GENERAL NEWS

एमजीएसयू : नृत्य प्रतियोगिता के साथ हुआ स्थापना सप्ताह की अंतर महाविद्यालयी प्रतियोगिताओं का समापन

प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले विजेताओं को 7 को राज्यपाल मंच से देंगे पुरस्कार

बीकानेर। एमजीएसयू में एक जून से आरंभ स्थापना सप्ताह की अंतरमहविद्यालयी प्रतियोगिताओं का समापन नृत्य प्रतियोगिता के साथ हुआ जिसमें एकल नृत्य व समूह नृत्य प्रतियोगिताएं आयोजित हुईं ।
डीन स्टूडेंट्स वेलफेयर डॉ मेघना शर्मा ने बताया कि अधिष्ठाता छात्र कल्याण विभाग के बैनर तले विश्वविद्यालय के 21 वें स्थापना सप्ताह को मनाने के क्रम में पहले दिन डॉ. यशवंत गहलोत के निर्देशन में बैडमिंटन और टेबल टेनिस प्रतियोगिताएं हुई जिनमें यूटीडी एमजीएसयू शैलेश, डूंगर कॉलेज की वंशिका, जैन कॉलेज के इंद्रजीत और डीपी टीटी कॉलेज से फराह विजेता बने। इसी दिन डॉ. धर्मेश हरवानी के निर्देशन में हुई योग प्रतियोगिता में एमएस कॉलेज की महिला टीम तो एमसीएस यूनिवर्सिटी की पुरुष टीम का प्रदर्शन सर्वश्रेष्ठ रहा।
दूसरे दिन डॉ. ज्योति लखानी व फौजा सिंह के नेतृत्व में म्हारो राजस्थान थीम पर हुई प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता में बेसिक कॉलेज के भावना व भास्कर आचार्य ने प्रथम स्थान प्राप्त किया।
तीसरे दिन डॉ. प्रगति सोबती व डॉ. लीला कौर के नेतृत्व में आयोजित पोस्टर और रंगोली प्रतियोगिता में रामपुरिया कॉलेज की काजल गुर्जर और पूर्णिमा बुच्चा ने परचम फहराया तो जैन कन्या कलेज की गुरमीत कौर भी संयुक्त रूप से विजेता घोषित की गई।
चौथे दिन डॉ. अनिल दुलार, डॉ. सीमा व अमरेश सिंह के निर्देशन में हुई कविता पाठ, निबंध व भाषण प्रतियोगिताओं में क्रमश: डीएवी टीटी कॉलेज, श्रीगंगानगर की सुप्रीत कौर, अग्रसेन डिग्री कॉलेज, भादरा के अभिमन्यु और मुरलीधर व्यास राजकीय महाविद्यालय की भूमि कौशिक ने प्रथम स्थान प्राप्त किया।
पांचवे दिवस डॉ. गौतम कुमार व डॉ. संतोष के नेतृत्व में आयोजित गायन प्रतियोगिता में एमकॉम, एमजीएसयू के छात्र भव्य मेहता तो युगल गायन में चौधरी बल्लूराम गोदारा राजकीय महाविद्यालय, श्रीगंगानगर विजेता घोषित किए गए।
अंतिम दिन 6 जून को डॉ. मेघना शर्मा व उमेश शर्मा के निर्देशन में आयोजित एकल नृत्य प्रतियोगिता में सेठ बिहानी कॉलेज, श्रीगंगानगर के राधेश्याम तो एमजीएस यूनिवर्सिटी से रूपाली, जगदीश और एनएसपी कॉलेज के विनय के साथ एमएस कॉलेज की सुजाता समूह नृत्य में विजेता घोषित किए गए।
प्रतियोगिता के निर्णायक नृत्य के क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त डॉ. श्रेयांस जैन व प्रसिद्ध लोक नृत्यांगना डॉ. राजभारती शर्मा रहे।
सभी प्रतियोगिताओं के अंत में एसोसिएट डीन डॉ प्रभु दान चारण ने सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया।
डीन डॉ शर्मा ने आगे बताया कि समस्त प्रतियोगिताओं के प्रथम स्थान प्राप्त विजेताओं को 7 जून को राज्यपाल कलराज जी मिश्र द्वारा मंच से दीक्षांत समारोह से पूर्व सम्मानित किया जाएगा।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

error: Content is protected !!