NATIONAL NEWS

गैंगस्टर गोल्डी बराड़ और लॉरेंस बिश्नोई गैंग पर बड़ा एक्शन:राजस्थान समेत अलग-अलग राज्यों से 9 बदमाश गिरफ्तार, जयपुर में ज्वेलर का बेटा अरेस्ट

TIN NETWORK
TIN NETWORK

गैंगस्टर गोल्डी बराड़ और लॉरेंस बिश्नोई गैंग पर बड़ा एक्शन:राजस्थान समेत अलग-अलग राज्यों से 9 बदमाश गिरफ्तार, जयपुर में ज्वेलर का बेटा अरेस्ट

जयपुर

लॉरेंस बिश्नोई (बाएं) फिलहाल दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद है। वहीं, गोल्डी बराड़ अमेरिका में है। इसने लॉरेंस बिश्नोई के जरिए पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या करवाई थी।​​​​​​​ - Dainik Bhaskar

लॉरेंस बिश्नोई (बाएं) फिलहाल दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद है। वहीं, गोल्डी बराड़ अमेरिका में है। इसने लॉरेंस बिश्नोई के जरिए पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या करवाई थी।​​​​​​​

देश के सात राज्यों में गैंगस्टर गोल्डी बराड़ और लॉरेंस विश्नोई के सिंडिकेट पर दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने एक साथ कार्रवाई की है। कुल 9 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इनमें जयपुर से भी एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया है, जिसके पिता ज्लेवर हैं। पुलिस टीम ने इन बदमाशों के पास से 7 पिस्टल, 31 कारतूस और 11 मोबाइल फोन जब्त किए हैं।

बुधवार सुबह से शाम तक दिल्ली, राजस्थान, मध्य प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और बिहार में रेड की गई थी। जांच में सामने आया कि गिरफ्तार सभी आरोपी एक-दूसरे के संपर्क में थे। अधिकांश आरोपियों की गोल्डी बराड़ से सीधे बात होती थी। गोल्डी से मिलने वाले डायरेक्शन पर ये लोग हर प्रकार का काम किया करते थे।

सोशल मीडिया के जरिए गैंगस्टर्स से जुड़ा

दिल्ली पुलिस ने जयपुर से अभय सोनी उर्फ ​​कार्तिक उर्फ ​​कबीर (22) को गिरफ्तार किया है। वह चित्रकूट थाना इलाके में राम पथ का रहने वाला है। उसने 10वीं तक पढ़ाई की है। पैसों की समस्या के कारण उसने फेसबुक पर राजस्थान शूटर्स के नाम से एक ग्रुप बनाया। डकैती और अन्य अपराध करने के लिए अन्य आरोपियों के संपर्क में आया।

दिल्ली से पकड़े गए आरोपी

दिल्ली से जसप्रीत सिंह उर्फ ​​राहुल (25) को गिरफ्तार किया गया है। वह रसूलपुर कलां का रहने वाला है। जसप्रीत को दिल्ली के शास्त्री पार्क से गिरफ्तार किया गया है। इसके पास से 32 बोर की एक पिस्तौल और 4 जिंदा कारतूस मिले हैं। जसप्रीत ने 12वीं तक की पढ़ाई की है। वह पहले भी दो आपराधिक मामलों में शामिल रहा है।

दिल्ली से पकड़ा गया दूसरा आरोपी धर्मेंद्र उर्फ ​​कार्तिक है। जो पोस्ट संडवा के गांव पतरा का रहने वाला है। इसे दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन के पास से गिरफ्तार किया गया। इसके पास से .32 बोर की एक सिंगल शॉट पिस्टल और 3 जिंदा कारतूस मिले हैं। धर्मेंद्र ने 7वीं क्लास तक पढ़ाई की है।

वह कोयंबटूर में एक कोल्ड स्टोरेज में काम कर रहा था। एमपी के उज्जैन के गैंगस्टर दुर्लभ कश्यप का गुर्गा था। दुर्लभ की 2020 में हत्या कर दी गई थी। फेसबुक पर विभिन्न समूहों में शामिल हो गया। खुद को आपराधिक गतिविधियों में शामिल कर लिया।

हरियाणा से गिरफ्तारी

हरियाणा से आरोपी मंजीत (24) को गिरफ्तार किया गया। जो हरियाणा के सोनीपत स्थित वीपीओ बरोटा का रहने वाला है। इसे यूपी के अलीगढ़ स्थित गांव खीरी दहिया से गिरफ्तार किया गया। मंजीत 9वीं पास है। लॉरेंस विश्नोई गैंग से प्रेरित था। गैंग के सदस्यों को हथियार सप्लाई कर रहा था।

पुलिस गिरफ्त में सभी 9 आरोपी। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि गैंग से जुड़े दूसरे गुर्गों पर भी उनकी नजर है।

पुलिस गिरफ्त में सभी 9 आरोपी। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि गैंग से जुड़े दूसरे गुर्गों पर भी उनकी नजर है।

पंजाब से गिरफ्तारी

पंजाब से आरोपी गुरपाल सिंह (26) को गिरफ्तार किया गया। जो डेरा बस्सी के ग्राम खेड़ी गुजरान का रहने वाला है। इसे डेरा बस्सी के एसएएस नगर से गिरफ्तार किया गया। इसके पास से .32 बोर की पिस्तौल और 6 जिंदा कारतूस मिली है। गुरपाल ने 12वीं तक पढ़ाई की है।

डेरा बस्सी के ही मंजीत सिंह गुरी (22) को गिरफ्तार किया गया है। इसे भी डेरा बस्सी के एसएएस नगर से गिरफ्तार किया गया। मंजीत 8वीं क्लास तक पढ़ा है। वह पहले भी तीन केस में शामिल रहा है। जेल में बंद रहने के दौरान साथी कैदी पर हमला कर चुका है। मंजीत गांव के ही अजय राणा के जरिए गोल्डी बराड़ के संपर्क में आया था।

नवंबर 2023 में गोल्डी बराड़ के कहने पर मंजीत आरोपी गुरपाल के साथ पंजाब के जीरकपुर में एक प्रॉपर्टी डीलर की हत्या करने गया था। प्रॉपर्टी डीलर ने गोल्डी बराड़ और लॉरेंस बिश्नोई गैंग को रंगदारी देने से मना कर दिया था। जब मंजीत और गुरपाल रास्ते में थे तो जीरकपुर में पुलिस ने उन्हें रोक लिया। उन्होंने पुलिस टीम पर गोलीबारी की थी। जवाबी कार्रवाई में मंजीत को गोली लग गई, जबकि गुरपाल मौके से भागने में सफल रहा था। बाद में उसे गिरफ्तार कर लिया गया था।

उत्तर प्रदेश से गिरफ्तारी

उत्तर प्रदेश से सचिन कुमार उर्फ ​​राहुल (26) पुत्र रामबरन को गिरफ्तार किया गया। जो यूपी के राय बरेली स्तिथ मोहल्ला बरईपुर का रहने वाला है। इस यूपी के लखनऊ में सीतापुरा रोड स्तिथ शक्ति पुरमसे गिरफ्तार किया गया। आरोपी से पुलिस ने 32 बोर की एक पिस्तौल और 6 जिंदा कारतूस के साथ पकड़ा। सचिन कुमार 12वीं पास है। आईटीआई डिप्लोमा भी किया है। 2014 में में भी राय बरेली में डकैती डाल चुका है। आरोपी हथियार सप्लायर है। लॉरेंस विश्नोई गैंग के बदमाशों को हथियार सप्लाई करता था।

सचिन के साथ एक किशोर को भी पकड़ा गया। इसके पास से पुलिस ने .32 बोर की एक पिस्तौल और 5 जिन्दा कारतूस मिली है।

मध्यप्रदेश से गिरफ्तारी

मध्य प्रदेश से पुलिस ने संतोष उर्फ ​​सुल्तान बाबा (20) को गिरफ्तार किया है। जो मध्यप्रदेश के बड़वानी जिले के ठीकरी में स्थित गांव खुर्रमपुरा का रहने वाला है। इसे रतलाम रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार किया गया। आरोपी के पास से पुलिस ने 32 बोर की एक पिस्तौल और चार जिंदा कारतूस मिले हैं। संतोष एक ट्रांसपोर्ट कंपनी में हेल्पर का काम करता था। मध्य प्रदेश के उज्जैन के गैंगस्टर दुर्लभ कश्यप का गुर्गा था। उसकी 2020 में हत्या कर दी गई थी। इसके बाद संतोष फेसबुक पर विभिन्न समूहों में शामिल हो गया। खुद को आपराधिक गतिविधियों में शामिल कर लिया।

बिहार में गिरफ्तारी

बिहार से पुलिस ने आरोपी संतोष कुमार (27) को गिरफ्तार किया है। जो बिहार के वैशाली स्थित मुसापुर गांव का रहने वाला है। आरोपी को उसी के गांव से गिरफ्तार किया गया। संतोष कुमार बीएससी कर चुका है। हथियार सप्लायर है। गोल्डी बराड़ और लॉरेंस विश्नोई गैंग के बदमाशों को हथियार सप्लाई करता था।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

error: Content is protected !!