NATIONAL NEWS

एअर इंडिया एक्सप्रेस के केबिन क्रू ने हड़ताल वापस ली:बर्खास्त 25 कर्मचारी बहाल होंगे; 7 मई को 200 क्रू-मेंबर्स छुट्टी पर चले गए थे

TIN NETWORK
TIN NETWORK

एअर इंडिया एक्सप्रेस के केबिन क्रू ने हड़ताल वापस ली:बर्खास्त 25 कर्मचारी बहाल होंगे; 7 मई को 200 क्रू-मेंबर्स छुट्टी पर चले गए थे

नई दिल्ली

एअर इंडिया एक्सप्रेस के कर्मचारियों ने गुरुवार शाम 8 बजे हड़ताल वापस ले ली। चीफ लेबर कमिश्नर ने कहा कि एयरलाइन बर्खास्त 25 कर्मचारियों को नौकरी पर वापस लेगी।

एअर इंडिया एक्सप्रेस के 200 से ज्यादा क्रू-मेंबर्स 7 मई की रात को अचानक छुट्टी पर चले गए थे। बुधवार से ही काम पर नहीं आ रहे थे। इन सभी कर्मचारियों ने एक साथ पहले सिक लीव अप्लाई की और अपना मोबाइल फोन ऑफ कर लिया था। इस वजह से मंगलवार रात से 170 से ज्यादा उड़ानें रद्द की गईं।

एयरलाइन ने आज सुबह 10 बजे 25 कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया। एयरलाइन ने बाकी कर्मचारियों से कहा कि आज शाम 4 बजे तक नौकरी पर लौट आएं। ऐसा न करने पर सबको निकाल दिया जाएगा।

लेबर कमिश्नर ने मीटिंग बुलाई, फिर बात बनी

चीफ लेबर कमिश्नर के ऑफिस में एयरलाइन और एअर इंडिया एक्सप्रेस कर्मचारी यूनियन के प्रतिनिधियों की बैठक हुई।

चीफ लेबर कमिश्नर के ऑफिस में एयरलाइन और एअर इंडिया एक्सप्रेस कर्मचारी यूनियन के प्रतिनिधियों की बैठक हुई।

एयरलाइन के इस पूरे विवाद में चीफ लेबर कमिश्नर ने मध्यस्थता की। एयरलाइन और एअर इंडिया एक्सप्रेस कर्मचारी यूनियन के प्रतिनिधियों के बीच दिल्ली के द्वारका स्थित चीफ लेबर कमिश्नर ऑफिस में मुलाकात हुई। इसमें दोनों पक्षों के बीच हड़ताल वापस लेने और बर्खास्त कर्मचारियों की बहाली पर सहमति बनी।

समस्याओं का समाधान नहीं हुआ तो 28 मई को मीटिंग होगी

बैठक के बाद भारतीय मजदूर संघ के सचिव गिरीश चंद्र आर्य ने मीडिया से बात की।

बैठक के बाद भारतीय मजदूर संघ के सचिव गिरीश चंद्र आर्य ने मीडिया से बात की।

भारतीय मजदूर संघ के सचिव गिरीश चंद्र आर्य ने कहा, ‘चीफ लेबर कमिश्नर ने हमें सुलह के लिए बुलाया था। मैनेजमेंट से सीनियर मेंबर्स आए और यूनियन से भी मेंबर्स आए। सभी समस्याओं पर चर्चा हुई और 25 क्रू मेंबर्स के टर्मिनेशन को तत्काल प्रभाव से वापस लेने का फैसला लिया गया। सभी क्रू मेंबर्स प्रोसिजर को फॉलो करते हुए फौरन ड्यूटी पर वापस आएंगे। इसके साथ ही जो भी समस्या है वह अपने हायर मैनेजमेंट के साथ बैठकर चर्चा करेंगे और समाधान करेंगे। यदि किसी भी समस्या का समाधान नहीं होता है तो 28 मई को मीटिंग होगी।’

सवाल-जवाब में पैसेंजर्स की परेशानी और एअर इंडिया एक्सप्रेस संकट

सवाल: कितने शहरों में फ्लाइट्स कैंसिल, कितने पैसेंजर्स प्रभावित?
जवाब: 
10 शहरों में। नई दिल्ली, श्रीनगर, गुवाहाटी, बेंगलुरु, गोवा, तिरुवनंतपुरम, कोच्चि, कालीकट, कुन्नूर और कोझिकोड। 15 हजार से ज्यादा पैसेंजर्स प्रभावित हुए।

सवाल: क्या आज भी फ्लाइट्स कैंसिल होंगी, आगे क्या होगा?
जवाब: आज की उड़ानें कैंसिल की जाएंगी। एयरलाइन जल्द आगे का अपडेट देगी।

सवाल: परेशान हुए पैसेंजर्स के लिए एयरलाइन ने क्या किया?
जवाब: 
प्रभावित पैसेंजर्स को या तो एयरलाइन से पूरा रिफंड मिलेगा या वे बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के अपनी उड़ान को री-शेड्यूल्ड कर सकेंगे।

सवाल: आगे पैसेंजर्स को परेशानी ना हो, इसके लिए क्या किया?
जवाब: यात्रियों को एयरपोर्ट पहुंचने से पहले एयरलाइन से संपर्क करने की सलाह दी, ताकि वे फ्लाइट कन्फर्म कर सकें। वेबसाइट पर चेक स्टेटस का ऑप्शन है। ग्लोबल कॉल सेंटर नंबर्स 080-46662222 080-67662222 भी हैं।

सवाल: देश और विदेश की कितनी फ्लाइट्स हैं?
जवाब: एयरलाइन के 70 प्लस एयरक्राफ्ट हैं। रोजाना 300 से ज्यादा और हफ्ते में 2500 फ्लाइट्स ऑपरेट की जाती हैं। देश के 31 और विदेश के 14 शहरों में फ्लाइट्स ऑपरेट होती हैं।

सवाल: संकट क्यों नहीं संभाला, फ्लाइट्स क्यों कैंसिल की जा रही थीं?
जवाब: 
क्रू-मेंबर्स ने सिक लीव का ई-मेल करने के बाद मोबाइल बंद कर लिए थे, एयरलाइन उनसे संपर्क नहीं कर पाई। स्टाफ की कमी से उड़ानें कैंसिल करनी पड़ी थी। अब संकट टल गया।

सवाल: कर्मचारी क्यों नाराज थे?
जवाब: कर्मचारी संगठन AIXEU ने एअर इंडिया चेयरमैन चंद्रशेखरन से कहा था कि जनवरी 2022 में टाटा ने टेकओवर किया, हालात बिगड़ गए। सैलरी का बड़ा हिस्सा PLI (प्रदर्शन का आधार) में चला गया। सीनियर भेदभाव बरतते हैं। प्रमोशन पॉलिसी ठीक नहीं। एआईएक्स कनेक्ट और विस्तारा का एअर इंडिया में मर्जर एअर इंडिया के मूल कर्मचारियों के खिलाफ है।

सवाल: संकट खत्म करने के लिए 9 मई को क्या कदम उठाए गए?
जवाब: 
एविएशन मिनिस्ट्री ने गुरुवार को इस संकट पर एयरलाइन से रिपोर्ट मांगी और तेजी से इसे सुलझाने के लिए कहा। बाद में सेंट्रल लेबर कमिश्नर ने एअर इंडिया मैनेजमेंट और वर्कर्स यूनियन के बीच बातचीत कराई। बैठक में कर्मचारी काम पर लौटने के लिए तैयार हो गए है। उधर मैनेजमेंट ने कहा कि कर्मचारियों की मांगों पर विचार किया जाएगा और उन्हें हल किया जाएगा।

टाटा ग्रुप की विस्तारा ने पिछले महीने 110 उड़ानें रद्द की थीं
टाटा ग्रुप की एक और एयरलाइन विस्तारा ने पिछले महीने 110 उड़ानें रद्द की थीं। वहीं, 160 से ज्यादा फ्लाइट लेट हुई थीं। कंपनी के प्रवक्ता ने बताया था कि, ‘विस्तारा फिलहाल पायलटों की कमी से जूझ रही है। ऐसे में उड़ानों में कटौती करने का फैसला किया गया है। जब तक पायलट की कमी दूर नहीं हो जाती, तब तक लिमिटेड फ्लाइट्स ही ऑपरेट की जाएंगी। कैंसिल हुई फ्लाइट के यात्रियों को कंपनी रिफंड भी देगी।’

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

error: Content is protected !!