साथ मतदान का संकल्प किया।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Translate:

Google News
Translate »
error: Content is protected !!